Create

5 कारण क्यों Raw और SmackDown के टाइटल को एक ही किया जा सकता है

Enter caption

रैसलमेनिया 35 के बाद WWE की रेटिंग्स धीरे-धीरे कम हो रही हैं। सुपरस्टार शेक-अप के बाद कई सारे रैसलर्स वाइल्ड कार्ड रूल की मदद से दूसरे ब्रांड पर जा रहे हैं। इस नियम से ब्रांड स्प्लिट का कोई मतलब ही नहीं बनता। WWE ने रॉ और स्मैकडाउन को 2016 में अलग किया था, जिसके बाद रॉ में अलग और स्मैकडाउन में अलग चैंपियनशिप थीं। दोनों ही चैंपियनशिप के लिए अलग-अलग मैच होते हैं।

रैसलमेनिया 35 के बाद रॉ में यूनिवर्सल चैंपियन सैथ रॉलिन्स और WWE चैंपियन कोफी किंग्सटन के बीच टाइटल vs टाइटल मैच देखने को मिला था। जिसके बाद से यह भी चर्चा है कि WWE को दोनों ही ब्रांड्स की चैंपियनशिप को जोड़ देना चाहिए।

हर पीपीवी से करीब 10 टाइटल मैच होते हैं, जिससे वह इवेंट काफी बड़ा हो जाता है। WWE में इतनी सारी चैंपियनशिप होने के कारण इन बेल्ट्स का महत्व और भी कम हो जाता हैं।

इसलिए हम बात करने वाले हैं 5 कारणों की, जिसके चलते WWE रॉ और स्मैकडाउन की सारी चैंपियनशिप को जोड़ सकती है।

#5 ज्यादा मैचों के बदले ज्यादा अच्छे मैच

Bliss vs flair

WWE में हर ब्रांड के पास मुख्य रुप से 5 महत्वपूर्ण टाइटल्स हैं, जिसमें वर्ल्ड चैंपियनशिप, US या IC चैंपियनशिप, विमेंस चैंपियनशिप, टैग टीम चैंपियनशिप और विमेंस टैग टीम चैंपियनशिप शामिल हैं।

WWE के पीपीवी में लगभग सारी चैंपियनशिप डिफेंड होती हैं। इसके लिए WWE को एक साथ कई सारी स्टोरीलाइन पर काम करना पड़ता है। WWE को पीपीवी को समय पर निपटाने की वजह से हर मैच को जल्दी खत्म करना पड़ता है, जिससे क्वालिटी मैच देखने को नहीं मिलते हैं।

अगर WWE दोनों ब्रांड की चैंपियनशिप को जोड़ दे, तो कम मैच देखने को मिलेंगे और यह मैच ज्यादा अच्छी क्वालिटी के होंगे।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4 ब्रांड स्पलिट को खत्म करने की शुरुआत

End

विंस मैकमैहन के वाइल्ड कार्ड रूल से रॉ और स्मैकडाउन के सुपरस्टार अपने ब्रांड बदल सकते हैं। इससे यह बात तो साफ होती है कि WWE ब्रांड स्प्लिट को जल्द ही खत्म कर सकती है।

नए रूल के कारण दोनों ब्रांड्स का अपना कोई अलग महत्व नहीं रहेगा क्योंकि कोई भी रैसलर कहीं भी जा सकता है। इससे ब्रांड स्प्लिट पूरी तरह से समाप्त हो रहा है, इसलिए WWE शायद दोनों ही ब्रांड्स की चैंपियनशिप को एक साथ जोड़ सकती है।


#3 समरस्लैम को बड़ा बनाने के लिए

Slam

WWE इस बार के समरस्लैम को बड़ा बनाने के लिए दोनों ही ब्रांड्स की चैंपियनशिप को इस इवेंट में जोड़ सकती है। समरस्लैम में चैंपियन बनाम चैंपियन मैच देखने को मिल सकता है।

मैच के विजेताओं को दोनों ही ब्रांड की चैंपियनशिप दी जाएगी, जिसके जरिए WWE का ब्रांड स्पलिट भी खत्म हो जाएगा और समरस्लैम पीपीवी कई सालों तक याद रखा जाएगा।

#2 बैकी लिंच की दो चैंपियनशिप का सफल प्रशिक्षण

Becky

बैकी लिंच के पास रॉ और स्मैकडाउन दोनों ही ब्रांड्स की चैंपियनशिप है। WWE ने रैसलमेनिया 35 में बैकी को दोनों बेल्ट्स जितवाई थी।

इन दोनों बेल्ट्स के साथ होने से कम सैगमेंट देखने मिलेंगे। बैकी लिंच की तरह अगर सारे टाइटल एक साथ हो जाते हैं तो ज्यादा मैच के बदले ज्यादा अच्छी स्टोरीलाइन देखे मिलेगी। इससे फैंस के मन में किसी भी प्रकार का उलझन नहीं रहेगी।


#1 सर्वाइवर सीरीज पीपीवी में चैंपियन बनाम चैंपियन मैच को बन्द करना

Champ vs champ

2017 और 2018 में सर्वाइवर सीरीज पीपीवी में हमें चैंपियन बनाम चैंपियन मैच मैच देखने मिले थे। चैंपियन बनाम चैंपियन मैच सुनने और देखने में काफी ज्यादा अच्छा लगता है लेकिन इन मैचों में कोई स्टोरीलाइन नहीं होती। इससे फैंस इन मैचों की ओर आकर्षित नहीं होते हैं।

WWE को चैंपियन बनाम चैंपियन मैच करवाने में बड़ी दिक्कत होती है। शायद इसलिए भी WWE समरस्लैम में बेल्ट्स को जोड़ सकती है।

Quick Links

Edited by विजय शर्मा
Be the first one to comment