WWE

Money in the Bank का मतलब और मुकाबले के नियम

इस बार मनी इन द बैंक में कुल 8 सुपरस्टार्स हिस्सा लेंगे।

मनी इन द बैंक पीवीवी एक ऐसा इवेंट होता है जो किसी भी सुपरस्टार की किस्मत बदल सकता है। साल 2018 का मनी इन द बैंक 17 जून (भारत में 18 जून) को शिकागो में होगा।। इस बार मनी इन द बैंक लैडर मैच में कुल 8 सुपरस्टार्स हिस्सा लेंगे। पिछले साल विमेंस का ऐतिहासिक मनी इन द बैंक लैडर मैच हुआ था, जबकि इस साल भी मैंन और विमेंस के मैच देखने को मिलेंगे।

आपको बता दें कि मनी इन द बैंक पीपीवी की शुरुआत 2010 में हुई थी। हालांकि WWE में पहला MITB लैडर मैच रैसलमेनिया 21 में लड़ा गया था। साल 2010 में WWE ने इसे पीपीवी की शक्ल दे दी। पिछले साल हुए मनी इन द बैंक पीपीवी में बैरन कॉर्बिन को जीत हासिल हुई थी, लेकिन वो कैश-इन करते वक्त नाकाम रहे थे।


मनी इन द बैंक साल के सबसे खास पीपीवी में से एक होता है, क्योंकि इसमें होने वाले लैडर मैच को जीतने वाले रैसलर को टाइटल जीतने का एक मौका मिल जाता है। जो सुपरस्टार MITB ब्रीफकेस जीतेगा, वो उसे कभी भी कैश इन कर चैंपियन बन सकता है। इस ब्रीफकेस में चैंपियनशिप के लिए कॉन्ट्रैक्ट होता है।  इस मैच में सभी सुपरस्टार्स रिंग में होते है और ऊपर ब्रीफकेस लटका होता है। सभी सुपरस्टार्स के बीच में से किसी भी तरह जो कोई भी रैसलर इस ब्रीफकेस को हासिल कर लेता है वो विजेता होता है। ब्रीफकेस को जीतने के बाद सुपरस्टार के पास उस समय से लेकर सिर्फ एक साल का वक्त होता है जिसके भीतर वो इसे चैंपियनशिप के लिए कैश इन किसी भी वक्त कहीं भी कर सकता है।

पिछले साल मैंस में बैरन कॉर्बिन ने इसे जीता था जबकि विमेंस ने कार्मेला इसे अपने नाम किया था। ऐजे, मिज, डेनियल ब्रायन, डॉल्फ जिगलर, सैथ रॉलिंस जैसे सुपरस्टार्स ने ब्रीफकेस को कैश इन करके खिताब अपने नाम किया है। रैसलमेनिया 31 में सैथ रॉलिंस ने ब्रॉक और रोमन के मैच में ब्रीफकेस कैश करके टाइटल अपने नाम किया था।  ये पल आज तक का सबसे बेहतर कैश इन माना जाता है। खैर, अब देखना होगा कि इस साल कौन मिस्टर और मिस मनी इन द बैंक होते हैं।