WWE न्यूज़: ब्रॉन स्ट्रोमैन के गाड़ी पलटने और बैलर के टाइटल मैच में शामिल होने से हुआ जबरदस्त फायदा

Enter caption

इस बार के मंडे नाइट रॉ में काफी सारा एक्शन देखने को मिला था, जिसका फायदा सीधे तौर पर शो की व्यूवरशिप को हुआ। सितंबर 2018 के बाद पहली बार किसी रॉ एपिसोड को इतनी ज्यादा व्यूवरशिप हासिल हुई। 14 जनवरी (भारत में 15 जनवरी) को हुए रॉ एपिसोड को अमेरिका में 2.72 मिलियन व्यूवरशिप मिली।

पिछले हफ्ते रॉ के मुकाबले इस बार व्यूवरशिप 40 हजार ज्यादा थी। आखिरी हफ्ते व्यूवरशिप का आंकड़ा 2.32 मिलियन व्यूवर्स था।

WWE रॉ की तीनों घंटों की व्यूवरशिप

पहला घंटा- 2.775 मिलियन व्यूवर्स

दूसरा घंटा- 2.781 मिलियन व्यूवर्स

तीसरा घंटा- 2.610 मिलियन व्यूवर्स

WWE को पिछले साल से लगातार रॉ की गिरती हुई व्यूवरशिप का सामना करना पड़ रहा है। अक्टूबर में रोमन रेंस के जाने के बाद हालात और भी ज्यादा बुरे हो गए। हालांकि इस बार तीनों घंटों के दौरान व्यूवरशिप में काफी निरंतरता देखने को मिली। रॉ को अमेरिका में सबसे ज्यादा दूसरे घंटे के दौरान देखा गया, जबकि तीसरे घंटे ये आंकड़ा सबसे कम रहा। रॉयल रंबल की तैयारी में जुटी WWE पूरी कोशिश कर रही है कि किसी तरह व्यूवरशिप को 3 मिलियन के आसपास लेकर आया जा सके। इस वजह से अब विंस मैकमैहन की टीवी पर लगातार नजर आ रहे हैं।

इस हफ्ते रॉ पूरी तरह से विंस मैकमैहन पर ही केंद्रित था। मिस्टर मैकमैहन ने रॉ में कई सारे फैसले लिए जिनकी वजह से रॉयल रंबल का यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच बदल गया। ओपनिंग सैगमेंट में ब्रॉन स्ट्रोमैन ने विंस मैकमैहन की लिमोजिन कार का दरवाजा तोड़ दिया। स्ट्रोमैन की हरकत ने गुस्सा होकर विंस ने उनपर भारी जुर्माना लगाया और ब्रॉक लैसनर के खिलाफ होने वाले मैच से भी बाहर कर दिया। बाद में फिन बैलर ने फैटल 4 वे मैच जीता और वो यूनिवर्सल चै्ंपियनशिप के नंबर 1 कंटेंडर बने।

youtube-cover

Get WWE News in Hindi Here