Royal Rumble में सैथ रॉलिंस की जीत के 5 बड़े कारण

seth rollins

साल 2019 में WWE का पहला बड़ा पीवीपी रॉयल रम्बल होने वाली है, जो 27 जनवरी (भारत में 28 जनवरी) को देखने को मिलेगी। रॉयल रम्बल WWE द्वारा आयोजित होने वाले चार बड़े पीपीवी में से एक है। रॉयल रम्बल का मुख्य केंद्र 30-मैन एलिमिनेशन मैच होता है।

वैसे तो इस साल होने वाले रॉयल रंबल में कई बड़े रैसलर की WWE में वापसी की अफवाहें फैल रही है। लेकिन उम्मीद यह है कि विजेता सैथ रॉलिंस, ड्रू मैकइंटायर, द रॉक, ब्रॉन स्ट्रोमैन और स्मैकडाउन लाइव के कुछ बड़े रैसलर में से एक हो सकते हैं।

पिछले दिनों WWE ने सैथ रॉलिंस के साथ ऐसा कुछ किया, जिससे वे एक बार फिर यूनिवर्सल चैंपियनशिप की होड़ में नजर आ रहे हैं। चलिए जानते हैं उन पांच बड़े कारणों के बारे में जिससे सैथ राॅलिंस 2019 का रॉयल रंबल जीत कर सभी को चौंका सकते हैं।

#5 सैथ रॉलिंस और ब्रॉक लैसनर के बीच मुकाबला

seth and brock

सैथ रॉलिंस और ब्रॉक लैसनर के बीच मुकाबला हमने इससे पहले भी देखा है। लेकिन उस समय सैथ रॉलिंस का कैरेक्टर एक हील रैसलर के रूप में दिखाया गया था । अब सैथ रॉलिंस एक फेस रैसलर बन चुके हैं और उनकी इन-रिंग स्किल भी पहले की तुलना में काफी बेहतर हो गई है। ऐसे में हर कोई एक बार फिर इन दोनों रैसलर के बीच मुकाबला देखना चाहता है।

सैथ रॉलिंस रॉयल रम्बल 2019 जीत जाएंगे तो उन्हें रैसलमेनिया 35 में जाने का मौका होगा। जहां वह ब्रॉक लैसनर के खिलाफ यूनिवर्सल चैंपियनशिप के लिए लड़ सकते हैं।

Get WWE News in Hindi Here

#4 अभी तक एक बार भी रॉयल रम्बल न जीतना

seth rollins in royal rumble

WWE में अपना डेब्यू करने के बाद से अभी तक सैथ रॉलिंस ने कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। सैथ रॉलिंस ग्रैंड स्लैम चैंपियन भी बन चुके हैं, उन्होंने मनी इन द बैंक ब्रीफकेस भी अपने नाम किया है। यही नहीं वे एकमात्र ऐसे रैसलर हैं, जिनके पास एक ही समय में यूनाइटेड स्टेट चैंपियनशिप और WWE चैंपियनशिप थी। लेकिन अभी तक एक बार भी सैथ रॉलिंस रॉयल रम्बल नहीं जीत पाए हैं।

पिछले साल सैथ रॉलिंस ने रॉयल रम्बल में हिस्सा लिया था। लेकिन उन्हें रोमन रेंस ने मैच से एलिमिनेट कर दिया था। सैथ रॉलिंस लगभग 6 साल से WWE में रैसलिंग कर रहे हैं जबकि इस दौरान वे अपनी इंजरी के कारण मात्र 8 महीने की अवधि के लिये WWE से दूर रहे हैं। यही कारण है कि सैथ रॉलिंस रॉयल रम्बल में जीतना डिज़र्व करते हैं।

#3 कंपनी में रोमन रेंस का स्थान लेना

roman reigns and seth rollins

WWE ने रोमन रेंस को लेकर रैसलमेनिया 35 तक प्लान सोचे थे, लेकिन रोमन रेंस की बीमारी के कारण WWE को इन प्लान में बदलाव करना पड़ा। अगर रोमन रेंस को बीमारी नहीं हुई होती, तो वे वर्तमान में यूनिवर्सल चैंपियन होते। WWE में रोमन रेंस को कंपनी का फेस बनाने के लिए काफी समय लिया था, लेकिन अफसोस अब 2019 के अंत में ही वे हमें देखने को मिल सकते हैं। रोमन रेंस के जाने के बाद WWE कोई अन्य रैसलर को कंपनी का चेहरा बनाना चाहती है और इस मामले में सैथ रॉलिंस वह रैसलर हो सकते हैं।

सैथ रॉलिंस के अंदर वह सभी गुण मौजूद है, जो कंपनी के टॉप रैसलर में होने चाहिए। सैथ रॉलिंस की रैसलिंग परफॉर्मेंस शानदार है, वह माइक के साथ काफी अच्छे प्रोमो दे सकते हैं और साथ में सैथ रॉलिंस को WWE यूनिवर्स का काफी सपोर्ट भी मिलता है। जो सैथ रॉलिंस को WWE कंपनी का बेबी फेस बनाता है।

#2 WWE यूनिवर्स का सपोर्ट

seth rollins

सैथ रॉलिंस WWE के एक ऐसे रैसलर हैं जिन्हें अधिकतर दर्शक पसंद करते हैं। 2018 के एलिमिनेशन चैंबर लाइव इवेंट के पूर्व हुई मंडे नाइट रॉ में हमें 1 गौंटलेट मुकाबला देखने को मिला था और इस मुकाबले में सैथ रॉलिंस ने अकेले ही जॉन सीना और रोमन रेंस को हराया था। भले ही इसके बाद इलायस ने उनको पिन कर दिया हो, लेकिन अपनी इस शानदार प्रदर्शन से सैथ रॉलिंस ने वहां बैठे हुए सभी WWE दर्शकों का दिल जीत लिया।

इस मैच में सैथ रॉलिंस ने लगातार 1 घंटे तक रिंग के अंदर रैसलिंग की जो एक बड़ा रिकॉर्ड है। इस मैच के बाद से ही सैथ रॉलिंस को WWE में काफी पसंद किया जाने लगा।

WWE दर्शकों के अनुसार ही स्टोरीलाइन बनाती है और अगर दर्शक सैथ रॉलिंस को यूनिवर्सल चैंपियन के रूप में देखना चाहते हैं। तब WWE अवश्य ही सैथ रॉलिंस को यूनिवर्सल चैंपियन बनने का मौका देगी।

#1 डीन एम्ब्रोज की स्टोरी लाइन से अलग होना

seth rollins and dean ambrose

22 अक्टूबर को मंडे नाइट रॉ के एपिसोड में हमें टीम शील्‍ड टूटती हुई दिखी, जब रोमन रेंस को अपनी बीमारी के कारण WWE छोड़ कर जाना पड़ा और डीन एंब्रोज़ ने पीछे से सैथ रॉलिंस के ऊपर हमला कर दिया। इसके बाद WWE ने दोनों रैसलर के बीच कुछ मुकाबले दिखाएं।

इस बीच हमें डीन एम्ब्रोज़ और सैथ रॉलिंस के बीच इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप के लिए मुकाबला भी दिखा। जहां डीन एम्ब्रोज़ ने सैथ रॉलिंस को हराकर यह चैंपियनशिप जीत ली। लेकिन पिछले मंडे नाइट रॉ में एक हैरान कर देने वाला मौका तब देखने को मिला, जब बॉबी लैश्‍ले ने डीन एम्ब्रोज़ और सैथ को ट्रिपल थ्रेट मैच में हराकर यह चैंपियनशिप जीत ली। इससे एक बात स्पष्ट हो जाती है कि अब इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप के लिए बॉबी लैश्‍ले और डीन एंब्रोज़ के बीच दुश्मनी देखने को मिलेगी।

जिससे सैथ रॉलिंस इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप की रेस से अलग हो चुके हैं और वह हमें यूनिवर्सल चैंपियनशिप की रेस में देखने को मिलने वाले हैं।