COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

व्यंग्य: 2019 के चुनाव से पहले रोमन रेंस ने राहुल गांधी को शील्ड में शामिल होने की सलाह दी

हास्य
5.79K   //    Timeless

Enter caption

ऐसा लगता है कि मानो ऊपर वाले ने रोमन रेंस और राहुल गांधी की किस्मत एक ही स्याही से लिखी है। दोनों में इतनी सारी समानताएं हैं कि आपस में कभी ये एक दूसरे से बात कर लें, तो कहीं इनका हृदय परिवर्तन हो जाए और ये एक दूसरे को खोए हुए भाई ना समझ लें। खैर ये तो हुई मजाक की बात, अब काम की बात करते हैं।

आप सोच रहे होंगे कि भला भारत के राहुल गांधी और समोअन रोमन रेंस में क्या समानता है। गौर करिए, WWE फैंस (अमेरिकी हार्डकोर रैसलिंग फैंस) रोमन रेंस और भारत में राहुल गांधी को (एक बड़ा वर्ग) कोई सीरियस नहीं लेता, भले ही दोनों कितनी भी काम की बात कर लें। मिस्टर मैकमैहन किसी की सुने बगैर रोमन रेंस को जबरदस्ती कई सालों से लोगों के गले उतार रहे हैं और यही काम कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी के साथ कर रही है। दोनों ही रसूखदार खानदान से ताल्लुक रखते हैं। रोमन रेंस समोअन परिवार से आते हैं, जिन्होंने सालों तक रैसलिंग जगत पर राज किया। राहुल गांधी के बारे में तो कुछ कहना ही नहीं बनता, उनका सरनेम ही पूरी कहानी बयां करता है।

राहुल गांधी और रोमन रेंस की दो बातें ही सिर्फ फेमस हुई हैं, 'देखिए भईया' और This is my yard. बेचारे रोमन अपने प्रोमो में और राहुल अपने भाषणों में खूब जान लगाते हैं लेकिन कमबख्त जुबान है कि बीच में ही लड़खड़ा जाती है।

राहुल के सिर पर 2019 में पार्टी को जिताने की जिम्मेदारी है। इस काम को करने के लिए बेचारे राहुल हर जतन करने में लगे हुए हैं। और वहीं द शील्ड में इन दिनों बड़ी मारा-मारी चल रही है। डीन एम्ब्रोज़ ऐसी हरकतें कर रहे हैं, जैसे गठबंधन की सरकार में पार्टियां करती हैं।

डीन एम्ब्रोज़ की बचकानी हरकतों से दुखी होकर रोमन रेंस ने कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी को द शील्ड जॉइन करने की सलाह दी है। रोमन रेंस ने राहुल गांधी को उन्हीं के अंदाज में समझाते हुए कहा, "देखिए राहुल भईया, मैं जब भी रिंग में आता था तो लोग मुझे खूब गरियाते थे। शील्ड के साथ जब भी होता हूं तो काम की तारीफ करते हैं। अभी डीन के ड्रामे के कारण शील्ड के एक जगह खाली है। मेरा शील्ड की वजह से भला हुआ है, आपका भी हो जाएगा।"

राहुल बाबा को रोमन रेंस का ऑफर पसंद आया है लेकिन वो अभी ड्रेस कोड पर अटके हुए हैं। द शील्ड रिंग में काले कपड़े पहनकर आती है और हमारे नेता लोग सफेद कपड़ों के बिना बाहर नहीं निकलते।

(नोट:इस आर्टिकल में लिखी गई सारी बातें काल्पनिक हैं। इसे सिर्फ और सिर्फ एंटरटेनमेंट के लिए लिखा गया है। इसका असल में राहुल गांधी, रोमन रेंस या उनके बयान से कोई लेना-देना नहीं है)

Topics you might be interested in:
Fetching more content...