5 बड़े कारणों से WrestleMania में रोमन रेंस और गोल्डबर्ग का मैच बुक नहीं करना चाहिए था

WrestleMania में पहली बार होगा गोल्डबर्ग और रोमन रेंस का मुकाबला
WrestleMania में पहली बार होगा गोल्डबर्ग और रोमन रेंस का मुकाबला

रेसलमेनिया 36 के लिए तैयारी शुरू कर दी है और यह 5 अप्रैल (भारत में 6 अप्रैल) को लाइव आने वाला है। WWE ने इतने बड़े इवेंट के लिए मौजूदा समय में स्मैकडाउन की सबसे बड़ी चैंपियनशिप के लिए दो दिग्गज सुपरस्टार्स के बीच मैच का ऐलान कर दिया गया है। गोल्डबर्ग अपनी चैंपियनशिप को रोमन रेंस के खिलाफ डिफेंड करने वाले हैं।

गोल्डबर्ग ने हाल ही में हुए सुपर शोडाउन इवेंट में द फीन्ड को शिकस्त देते हुए अपने करियर में दूसरी बार यूनिवर्सल चैंपियनशिप को जीता है। रोमन रेंस ने पिछले हफ्ते हुए स्मैकडाउन के एपिसोड में गोल्डबर्ग को चैलेंज किया था और बाद में इसे ऑफिशियल कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: 4 बड़े कारणों से जॉन सीना को WrestleMania 36 में द फीन्ड के खिलाफ जीत मिलनी चाहिए

हालांकि बहुत से फैंस है, जोकि इस फैसले से खुश नहीं है। हम इस आर्टिकल उन कारणों पर नजर डालेंगे जो साबित करते हैं कि यह मैच रेसलमेनिया में नहीं होना चाहिए था:

#) WWE रोमन रेंस का मैच रेसलमेनिया में कराके गलती कर चुका है

रोमन रेंस को पुश करने के लिए WWE ने काफी कोशिश की है और इसी वजह से सबसे बड़े स्टेज में दिग्गजों के साथ उनके मैच करा चुकी है। रेसलमेनिया 32 में उनका मैच WWE चैंपियनशिप के लिए ट्रिपल एच और रेसलमेनिया 33 में उनका मुकाबला द अंडरटेकर के खिलाफ हुआ था। रेंस ने इन दोनों ही मुकाबलों को जीता था।

हालांकि रेंस को जीतने के बाद से क्राउड से वो समर्थन नहीं मिला, जैसा WWE और रेंस खुद ने ही उम्मीद की होगी। WWE ने फिर से गोल्डबर्ग जैसे दिग्गज के खिलाफ उनका बुक कर दिया है। फैंस की रुची इस मैच में नहीं है और अगर एक बार फिर इस मैच के बाद रेंस को फैंस का समर्थन नहीं मिला, तो कंपनी की यह बड़ी भूल साबित हो सकती है।

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को https://www.facebook.com/SKWrestlingHindi/ पर पाएं

#) बीमारी के बाद पहली चैंपियनशिप जीत फीकी हो जाएगी

रोमन रेंस ने 2018 में बीमारी के कारण WWE से ब्रेक लेने से पहले यूनिवर्सल चैंपियनशिप को छोड़ दिया था। वापसी के बाद से उन्हें उसके लिए दोबारा मौका नहीं मिला है। अब रेसलमेनिया में वो गोल्डबर्ग को यूनिवर्सल चैंपियनशिप के लिए चैलेंज करने वाले हैं।

रेसलमेनिया में अगर रोमन रेंस चैंपियनशिप जीतते हैं, तो बीमारी से वापसी करने के बाद वो पहली बार चैंपियन बनेंगे। हालांकि गोल्डबर्ग के खिलाफ जीती गई चैंपियनशिप से वो रिएक्शन नहीं मिलेगा, जो शायद किसी बड़े सुपरस्टार के खिलाफ मैच के बाद मिलती। इसी वजह से उनके करियर का सबसे बड़ा पल फीका ही रह सकता है।

#) फैंस फीन्ड के साथ रोमन रेंस का मैच देखना चाहते थे

पिछले काफी समय से यह अफवाह सामने आ रही थी कि इस साल रेसलमेनिया में यूनिवर्सल चैंपियनशिप के लिए द फीन्ड और रोमन रेंस के खिलाफ होगा। इसी वजह से उम्मीद की जा रही थी कि सुपर शोडाउन में द फीन्ड ही जीतेंगे और उसके बाद वो रोमन रेंस के साथ फिउड की शुरुआत कर सकते हैं।

हालांकि जो सुपर शोडाउन में हुआ और उसके बाद स्मैकडाउन में रेसलमेनिया के लिए हुए बड़े ऐलान ने फैंस को बड़ा झटका दिया है। फैंस भी रेंस और फीन्ड के बीच स्टोरीलाइन देखना चाहते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा है। इसी वजह से रेंस vs गोल्डबर्ग मैच को लेकर काफी निराशा देखने को मिल रही है।

#) इस मैच का नतीजा सभी को पता है

रेसलमेनिया WWE का सबसे बड़ा स्टेज है और सभी इस इवेंट में ऐसे मैच देखना चाहते हैं, जिसमें रोमांच की कोई कमी नहीं हो। इसी के साथ फैंस अंत तक सोचते रहे कि इस मैच का नतीजा क्या होगा। हालांकि गोल्डबर्ग vs रोमन रेंस के मैच में हालात वैसे नहीं है।

गोल्डबर्ग एक पार्ट-टाइमर हैं और वो शायद रेसलमेनिया के बाद लंबे समय तक WWE में दिखाई नहीं देंगे। इसी वजह से सभी को पता है कि रेसलमेनिया में होने वाले इस मैच में रोमन रेंस की ही जीत होगी और वो नए यूनिवर्सल चैंपियन बनेंगे। इसी वजह से मैच में फैंस की रुची कम है और कोई भी दिलचस्पी नहीं ले रहा है, क्योंकि इसका परिणाम सभी को पता है।

#) गोल्डबर्ग लंबे मैच नहीं लड़ पाते हैं

2016 में WWE के बाद से गोल्डबर्ग ने ब्रॉक लैसनर, केविन ओवेंस, डॉल्फ जिगलर, द अंडरटेकर और द फीन्ड के खिलाफ मुकाबले लड़े हैं। इसमें से द अंडरटेकर के खिलाफ हुए मैच को छोड़कर उनका कोई भी मैच लंबा नहीं चला और काफी जल्दी ही सभी खत्म हो गए।

हाल ही में द फीन्ड के खिलाफ हुए मैच में कोई मुकाबला देखने को नहीं मिला। गोल्डबर्ग ने फीन्ड को 4 स्पीयर और एक जैकहैमर से हरा दिया। इसके अलावा अंडरटेकर के खिलाफ जो मैच उनका लंबा चला, वो भी काफी बेकार था, उसमें काफी गलतियां देखने को मिली थी। इसी वजह से उनकी काफी आलोचना भी हुई थी।

एक बार फिर रेसलमेनिया में जब रोमन रेंस के खिलाफ उनका मुकाबला होगा, तो सभी को उम्मीद है कि यह एक छोटा मैच होगा, जिसके अंत में रोमन रेंस जीत दर्ज कर लेंगे। रेसलमेनिया जैसे बड़े इवेंट में फैंस ऐसे छोटे मुकाबले नहीं देखना चाहते हैं और गोल्डबर्ग अपने करियर के उस पड़ाव पर है कि वो लंबे और अच्छे मैच नहीं लड़ सकते हैं।