Create

WWE के 4 बड़े सुपरस्टार्स जो कॉम्बैट स्पोर्ट्स बैकग्राउंड से आते हैं

WWE सुपरस्टार्स जो कॉम्बैट स्पोर्ट्स बैकग्राउंड से आते हैं
WWE सुपरस्टार्स जो कॉम्बैट स्पोर्ट्स बैकग्राउंड से आते हैं
Neeraj sharma

WWE दुनिया का सबसे बड़ा प्रो रेसलिंग प्रोमोशन है और यहां जगह बनाना युवा रेसलर्स के लिए जैसे बहुत बड़े सपने के सच होने जैसा है। मगर ऐसा नहीं है कि उनका करियर WWE से ही शुरू हो गया था, किसी रेसलर ने यहां आने से पहले कई अन्य प्रोमोशंस में काम किया था तो कुछ अन्य खेलों से जुड़े हुए थे।

गोल्डबर्ग (Goldberg), रोमन रेंस (Roman Reigns) WWE में आने से पहले अमेरिकी फुटबॉल लीग NFL में खेला करते थे। वहीं भारतीय सुपरस्टार रिंकू सिंह (Rinku Singh) प्रोफेशनल बेसबॉल खिलाड़ी हुआ करते थे। इसी तरह कई अन्य रेसलर्स भी विंस मैकमैहन (Vince Mcmahon) के प्रोमोशन में आने से पहले दूसरे खेल खेला करते थे।

हालांकि WWE एक प्रोफेशनल कॉम्बैट स्पोर्ट नहीं है, लेकिन रेसलर्स को रिंग में रेसलिंग करनी होती है। कुछ ऐसे सुपरस्टार्स हैं जो यहां आने से पहले कॉम्बैट स्पोर्ट्स में काफी अनुभव हासिल कर चुके थे। इसलिए आइए जानते हैं उन 4 बड़े WWE सुपरस्टार्स के बारे में जो कॉम्बैट स्पोर्ट्स बैकग्राउंड से आते हैं।

WWE सुपरस्टार शायना बैज़लर

आज शायना बैज़लर को WWE की सबसे बेहतरीन विमेंस इन रिंग परफॉरमर्स में जगह दी जाती है, लेकिन ये स्किल्स उन्हें अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स (MMA) बैकग्राउंड की वजह से मिली हैं। उनका MMA करियर साल 2006 में शुरू हो चुका था, जहां उनका जीत-हार रिकॉर्ड 15-11 का रहा। वो अपने करियर में UFC और ShoxC जैसे बड़े मार्शल आर्ट्स प्रोमोशंस में फाइट कर चुकी हैं।

UFC को जॉइन करने के बाद उनका रिकॉर्ड 0-2 का था। लगातार 2 मैचों में हार के बाद उन्होंने UFC ने रिलीज़ कर दिया, जिसके बाद बैज़लर ने प्रो रेसलिंग की राह चुनी। 2017 में उन्होंने WWE को जॉइन किया, जहां वो अभी तक NXT विमेंस और WWE विमेंस टैग टीम चैंपियन बन चुकी हैं। अब फैंस को उम्मीद है कि वो एक दिन Raw या SmackDown विमेंस चैंपियन भी जरूर बनेंगी।

डॉल्फ जिगलर

डॉल्फ जिगलर एक एमेच्योर रेसलर हुआ करते थे
डॉल्फ जिगलर एक एमेच्योर रेसलर हुआ करते थे

बहुत कम लोग इस बात से वाकिफ होंगे कि जिगलर बचपन से ही प्रो रेसलिंग के बड़े फैन रहे हैं। जिगलर अपने स्कूल के दिनों में एमेच्योर रेसलिंग किया करते थे। उन्होंने St. Edward High School से पढ़ाई की, जिसके लिए रेसलिंग करते हुए उन्होंने 82 मैचों में पिन के जरिए जीत का रिकॉर्ड बनाया था। उस समय उनकी टीम 2 बार नेशनल चैंपियन भी बनी थी। वहीं Kent यूनिवर्सिटी के लिए रेसलिंग करते हुए वो 3 बार All-Mid-American Conference चैंपियन बने।

बैरन कॉर्बिन

WWE में आने से पहले बैरन कॉर्बिन एक बॉक्सर थे
WWE में आने से पहले बैरन कॉर्बिन एक बॉक्सर थे

WWE फैंस बैरन कॉर्बिन को एक हील रेसलर होने के चलते ज्यादा पसंद नहीं करते। ये बात शायद आपने कई बार सुनी होगी कि WWE में आने से पहले कॉर्बिन एक NFL प्लेयर हुआ करते थे, लेकिन आपको बता दें कि वो एक बेहतरीन बॉक्सर भी रहे हैं। अपने बॉक्सिंग करियर में वो 2 बार रीज़नल लेवल पर एमेच्योर बॉक्सिंग में गोल्डन-ग्लव्स चैंपियन रहे हैं। उन्होंने साल 2012 में WWE को जॉइन किया था, कुछ समय NXT में काम करने के बाद उन्हें मेन रोस्टर में जगह मिली, जहां वो बड़े हील सुपरस्टार बन चुके हैं।

ब्रॉक लैसनर

ब्रॉक लैसनर ने एमेच्योर रेसलिंग में कई चैंपियनशिप जीतीं
ब्रॉक लैसनर ने एमेच्योर रेसलिंग में कई चैंपियनशिप जीतीं

ब्रॉक लैसनर भी WWE में आने से पहले NFL में अमेरिकन फुटबॉल खेला करते थे। मगर प्रोफेशनल रेसलिंग में आने से पहले लैसनर एमेच्योर रेसलिंग से भी जुड़े हुए थे। हाई स्कूल के लिए एमेच्योर रेसलिंग करते हुए उनका रिकॉर्ड 33-0 का रहा था। उस समय वो NJCAA जूनियर हैवीवेट रेसलिंग चैंपियन भी बने। उन्होंने अपने करियर में और भी कई चैंपियनशिप्स जीतीं और उनका एमेच्योर रेसलिंग रिकॉर्ड 106-5 का रहा।

Edited by Neeraj sharma

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...