Create

4 कारण क्यों WWE का Hell in a Cell 2019 में The Fiend vs Seth Rollins मैच बहुत ज्यादा विवादित रहा

द फीन्ड ब्रे वायट और सैथ रॉलिंस
द फीन्ड ब्रे वायट और सैथ रॉलिंस

WWE सुपरस्टार सैथ रॉलिंस (Seth Rollins) को पूरी दुनिया में देखा और पसंद किया जाता है। वो जब भी रिंग में आते हैं तो फैंस को कुछ अच्छा होने की उम्मीद रहती है और वह हर बार सभी की उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करते हैं। पिछले कुछ सालों में सैथ रॉलिंस कई शानदार मैचों का हिस्सा रहे हैं। कोई भी परफेक्ट नहींं है और सैथ रॉलिंस के लिए भी ऐसा ही कहा जा सकता है।

अपने WWE करियर में कुछ जगहों पर सैथ रॉलिंस से भी गलतियां हुई है। ऐसी ही एक गलती Hell in a Cell 2019 में हुई जब सैथ रॉलिंस का द फीन्ड से मैच हुआ था। यह Hell in a Cell के इतिहास का सबसे खराब मैच माना गया है। इस आर्टिकल में हम 4 कारण जानेंगे कि क्यों सैथ रॉलिंस और द फीन्ड के बीच मुकाबला काफी विवादित रहा।

4- WWE का इस मैच में रेड लाइटिंग इस्तेमाल करने का निर्णय

लाल रंग मतलब खतरा
लाल रंग मतलब खतरा

WWE शुरू से ही द फीन्ड के मैचों में रेड लाइट का प्रयोग कर रहा है और कंपनी कुछ समय के लिए इसके साथ बनी भी रही। जिसने भी इस मैच को लाइव देखा उसे कुछ साफ नहींं दिखने की शिकायत थी। हालांकि, कुछ ही हफ्तों बाद रेड लाइट को हटा दिया गया था। WWE ने इस मैच में रेड लाइट को उपयोग करके जरूर निराश किया था और यह कंपनी की एक बड़ी गलती मानी जा सकती है।

3- द फीन्ड को ज्यादा फिनिशर्स लगाना

youtube-cover

इस मैच को देखकर ऐसा लग रहा था कि सैथ रॉलिंस और द फीन्ड Hell in a Cell में समय के किसी मायाजाल में फंस गए हो। सैथ रॉलिंस लगातार स्टॉम्प देते जा हे थे और द फीन्ड उसे बिना सेल किए उठ रहे थे। पूर्व यूनिवर्सल चैंपियन के सभी फिनिशर्स को द फीन्ड किकआउट कर रहे थे। इस बात को माना जा सकता है कि WWE क्रिएटिव टीम द फीन्ड को मॉन्स्टर के रूप में बहुत ही ताकतवर दिखाना चाहती थी। हालांकि, इससे सैथ को नुकसान हो रहा था।

2- नो DQ मैच होने के बावजूद सैथ रॉलिंस डिसक्वालीफाई हो गए

What will it take for @WWERollins to defeat "The Fiend" @WWEBrayWyatt?! #HIAC https://t.co/Y3shRDPQQN

WWE कमेंटेटर्स को आपने मैच शुरू होने के पहले उस मुकाबले की शर्त के बारे में जानकारी देते हुए हजारों बार सुना होगा। Hell in a Cell में स्टॉपेज जैसी कोई चीज नहींं होती है और इसी कारण किसी को यह फिनिश पसंद नहींं आया। सैथ रॉलिंस ने द फीन्ड पर स्लेजहैमर से हमला किया और इसके बाद रेफरी ने उन्हें डिसक्वालीफाई कर दिया, जबकि यहां गौर करने वाली बात यह थी कि फीन्ड ने थोड़ी ही देर पहले सैथ रॉलिंस पर उससे भी बड़े स्लेजहैमर से जोरदार हमला किया था। यह एक बहुत ही खराब मैच था जिसके बाद वहां बैठे फैंस ने रिफंड और मैच को रीस्टार्ट करने की चैंट्स लगाना शुरू कर दी।

1- द फीन्ड और सैथ रॉलिंस का मोमेंटम खत्म हो गया था

Hell in a Cell मैच के दौरान रॉलिंस और फीन्ड
Hell in a Cell मैच के दौरान रॉलिंस और फीन्ड

इसमें किसी भी प्रकार का संदेह नहींं है कि फीन्ड 2019 में रेसलिंग की दुनिया के सबसे जबरदस्त कैरेक्टर थे। सैथ रॉलिंस और द फीन्ड के बीच शानदार स्टोरीलाइन चल रही थी लेकिन एक मैच ने सबकुछ बिगाड़ दिया। फीन्ड का यूनिवर्सल चैंपियनशिप की स्टोरीलाइन में दिखना क्रिएटिव टीम का अच्छा निर्णय था लेकिन इस मैच ने फीन्ड के द्वारा बनाए गए मोमेंटम को तोड़ दिया। इस मैच से किसी को फायदा नहींं मिला। मैच के बाद फैंस का सैथ रॉलिंस को बू करना उनके हील टर्न की बड़ी वजह बनी वहीं ब्रे वायट को 2021 में WWE से निकाल दिया गया।

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को हमारे Facebook page पर पाएं।

Quick Links

Edited by Ujjaval
Be the first one to comment