Create
Notifications

5 WWE सुपरस्टार्स जिन्होंने खुद ही मैच जीतने से इंकार किया

Enter caption
मोहित राव

WWE विश्व की सबसे बड़ी रेसलिंग कंपनी है। यहां हर तरह के रेसलर आकर अपनी रेसलिंग काबिलियत से फैंस और अथॉरिटी को खुश करते हैं। अनेकों रेसलर अडियल स्वभाव के होते हैं जो किसी युवा यहां तक कि बड़े रेसलरों से हारने से भी मना कर देते हैं। हमें अनेकों बार इस बारे में सुना है। मगर कम ही देखने को मिलता है कि जब कोई रेसलर अपने साथी रैसलर से खिलाफ जीतने से ही मना कर दे।

किसी रेसलर द्वारा यह करने के पीछे उसकी अपने विरोधी के प्रति इज्जत दर्शाती है। यह बात साबित करती है कि वह अपने साथी रेसलर के भविष्य और कंपनी की स्टोरीलाइन को लेकर काफी चिंतित है। WWE में कई बार ऐसा हुआ है, जब रेसलरों ने यह किया।

एक नजर 5 मौकों पर जब रेसलरों ने मैच जीतने से ही साफ इंकार कर दिया।

सीएम पंक ने रोमन रेंस के खिलाफ जीतने से मना किया

Enter caption

2014 WWE के लिहाज से बड़ा ही यादगार साल साबित हुआ। इस साल की शुरुआत में सीएम पंक हमेशा के लिए कंपनी छोड़कर चले गए और फिर कभी नहीं लौटे। शील्ड के रूप में रोमन रेंस का करियर ग्राफ भी बेहद ऊपर की तरफ जाने लग रहा था।

6 जनवरी 2014 को ओल्ड स्कूल रॉ हुआ। इस मैच में सीएम पंक और रोमन रेंस के बीच मैच हुआ। यहां मैच सीएम पंक की जीत के लिए तैयार किया गया था। मगर सीएम पंक ने मैच जीतने से मना कर दिया। उनका मानना था कि मैच में रोमन रेंस की जीत होनी चाहिए ताकि वह मजबूत दिखें। सीएम पंक द्वारा उठाया गया यह कदम कारगर था। WWE के बड़े सुपरस्टार होने के बावजूद उन्होंने रोमन रेंस को आगे बढ़ाने की बात कही और खुद को हार दिलवाई। यह बात साबित करती है कि सीएम पंक दूरदर्शी थे और वह रोमन रेंस की प्रतिभा को पहचान चुके थे।

केन ने रेसलमेनिया 20 में अंडरटेकर को हराने से साफ इंकार किया

Enter caption

2018 में WWE यूनिवर्स को केन और अंडरटेकर की जोड़ी एक साथ रिंग में मैच लड़ते हुए नजर आई। यह पुराने WWE फैंस के लिए बड़ा ही यादगार पल रहा होगा। केन ने अपने करियर की शुरुआत द अंडरटेकर के विरुद्ध ही थी। इनकी राइवलरी को WWE इतिहास में बड़ा ही ऊंचा स्थान दिया जाएगा। केन और द अंडरटेकर के बीच एक दूसरे के प्रति कितना सम्मान है, यह बात जग जाहिर है।

गौरतलब है कि रेसलमेनिया 20 के लिए अंडरटेकर और केन का मैच बुक किया गया। इस मैच में अंडटेकर की हार होनी थी और हार के लिए अंडरटेकर भी तैयार थे क्योंकि यह उनकी दुश्मनी को अलग आयाम पल लेकर जाता। मगर केन ने अंडरटेकर के खिलाफ हारने से इंकार कर दिया। रेसलमेनिया में फिर अंडरटेकर ने केन को हराया और उनकी स्ट्रीक लंबी गई। केन ने अगर बड़प्पन नहीं दिखाया होता तो अंडरटेकर की स्ट्रीक कुछ खास नहीं होती।

रे मिस्टीरियो के विरुद्ध हारने के लिए तैयार हुए डॉल्फ जिगलर

Enter caption

डॉल्फ जिगलर को WWE के अंडररेटेड रेसलरों में गिना जाता है। WWE ने उन्हें खास मौके नहीं दिए, मगर जितने भी मौके कंपनी द्वारा दिए गए वह उन पर खरे उतरे और अपनी प्रतिभा का लौहा मनवाया। जिगलर को WWE के साथ एक दशक से भी अधिक हो गया है। वह आज भी अपने काम से सभी को प्रभावित कर रहे हैं, भले वह रिंग में उनके मैच हो या प्रोमो करने की काबिलियत।

गौरतलब है कि 2009 में नाइट ऑफ चैंपियंस में चैंपियन रे मिस्टीरियो को इंटरकॉन्टिनेंटल टाइटल डॉल्फ जिगलर के विरुद्ध हारना था। मगर रे मिस्टीरियो ने WWE को कहा कि जल्दी गंवाने की वजह से टाइटल का महत्व कम हो जाएगा। डॉल्फ जिगलर ने खुद रे मिस्टीरियो की इस बात में हामी भरी और WWE को कहा कि वह मैच हारने के लिए तैयार हैं। डॉल्फ जिगलर ने बाद में इस टाइटल को अपने नाम किया।

एजे स्टाइल्स को पहले रेसलमेनिया मैच में हार से कोई परहेज नहीं

Enter caption

2016 में WWE यूनिवर्स को रेसलिंग के सबसे बड़े फ्री एजेंट एजे स्टाइल्स की एंट्री होती दिखी। स्टाइल्स ने रॉयल रंबल 2016 में तीसरे नंबर पर एंट्री की। रेसलिंग जगत के लिए यह बहुत ही यादगार पल था। WWE में आने के बाद स्टाइल्स की पहली स्टोरीलाइन क्रिस जैरिको के साथ शुरु हुई। जैरिको और स्टाइल्स के बीच रेसलमेनिया 32 में मैच भी हुआ। एक लैजेंड और एक न्यूकमर का मैच देखकर सभी को लग रहा था कि मैच स्टाइल्स जीतेंगे। मगर पहले ही रेसलमेनिया मैच में स्टाइल्स को हार मिली।

इस बड़े मैच के नतीजे को लेकर एजे स्टाइल्स को किसी भी तरह की दिक्कत नहीं थी। रिपोर्ट के अनुसार, क्रिस जैरिको ने एजे स्टाइल्स को कहा था कि वह WWE मैनेजमेंट से मैच के फिनिश को लेकर बात कर लेंगे। मगर एजे स्टाइल्स ने क्रिस जैरिको को ऐसा करने से रोक लिया।

सर्वाइवर सीरीज 2016 में गोल्डबर्ग के हाथों हारे ब्रॉक लैसनर

Enter caption

2016 में गोल्डबर्ग की सालों बाद WWE में वापसी हुई। गोल्डबर्ग की वापसी के बाद उनका मैच सर्वाइवर सीरीज़ के लिए ब्रॉक लैसनर के साथ बुक किया गया। WWE यूनिवर्स किसी भी हाल में नहीं सोच सकती थी कि यह मैच गोल्डबर्ग जीतेंगे। शुरु में यही माना गया था कि ब्रॉक लैसनर की आसान जीत होगी। मगर मैच फिनिश होने के बाद रिपोर्ट सामने आई कि ब्रॉक लैसनर ने खुद विंस मैकमैहन को बोला था कि इस स्टोरीलाइन को रैसलमेनिया तक लेकर जाया जाएगा। फैंस ने भी इस स्टोरी को आगे बढ़ाने में बड़ी भूमिका निभाई थी क्योंकि उन्होंने गोल्डबर्ग को खुले दिल से स्वागत किया था।

सर्वाइवर सीरीज़ में गोल्डबर्ग के विरुद्ध ब्रॉक लैसनर की जीत होनी थी। मगर लैसनर ने अपनी हार खुद तय करवाते हुए 1 मिनट 26 सेकेंड में हार मानी। रैसलमेनिया में गोल्डबर्ग और लैसनर के बीच यूनिवर्सल टाइटल के लिए भी मैच हुआ।

Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...