Create
Notifications

3 खिलाड़ी जो WTC में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बन सकते हैं 

रविचंद्रन अश्विन और मार्नस लैबुशेन
रविचंद्रन अश्विन और मार्नस लैबुशेन
Prashant Kumar
visit

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) भारत (Indian Cricket Team) और न्यूजीलैंड (New Zealand Cricket Team) के बीच रोज बाउल में 18 से 22 जून तक खेले जाने वाले फाइनल के साथ समापन को तैयार है। इस चैंपियनशिप की शुरुआत 2019 में हुयी थी और अगले महीने इसका आखिरी मुकाबला खेला जायेगा। इस चैंपियनशिप का मुख्य उद्देश्य टॉप की टीमों के बीच मैचों को करवाकर दर्शकों को और अधिक रोमांच प्रदान करना था। हालांकि रोज बाउल के पहले फाइनल मुकाबला लॉर्ड्स में खेला जाना था लेकिन बाद में आईसीसी के द्वारा इसके स्थान में बदलाव कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: 5 खिलाड़ी जो IPL में टीम का हिस्सा होने के बावजूद कभी प्लेइंग XI का हिस्सा नहीं बने

इस चैंपियनशिप में दर्शकों को कई बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिले। कुछ बड़ी टीमें प्रभावित करने में नाकाम रहीं और कुछ टीमों ने अपनी ख्याति के मुताबिक बेहतरीन प्रदर्शन किया। सबसे कठिन प्रारूप की चैंपियनशिप में कई खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से पूरे टूर्नामेंट में सुर्खियां बटोरने में कामयाब रहे। इनमें से कुछ खिलाड़ियों की टीम भले ही फाइनल में ना पहुंची हो लेकिन व्यक्तिगत तौर पर इन खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन कर प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट के लिए अपनी दावेदारी मजबूत कर ली है। इस आर्टिकल में हम ऐसे ही 3 खिलाड़ियों का जिक्र करने जा रहे हैं, जो प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब जीत सकते हैं।

3 खिलाड़ी जो WTC में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बन सकते हैं

#3 मार्नस लैबुशेन

इस बल्लेबाज ने कई जबरदस्त पारियां खेली
इस बल्लेबाज ने कई जबरदस्त पारियां खेली

मार्नस लैबुशेन जब इस चैंपियनशिप की शुरुआत हुयी तब इसमें खेलने के बारे में सोच भी नहीं रहे होंगे लेकिन स्टीव स्मिथ की चोट इनके लिए वरदान साबित हुयी और इस बल्लेबाज को ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलने का मौका मिला। लैबुशेन ने मिले मौके को पूरी तरह से भुनाया और तब से वह ऑस्ट्रेलिया के लिए इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों में शामिल हैं। लैबुशेन ने इस चैंपियनशिप के 13 मैचों में 72.82 की औसत से 1675 रन बनाये हैं। इस दौरान इन्होंने 5 शतक तथा 9 अर्धशतक लगाए हैं। लैबुशेन इस चैंपियनशिप में सर्वाधिक रन बनाने आए बल्लेबाज हैं। ऐसे में अपने जबरदस्त प्रदर्शन के दम पर लैबुशेन भी प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बनने की दावेदारी रखते हैं।

#2 रविचंद्रन अश्विन

रविचंद्रन अश्विन
रविचंद्रन अश्विन

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में भारतीय टीम के दबदबे के पीछे रविचंद्रन अश्विन का बहुत बड़ा हाथ है। इस खिलाड़ी ने गेंदबाजी में विपक्षी बल्लेबाजों को जमकर अपनी फिरकी में फंसाया है। अश्विन ने इस टूर्नामेंट में अभी तक भारत के लिए सर्वाधिक विकेट हासिल किये हैं। इनके नाम 13 टेस्ट मैचों में 67 विकेट दर्ज हैं। इस चैंपियनशिप में सर्वाधिक विकेट पैट कमिंस के नाम हैं। कमिंस के नाम 70 विकेट दर्ज हैं, अगर फाइनल में अश्विन की फिरकी का जलवा दिखा तो वह सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन सकते हैं।

हालांकि अश्विन का बतौर बल्लेबाज पिछले कुछ समय से प्रदर्शन खराब रहा लेकिन ऑस्ट्रेलिया दौरे और फिर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट शतक लगाकर उन्होंने अच्छी वापसी की है। अश्विन के नाम 295 रन हैं और वह इस चैंपियनशिप में अपने ऑलराउंड खेल के दम पर प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब जीत सकते हैं।

#1 बेन स्टोक्स

बेन स्टोक्स
बेन स्टोक्स

बेन स्टोक्स विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में इंग्लैंड के सबसे सफल खिलाड़ियों में से एक रहे हैं। स्टोक्स ने बल्ले और गेंद दोनों के साथ ही अपना योगदान दिया है। इस टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में स्टोक्स चौथे नंबर पर हैं। उन्होंने 17 मैचों में 46 की औसत से 1334 रन बनाये हैं। इसके अलावा गेंदबाजी में उन्होंने 34 विकेट चटकाए हैं। स्टोक्स ने अपनी तरफ से पूरा दमखम लगाया लेकिन दुर्भाग्य से उनकी टीम फाइनल में प्रवेश करने में असफल रही। हालांकि स्टोक्स अपनी व्यक्तिगत शानदार ऑलराउंडर प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट जीतने के सबसे प्रबल दावेदार हैं।

Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now