Create

"मुझे पहले ही अहसास हो गया था कि रोमन रेंस को WWE द्वारा सस्पेंड किया जाएगा"

AEW दिग्गज ने रोमन रेंस को लेकर किया बड़ा खुलासा
AEW दिग्गज ने रोमन रेंस को लेकर किया बड़ा खुलासा
reaction-emoji
PANKAJ

AEW दिग्गज जॉन मोक्सली (Jon Moxley) ने हाल ही में अपनी नई बुक MOX में कई बड़े खुलासे किए है। साल 2016 में रोमन रेंस (Roman Reigns) को WWE ने सस्पेंड कर दिया था। जॉन मोक्सली ने कहा कि उन्हें पहले ही पता चला गया था कुछ गलत होने वाला है। जॉन मोक्सली ने WWE में डीन एंब्रोज नाम से काम किया था। जॉन मोक्सली और रोमन रेंस का इतिहास WWE में बहुत शानदार रहा है।

WWE ने साल 2016 में रोमन रेंस को 30 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया था

21 जून 2016 को WWE ने रोमन रेंस को 30 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया था। Money in the Bank 2016 में रोमन रेंस को इस वजह से WWE वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप मैच में सैथ रॉलिंस के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। सैथ रॉलिंस इसके बाद जॉन मोक्सली से हार गए थे। रोमन रेंस के सस्पेंड होने को लेकर जॉन मोक्सली ने कहा,

मुझे पहले ही अहसास हो गया था कि कुछ गलत होने वाला है और रोमन रेंस को सस्पेंड किया जाएगा। मैंने रोमन रेंस के चेहरे पर ये चीज़ पढ़ ली थी। मुझे पता था कि विंस कल कुछ करने वाले हैं। मैं इस बात को लेकर पूरी तरह सहमत नहीं था क्योंकि कोई भी प्रूफ मेरे पास नहीं था।

आपको बता दें WWE की वैलनेस पॉलिसी भंग करने के लिए रोमन रेंस को सस्पेंड किया गया था। मोक्सली ने इस बार बड़ा बयान देते हुए कह दिया कि इस बात का अंदाजा उन्हें पहले ही हो गया था। द शील्ड में जॉन मोक्सली और रोमन रेंस ने साथ में बहुत काम किया। इनके साथ सैथ रॉलिंस भी थे। साल 2014 में शील्ड अलग हो गई। इसके बाद रोमन रेंस, जॉन मोक्सली और सैथ रॉलिंस का सिंगल रन बहुत ही शानदार रहा। तीनों ने जबरदस्त प्रदर्शन कर फैंस का दिल जीत लिया था।

रोमन रेंस और सैथ रॉलिंस आज WWE के सबसे बड़े सुपरस्टार हैं। वहीं जॉन मोक्सली ने कुछ साल पहले WWE को छोड़कर AEW के साथ अपना करियर बढ़ाया। मोक्सली का WWE में भी शानदार करियर रहा और वो AEW में भी अच्छा काम कर रहे हैं।

I apologize to my family, friends and fans for my mistake in violating WWE’s wellness policy. No excuses. I own it.

Edited by PANKAJ
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...