COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

ब्रॉन स्ट्रोमैन (Braun Strowman)


ABOUT
ABOUT

वजन: 175 किलोग्राम

जन्मस्थान: शेरिल्स फोर्ड, नार्थ कैरोलाइना, यूनाइटेड स्टेटस

फिनिशिंग मूव: रनिंग पॉवरस्लैम

प्रमुख टाइटल: कोई नहीं

सिग्नेचर मूव्स: रिवर्स चोकस्लैम, योकोसुका कटर

मैनेजर्स: ब्रे वायट

दिलचस्प बातें: ब्रॉन स्ट्रोमैन एक दिन में 15,000 कैलोरी का खाना खाते हैं जो कि किसी भी इंसान के लिए नियत अमाउंट से 5 गुना ज़्यादा है

एंट्रेंस थीम: मार्क क्रोजर का लिव इन फियर (2015-2016), जिम जोह्न्स्टन का स्वाम्प गैस (2015-2016), CFOS का आई एम स्ट्रांगर (2016- अबतक)


इतिहास


एडम जोसफ स्कर ने अपने यंगस्टर वाले दिनों में कई खेलों में हिस्सा लिया जिसमें फुटबॉल, रैसलिंग और ट्रैक तथा फील्ड शामिल हैं, लेकिन यूनाइटेड स्टेटस को स्ट्रांगमैन से जुडी प्रतियोगिताओं में रेप्रिज़ेंट करने के कारण उन्हें काफी पहचान मिली।

2012 में अर्नाल्ड अमचेयुर स्ट्रांगमैन चैम्पियनशिप्स जीतने के बाद उन्हें 2013 में अर्नाल्ड स्ट्रांगमैन क्लासिक के लिए न्योता मिला था।


WWE NXT


2013 में WWE के साथ साइन करने के बाद उन्होंने परफॉरमेंस सेंटर में काफी लम्बे समय तक ट्रेनिंग की और 2014 के दिसंबर में जैक्सनविल, फ्लोरिडा के NXT लाइव इवेंट में एक मैच के दौरान इन्होने चैड गेबल को हराया। वो इससे पहले एडम रोज़ के एक रोज़बड के रूप में नज़र आते थे। इन्होने साइन करने के दो साल बाद तक कभी भी NXT में कोई मैच नहीं लड़ा, क्योंकि ये उन दिनों परफॉर्मेंस सेंटर में लगातार काम करते।


वायट फैमिली मेंबर


2015 में इन्होने ब्रॉन स्ट्रोमैन के नाम से वायट फैमिली के एक सदस्य के रूप में एंट्री की। इन्होने आते ही डीन एम्ब्रोज़ और रोमन रेंस पर वार किए। ये एरिक रोवन, ल्यूक हार्पर और ब्रे वायट के साथ मिलकर केन, अंडरटेकर और ECW ऑरिजिनल्स के खिलाफ लड़े, और 2016 के रॉयल रंबल में इन्होने साथ मिलकर ब्रॉक लैसनर को मैच से बाहर कर दिया था।

रैसलमेनिया 32 में ये वायट और रोवन के साथ मिलकर ये द रॉक से लड़े थे। इसके बाद इनकी लड़ाई लीग ऑफ़ नेशंस से होने वाली थी लेकिन वायट की चोट की वजह से ये मैच पेबैक में नहीं हो सका। जुलाई 2016 में इनकी वायट फैमिली के साथ आखिरी कहानी उस समय आई जब वायट फैमिली कंपाउंड में न्यू डे के साथ एक लड़ाई के बाद इन्होने वायट और रोवन के साथ मिलकर बिग इ, कोफ़ी किंग्स्टन और ज़ेवियर वुड्स को बैटलग्राउंड में हराया।


RAW में सिंगल कॉम्पिटिशन


2016 के WWE ब्रैंड स्प्लिट में वायट, हार्पर और रोवन स्मैकडाउन का हिस्सा बन गए जबकि स्ट्रोमैन रॉ का हिस्सा बने और पहली बार एक सिंगल्स प्रतियोगी की तरह लड़ने लगे। इन्होने शुरुआत में लोकल टैलेंट को हराया जिसमें जेम्स एल्सवर्थ शामिल थे। इसके बाद इनकी लड़ाई सैमी जेन से हुई जिन्हें ये रोडब्लॉक: एन्ड ऑफ़ द लाइन में 10 मिनट चैलेंज मैच में नहीं हरा सके थे। ये सर्वाइवर सीरीज 2016 में टीम रॉ के हारने वाले रैसलर्स में से एक थे। जनवरी 2017 में इन्होने रोमन रेंस पर उस समय वार किया जब वो रॉयल रंबल में केविन ओवंस के साथ यूनिवर्सल टाइटल के लिए लड़ रहे थे। इसकी वजह से 2017 के सबसे ज़बरदस्त फिउड की शुरुआत हुई, जिसमें ये दोनों रैसलर्स तीन बार लड़े, और दो बार इन्हें जीत मिली, जबकि एक बार इन्हें हार का सामना करना पड़ा।


स्ट्रोमैन ने 2017 में ही बिग शो के साथ भी लड़ाई की जिसमें रैसलमेनिया 33 के दौरान इन दोनों ने आंद्रे द जायंट बैटल रॉयल में हिस्सा लिया जिसे मोजो रौली ने जीता। 17 अप्रैल के रॉ एपिसोड में इनकी लड़ाई बिग शो से हो रही थी, और उस समय इनके एक सुप्लेक्स की वजह से रिंग टूटी।


यूनिवर्सल चैंपियनशिप



2017 में ही जब ग्रेट बॉल्स ऑफ़ फायर में इन्होने रोमन रेंस को एक एम्बुलेंस मैच में हराया तो इन्होने ये निश्चित कर लिया था कि वो ही अगले चैंपियन होंगे। एक महीने बाद समरस्लैम के मेन इवेंट में इन्होने रोमन रेंस और समोआ जो के साथ मिलकर ब्रॉक लैसनर को एक फेटल फोर वे मैच के लिए चैलेंज किया जिसे ब्रॉक लैसनर ने रोमन रेंस को पिन कर जीत लिया। इस मैच के दौरान स्ट्रोमैन ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया।


नो मर्सी में इनके और ब्रॉक लैसनर के बीच एक ज़बरदस्त मैच हुआ लेकिन उसके बावजूद ये मैच और टाइटल नहीं जीत सके।

अक्टूबर 2017 में ये एक बेबीफेस बन गए जब इनके साथियों शेमस, सिजारो, मिज़ और केन ने इन्हें एक गार्बेज ट्रक में फेंक दिया था क्योंकि इनकी टीम शील्ड और कर्ट एंगल को टीएलसी में नहीं हरा सकी थी।


सर्वाइवर सीरीज 2017 में ये टीम रॉ के आखिरी बचे रैसलर थे, और उसके बाद इन्होने ट्रिपल एच पर वार कर दिया था। 2018 के रॉयल रंबल में ये केन और लैसनर के साथ एक ट्रिपल थ्रेट मैच में यूनिवर्सल चैंपियनशिप जीतने में नाकाम रहे थे और उनके प्रतियोगी रोमन रेंस ने उन्हें इस मैच में हराया था।

Fetching more content...