Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 दुर्भाग्यशाली भारतीय क्रिकेटर जिन्हें शानदार रिकॉर्ड के बाद भी टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया

ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
28 Jul 2019, 18:06 IST

विनोद कांबली
विनोद कांबली

पिछले एक दशक में क्रिकेट के खेल में काफी परिवर्तन हुए हैं, या यूं कहें कि जब से टी20 क्रिकेट का चलन बढ़ा है, तब से ही लोग वनडे और टेस्ट क्रिकेट को उतना तरजीह नहीं देते, जितना कि एक समय पर इन्हें मिलती थी। भले ही आज लोग टेस्ट क्रिकेट को इतना महत्व नहीं देते लेकिन एक बेहतरीन क्रिकेटर की पहचान टेस्ट क्रिकेट में उसकी सफलता से ही आंकी जाती है।

टी20 क्रिकेट के इस दौर में हमें भले ही कम समय में बड़ा स्कोर करने वाले और बड़े शॉट्स लगाने वाले क्रिकेटर मिले हों लेकिन टेस्ट क्रिकेट के जरिए हमें ऐसे खिलाड़ी मिलते थे, जो अपनी टीम की ओर से जिम्मेदारी उठाकर क्रीज पर टिके रहते और एकतरफा रन बनाने का काम करते थे।

टी20 क्रिकेट भले ही रोमांच से भरपूर रहा हो लेकिन असल में टेस्ट क्रिकेट का महत्व काफी अधिक है। यही कारण है कि भारत को एक समय में सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण जैसे बल्लेबाज मिले। जिनका वनडे क्रिकेट के साथ-साथ टेस्ट क्रिकेट में भी रिकॉर्ड बेहद शानदार है। जबकि कुछ ऐसे भी भारतीय क्रिकेटर हुए हैं, जिन्हें टेस्ट क्रिकेट में शानदार रिकॉर्ड के बाद भी टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया।

आज हम आपको ऐसे ही तीन भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें उनके शानदार रिकॉर्ड के बाद भी राष्ट्रीय टीम से बाहर कर दिया गया।

#3 सदगोपन रमेश

सदगोपन रमेश
सदगोपन रमेश

सदगोपन रमेश की गिनती भारतीय टेस्ट क्रिकेट के बेहतरीन बल्लेबाजों में की जाती है, क्योंकि उन्होंने साल 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ लगातार चार पारियों में 200 से भी ज्यादा रन बनाए थे और खूब सुर्खियां बटोरी थीं। इस बल्लेबाज ने श्रीलंका के खिलाफ भी अगली सीरीज में शानदार 143 रन बनाए और राहुल द्रविड़ के साथ मिलकर 232 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी की।

यह भी पढ़ें : 3 अभाग्यशाली भारतीय क्रिकेटर जिन्हें शानदार प्रदर्शन के बाद भी पर्याप्त वनडे मैच खेलने का मौका नहीं मिला

इसके बाद रमेश ने 1999 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में 4 पारियों में 60 रन ही बनाए, जिसके बाद साल 2000 में रमेश ने बांग्लादेश के खिलाफ मजबूत वापसी की और एक महत्वपूर्ण अर्धशतक बनाया लेकिन इसके बाद वह बड़ा स्कोर बनाने में असफल रहे। रमेश ने अपनी अंतिम टेस्ट सीरीज श्रीलंका के खिलाफ खेली थी और उसमें 37.16 के औसत से 223 रन बनाए थे लेकिन कभी वापसी नहीं कर सके। रमेश ने भारत के लिए अपने टेस्ट करियर में 19 मैच खेले और उसमें 1367 रन बनाए।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

1 / 3 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...