Create

4 कारणों से WWE को भारतीय सुपरस्टार्स को शामिल कर ज्यादा इवेंट्स बुक करने चाहिए

भारतीय सुपरस्टार्स को शामिल कर WWE को करवाने चाहिए इवेंट्स
भारतीय सुपरस्टार्स को शामिल कर WWE को करवाने चाहिए इवेंट्स
reaction-emoji
Neeraj sharma

भारत दुनिया में सबसे ज्यादा जनसंख्या के मामले में दूसरे स्थान पर आता है, जिसके कारण इस देश को लगभग हर बिजनेस क्षेत्र में सबसे बड़े मार्केट के रूप में देखा जाता है, WWE दुनिया का सबसे बड़ा प्रो रेसलिंग प्रोमोशन है और इसके शोज़ को दुनिया में करोड़ों लोग देखते हैं।

भारत भी WWE के सबसे बड़े मार्केट्स में से एक है, फिर भी यहां की जनसंख्या की तुलना में कंपनी में भारतीय रेसलर्स की संख्या कम है। उससे भी खराब बात ये है कि जितने भी भारतीय रेसलर्स WWE में काम कर रहे हैं, उनमें से कुछ ही मेन रोस्टर तक का सफर तय कर पाए हैं। आपको याद दिला दें कि इसी साल WWE ने केवल भारतीय फैंस के लिए सुपरस्टार स्पेक्टेकल (Superstar Spectacle) नाम के इवेंट का आयोजन किया था।

इवेंट के बाद WWE ने बड़ी जानकारी देते हुए कहा था कि उस इवेंट को 20 मिलियन से भी अधिक लोगों ने लाइव देखा था। ये कंपनी के लिए बहुत बड़े फायदे का सौदा रहा। उसी बात को ध्यान में रखते हुए इस आर्टिकल में हम उन 4 कारणों के बारे में आपको बताएंगे कि क्यों WWE को भारतीय सुपरस्टार्स को शामिल कर ज्यादा इवेंट्स का आयोजन करवाना चाहिए।

WWE को अच्छी व्यूअरशिप मिलेगी

जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया कि भारत दुनिया में सबसे ज्यादा जनसंख्या के मामले में दूसरे स्थान पर आता है। जाहिर तौर पर जो भी कंपनी यहां अपने पैर पसारने में सफल रही, उसे भविष्य में बहुत ज्यादा फायदा मिलने की संभावना होती है। WWE भी पिछले कई सालों से भारत में परफॉरमेंस सेंटर खोलने का प्लान तैयार कर रही है।

आपको बता दें कि WWE के वीकली शोज़ Raw और SmackDown हर हफ्ते 2 से 2.5 मिलियन से बीच व्यूअरशिप बटोरते हैं। वहीं जब FOX नेटवर्क पर SmackDown का डेब्यू हुआ तो करीब 3.9 मिलियन लोगों ने शो को लाइव देखा था। उसकी तुलना में 20 मिलियन की संख्या बहुत ज्यादा है, जिससे भविष्य में कंपनी को फायदा ही होगा। इसलिए विंस मैकमैहन को भारतीय सुपरस्टार्स पर आधारित ज्यादा इवेंट्स का आयोजन करवाना चाहिए।

WWE का फैन बेस बढ़ेगा

साल 2019 में WWE का सोशल मीडिया फैन बेस 1 बिलियन को क्रॉस कर गया था। उस बातों को 2 साल बीत चुके हैं, उसके बाद जाहिर तौर पर कंपनी के फैंस की संख्या में इजाफा ही हुआ होगा। WWE अभी अपने फैनबेस को और भी नई ऊंचाइयों तक ले जा सकती है और उनके सामने अभी 1 अरब से भी अधिक भारतीय लोगों को अपने साथ जोड़ने का मौका है। लेकिन कंपनी का भारतीय फैनबेस तभी बढ़ सकता है जब WWE भारतीय सुपरस्टार्स के लिए खास इवेंट्स का आयोजन करवाए।

भारतीय युवाओं को प्रो रेसलिंग में आने का बढ़ावा मिलेगा

द ग्रेट खली के WWE इतिहास के सबसे पहले वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद भारतीय प्रो रेसलिंग सीन को काफी बढ़ावा मिला था। वहीं 2017 में जिंदर महल के चैंपियन बनने के बाद प्रो रेसलिंग के प्रति दिलचस्पी दिखाने वाले भारतीय रेसलर्स की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। अपने देश के रेसलर्स को इतने बड़े लेवल पर परफॉर्म करते देखना भला किसे पसंद नहीं होगा। अपने देश के सुपरस्टार्स को जब करोड़ों भारतीय लोग WWE में परफॉर्म करते देखेंगे, तो सीधे तौर पर कंपनी को ज्यादा मुनाफा होगा।

भारत में WWE के लिए परफॉरमेंस सेंटर खोलना आसान हो जाएगा

WWE पिछले काफी समय से भारत में इवेंट्स का आयोजन करती आ रही है। आखिरी बार भारत में कोई WWE शो साल 2017 में हुआ था। दुर्भाग्यवश इन शोज़ के बावजूद भारत में WWE ने कोई परफॉरमेंस सेंटर स्थापित नहीं किया है। इसी साल एक इंटरव्यू में ट्रिपल एच ने NXT India की स्थापना पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा था कि वो और उनकी टीम भविष्य में ऐसा जरूर करना चाहेगी।

अगर WWE नियमित रूप से भारतीय सुपरस्टार्स पर आधारित इवेंट्स का आयोजन करवाएगी, तो ज्यादा लोग उन्हें देखने आएंगे। एरीना में बढ़ते क्राउड को देखते हुए WWE के लिए यहां NXT India या परफॉरमेंस सेंटर खोलना आसान हो जाएगा।

Edited by Neeraj sharma
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...