WWE चैंपियनशिप से जुड़ी 5 दिलचस्प बातें जिन्हें आप नहीं जानते होंगे

The Rock and Stone Cold Steve Austin

WWE को लंबे समय से फॉलो कर रहे फैंस WWE चैंपियनशिप से अच्छी तरह वाकिफ होंगे। एक सुपरस्टार का सपना होता है कि वह कंपनी में अपने करियर के दौरान कम से कम एक बार WWE चैंपियनशिप तो जरूर जीते। यह कहना गलत नहीं होगा कि प्रोफेशनल रैसलिंग में एक रैसलर के लिए WWE चैंपियनशिप सबसे बड़ा टाइटल है।

कंपनी में इस चैंपियनशिप की शुरूआत साल 1963 में हुई और तब से लेकर अबतक 100 से ज्यादा सुपरस्टार्स इस चैंपियनशिप को अपने नाम कर चुके हैं। बहुत सारे फैंस इस चैंपियनशिप से जुड़ी कई दिलचस्प बातें नहीं जानते होंगे। इसी कड़ी में आज हम बात करने जा रहे हैं WWE चैंपियनशिप से जुड़ी 5 दिलचस्प बातों की जिन्हें आपको जरूर जानना चाहिए।

WWE चैंपियनशिप के इससे पहले 7 अलग-अलग नाम थे

The WWWF Championship

साल 1963 में जब कंपनी का नाम WWF हुआ करता था तो कंपनी ने इस टाइटल को WWWF वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप के नाम से इस टाइटल की एंट्री कराई। इसके बाद साल 1971 में इस टाइटल का नाम WWWF हैवीवेट चैंपियनशिप कर दिया गया।

इसके 8 साल बाद कंपनी ने इस टाइटल का नाम WWF हैवीवेट चैंपियनशिप कर दिया। इसी साल एक बार फिर कंपनी ने टाइटल का नाम WWF चैंपियनशिप कर दिया। साल 2001 से लेकर 2002 के दौरान कंपनी ने इस टाइटल का नाम 3 बार और बदला।

2001 में टाइटल का नाम अनडिस्प्यूटेड WWF चैंपियनशिप किया गया फिर 2002 में एक बार फिर टाइटल का नाम बदलकर इसे अनडिस्प्यूटेड WWE चैंपियनशिप कर दिया गया। इसके कुछ हफ्तों बाद कंपनी ने टाइटल का नाम एक बार फिर बदलते हुए इसे WWE चैंपियनशिप कर दिया।

Get WWE News in Hindi here

1999 में 11 नए चैंपियन देखने को मिले

Mankind and The Rock

साल 1999 में 11 बार इस टाइटल के चैंपियन बदले। साल की शुरूआत में द रॉक ने मैनकाइंड के हराकर WWE चैंपियनशिप अपने नाम की। इसके दो दिन बाद ही मैनकाइंड ने एक बार फिर टाइटल अपने नाम किया। 20 दिनों तक टाइटल अपने नाम करने के बाद मैनकाइंड को एक बार फिर द रॉक ने हराकर टाइटल अपने नाम किया।

41 दिनों तक चैंपियन रहने के बाद द रॉक को स्टीव कोल्ड स्टीव ऑस्टिन के हाथों हार मिली। इसके बाद स्टोन कोल्ड 56 दिनों तक चैंपियन रहे और फिर अंडरटेकर ने उन्हें हराकर टाइटल अपने नाम किया। अंडरटेकर ने 36 दिनों तक टाइटल अपने कब्जे में रखा। इसके बाद स्टोन कोल्ड ने अंडरटेकर को हराकर दूसरी बार इसी साल WWE चैंपियनशिप पर कब्जा जमाया।

अगले 55 दिनों तक चैंपियन रहने के बाद स्टोन कोल्ड ने मैनकाइंड के खिलाफ अपना टाइटल गंवा दिया। इसके बाद मैनकाइंड एक दिन बाद ही ट्रिपल एच के हाथों टाइटल हार गए। इसके बाद ट्रिपल एच 22 दिन चैंपियन रहे। 22 दिन चैंपियन रहने के बाद ट्रिपल एच, विंस मैकमहैन के खिलाफ टाइटल हार गए। 6 दिन तक चैंपियन रहने के बाद विंस ने यह टाइटल गंवा दिया।

इसके बाद ट्रिपल एच ने केन, मैनकाइंड, बिग शो, द ब्रिटिश बुलडॉग और द रॉक को हराकर टाइटल जीता। 1999 में आखिरी बार टाइटल 14 नवंबर को बदला जब बिग शो ने सर्वाइवर सीरीज़ में द रॉक और ट्रिपल एच को हराया।

पहले रैसलमेनिया में WWE टाइटल के लिए कोई मैच बुक नहीं किया गया था

Main event match of that night

WWE के सबसे बड़े पीपीवी रैसलमेनिया की शुरूआत 1985 में हुई। साल 1985 में WWE ने पहली बार रैसलमेनिया का आयोजन किया। वैसे तो रैसलमेनिया का पहला संस्करण काफी शानदार हुआ लेकिन इस शो में WWE टाइटल के लिए कोई मुकाबला नहीं हुआ।

उस समय कंपनी में यूनिवर्सल चैंपियनशिप भी नहीं हुआ करती थी और WWE चैंपियनशिप कंपनी का सबसे बड़ा टाइटल माना जाता था। बावजूद इसके शो में WWE चैंपियनशिप के लिए कोई मुकाबला बुक नहीं किया गया। यह वाकई थोड़ा हैरान कर देने वाली बात थी।

केवल 48 सेकेंड तक WWE चैंपियन रहे आंद्रे द जाइंट

Andre's first and last WWE Title reign

इसमें कोई शक नहीं है कि आंद्रे द जाइंट एक लैजेंड रैसलर थे। भले ही रिंग में वह ज्यादा अच्छे प्रोमो नहीं दे पाते थे लेकिन रिंग परफॉर्मेंस में वह सबसे शानदार थे। इन सबके बीच आंद्रे ने कंपनी में कई टाइटल अपने नाम किए लेकिन वह WWE चैंपियन केवल एक बार बन पाए।

रैसलमेनिया 3 में हल्क होगन के खिलाफ मुकाबले के बाद हुए रीमैच में आंद्रे द जाइंट ने हल्क होगन को हराकर WWE चैंपियनशिप अपने नाम की लेकिन वह 48 सेकेंड तक चैंपियन रहे क्योंकि टेड डीबाइस ने उस टाइटल को आंद्रे द जाइंट से जीत लिया।

WWE चैंपियनशिप जीतने के बाद इवान कोलॉफ को रिंग में टाइटल नहीं दिया गया

Bruno Sammartino vs Ivan Koloff

ब्रूनो सैमार्टिनो की गिनती WWE के सबसे बड़े लैजेंड सुपरस्टार के रूप में होती है। 2803 दिन लगभग 7.6 साल तक WWE चैंपियन रहने के बाद उन्होंने इवान कोलॉफ के खिलाफ अपना टाइटल गंवाया। हालांकि हैरानी की बात यह थी कि इवान को रिंग में टाइटल नहीं दिया गया।

ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि WWE को डर था कि कहीं इवान कोलॉफ को रिंग में टाइटल देते हुए फैंस भड़क ना जाए। फैंस किसी भी कीमत पर ब्रूनो सैमार्टिनो को ही चैंपियन बने रहते देखना चाहते थे।

लेखक: ईशान शर्मा, अनुवादक: अंकित कुमार