Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

WWE यूनिवर्सल चैंपियन ब्रॉक लैसनर के खिताबी दौर की अच्छी और बुरी बातें

Modified 16 Jul 2018, 17:52 IST
Advertisement

रैसलमेनिया 33 में ब्रॉक लैसनर ने गोल्डबर्ग को हरा कर उनसे यूनिवर्सल चैंपियनशिप जीत लिया। सभी दर्शकों को उस समय लैसनर से एक लम्बे खिताबी दौर की उम्मीद थी। उनकी जीत के बाद से सभी को ये लगने लगा कि रोमन रेंस उनसे खिताब जीतकर अगले यूनिवर्सल चैंपियन बन जाएंगे।

लेकिन ऐसा हुआ नहीं। चैंपियन के हाथों द बिग डॉग की साफ हार हुई जिससे सभी हैरान रह गए। रोमन रेंस की हार से कइयों को दुख हुआ क्योंकि ऐसे ढेर सारे फैंस है जो ब्रॉक लैसनर को यूनिवर्सल चैंपियन बने रहता देखना नहीं चाहते।

यहां पर एक बात तो पक्की है कि WWE ने समरस्लैम के लिए ब्रॉक लैसनर को लेकर योजना पक्की कर ली है। 450 दिनों से ज्यादा समय तक खिताब रखने वाले ब्रॉक लैसनर WWE छोड़कर UFC जा सकते हैं और इसलिए संभावना है कि वो समरस्लैम पीपीवी में अपना खिताब हार जाएंगे।

सच कहा जाए तो दर्शक अब ब्रॉक लैसनर के खिताबी दौर से ऊब चुके हैं और जल्द से जल्द उन्हें खिताब हारते देखना चाहते हैं। ब्रॉक लैसनर के खिताबी दौर की जहां अच्छी बात है तो वहीं कुछ बुरी बात भी है जिसका हम यहां जिक्र करेंगे।

#1 अच्छी बात: इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप का महत्त्व बढ़ा

Advertisement
इसके होने की पूरी संभावना थी। जब रॉ से मुख्य चैंपियनशिप नदारद थी तो उसके जगह इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप को अहमियत मिली है। हर हफ्ते के शो में इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप डिफेंड की गई। सैथ रॉलिंस ने IC चैंपियन रहते हुए गर्व महसूस करने की बात की और पूरी दुनिया के फैंस के सामने इसे कई मौकों पर डिफेंड किया। उस समय सैथ रॉलिंस के पास ये खिताब था इसलिए उसकी अहमियत बढ़ी तो अब डॉल्फ ज़िगलर नए IC चैंपियन हैं। इसके अलावा इसकी लोकप्रियता बढ़ाने में द मिज़ का भी बड़ा योगदान था।
1 / 5 NEXT
Published 16 Jul 2018, 17:52 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit