Create

3 मौके जब न्यूजीलैंड ने आईसीसी टूर्नामेंट में भारतीय टीम को चौंकाया 

विराट कोहली और केन विलियमसन
विराट कोहली और केन विलियमसन

भारत और न्यूजीलैंड 18 से 22 जून तक साउथैम्पटन में खेले जाने वाले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भिड़ने के लिए तैयार हैं। दोनों ही टीमों ने 2019 में शुरू हुयी इस चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करते हुए फाइनल में प्रवेश किया है। न्यूजीलैंड की टीम पहले ही इंग्लैंड पहुँच चुकी है क्योंकि उसे फाइनल से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलनी है। इसीलिए भारत की तुलना में न्यूजीलैंड के पास तैयारियों का बेहतरीन मौका है। ऐसे में न्यूजीलैंड बेहतरीन तैयारी के साथ फाइनल में भारत के सामने कठिन चुनौती पेश करने की तैयारी में होगा।

यह भी पढ़ें : 3 भारतीय बल्लेबाज जो WTC Final में शतक बना सकते हैं

दूसरी तरफ भारतीय टीम अभी मुंबई में है और टीम के खिलाड़ी अभी क्वारंटीन कर रहे हैं। भारतीय टीम 3 जून को इंग्लैंड पहुंचेगी। भारत ने इस चैंपियनशिप में अभी तक बहुत ही बेहतर क्रिकेट खेली है और टीम के ज्यादातर खिलाड़ी शानदार लय में भी हैं। ऐसे में एकजुट प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ तगड़ी चुनौती पेश करेगी।

अगर आईसीसी टूर्नामेंट के इतिहास पर नजर डाले तो न्यूजीलैंड एक ऐसी टीम रही है, जिसने भारत के लिए कई बार मुश्किलें पैदा करते हुए मैचों में जीत हासिल की है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम उन मौकों का जिक्र करने जा रहे हैं, जब न्यूजीलैंड ने आईसीसी टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए भारत को चौंकाया।

3 मौके जब न्यूजीलैंड ने आईसीसी टूर्नामेंट में भारतीय टीम को चौंकाया

#3 आईसीसी नॉकआउट फाइनल, 2000

न्यूजीलैंड ने इस मुकाबले में एक रोमांचक जीत दर्ज की थी
न्यूजीलैंड ने इस मुकाबले में एक रोमांचक जीत दर्ज की थी

2000 में खेले गए आईसीसी नॉकआउट के फाइनल में भारत को प्रबल दावेदार माना जा रहा था क्योंकि भारतीय टीम ने इस फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीमों को हराया था। ऐसे में न्यूजीलैंड के खिलाफ इस मुकाबले में भारत को मजबूत माना जा रहा था। हालांकि यह बात मैच के आखिरी में न्यूजीलैंड ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से असत्य साबित कर दी और मजबूत भारतीय टीम को हराकर फाइनल जीता।

न्यूजीलैंड ने पहले टॉस जीतकर फील्डिंग का फैसला किया। भारत को पहले बल्लेबाजी करते हुए गांगुली ने सचिन के साथ मिलकर टीम को बेहतरीन शुरुआत दिलाई। दोनों के बीच शतकीय साझेदारी हुयी लेकिन इसके बाद तेंदुलकर 69 रन बनाकर रन आउट हो गए। तेंदुलकर के आउट होने के बाद गांगुली का साथ कोई भी बल्लेबाज नहीं दे पाया। गांगुली ने इस मैच में 117 रन की पारी खेली थी। इस तरह भारत ने 50 ओवर में 264/6 का स्कोर बनाया।

265 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड को भी शुरू में कई झटके लगे और टीम मुश्किल में थी लेकिन क्रिस केर्न्स की शतकीय तथा हैरिस की उपयोगी पारी की मदद से न्यूजीलैंड ने दो गेंद रहते हुए मैच जीत लिया।

#2 टी20 विश्व कप, मैच 13, 2016

न्यूजीलैंड के स्पिन गेंदबाजों का बेहतरीन प्रदर्शन रहा था
न्यूजीलैंड के स्पिन गेंदबाजों का बेहतरीन प्रदर्शन रहा था

2016 के टी20 विश्व कप का आयोजन भारत में हुआ और भारत को इस विश्व कप जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। इस टूर्नामेंट के 13वें मैच में भारत का सामना न्यूजीलैंड से नागपुर में हुआ। न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। भारतीय गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड के सामने शानदार गेंदबाजी की और न्यूजीलैंड की टीम निर्धारित 20 ओवर में मात्र 126/7 का स्कोर ही बना पाई।

127 रन के छोटे लक्ष्य को देखते हुए भारतीय टीम को जीत का दावेदार माना जा रहा था लेकिन स्पिन गेंदबाजों की मददगार पिच में न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजों को संघर्ष करने पर मजबूर कर दिया। धोनी, विराट और अश्विन को छोड़कर टीम का कोई भी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक भी नहीं पहुंचा और पूरी टीम 79 पर आउट हो गयी। इस तरह न्यूजीलैंड ने यह मैच 47 रन से जीत लिया।

#1 विश्व कप सेमीफइनल, 2019

न्यूजीलैंड ने भारत को एक बार फिर पराजित किया
न्यूजीलैंड ने भारत को एक बार फिर पराजित किया

2019 विश्व कप के सेमीफइनल में न्यूजीलैंड के हाथों मिली हार की यादें अभी भी भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में ताजा हैं। इस मुकाबले में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी लेकिन टीम को जल्द ही गप्टिल के रूप में पहला झटका लगा। इसके बाद अगले तीन बल्लेबाजों ने अहम पारियां खेली, जिसमें से रॉस टेलर ने सर्वाधिक 74 रन बनाये। हालांकि भारतीय गेंदबाजों ने एक बार फिर वापसी की और अंत में लगातार विकेट लेकर न्यूजीलैंड को 239 के स्कोर पर रोक दिया।

240 का लक्ष्य भारतीय बल्लेबाजों के प्रदर्शन को देखते हुए मुश्किल नहीं था लेकिन न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों ने भारतीय टॉप ऑर्डर को विफल कर दिया और टीम एक समय मात्र 92 रन पर 6 विकेट खो चुकी थी। यहां से जडेजा और धोनी ने साझेदारी कर पारी को आगे बढ़ाया। जडेजा ने तेजी से रन बनाये और 77 रन बनाकर आउट हो गए। हालांकि धोनी जब तक थे तब उम्मीदें थी लेकिन गप्टिल की डायरेक्ट हिट पर उनके आउट होते ही भारत की उम्मीदें भी खत्म हो गयी और न्यूजीलैंड ने 18 रन से यह मैच जीत लिया।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment