Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

आईपीएल नीलामी 2019:  वरुण चक्रवर्ती 8.40 करोड़ में बिके लेकिन युवराज को एक करोड़, आख़िर क्यों ?

अनसोल्ड होने के बाद बेस प्राइस पर बिके युवराज
अनसोल्ड होने के बाद बेस प्राइस पर बिके युवराज
Syed Hussain
ANALYST
Modified 19 Dec 2018, 12:01 IST
फ़ीचर
Advertisement

आईपीएल 2019 के लिए मंगलवार की शाम जयपुर के जे डब्ल्यू मैरियट होटेल में नीलामी की प्रक्रिया हुई, जिसमें शामिल 351 खिलाड़ियों के बीच तमिलनाडु के मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती ने सभी कौ हैरान कर दिया। 27 वर्षीय दाएं हाथ के फिरकी गेंदबाज़ के लिए सभी टीम मालिकों के बीच कड़ी होड़ देखने को मिली और आख़िरकार किंग्स-XI पंजाब ने उन्हें 8.40 करोड़ रुपये में अपने साथ शामिल किया। आप ये जानकर चौंक जाएंगे कि वरुण ने अभी तक केवल एक प्रथम श्रेणी और महज़ 9 लिस्ट ए मुक़ाबला खेला है।

वरुण की ख़ासियत है उनकी मिस्ट्री स्पिन गेंदबाज़ी और ज़्यादा रन नहीं ख़र्च करना, तमिलनाडु प्रीमियर लीग में इस गेंदबाज़ ने सभी को अपनी ओर आकर्षित किया था और फिर इस साल विजय हज़ारे में भी चक्रवर्ती ने लाजवाब प्रदर्शन किया था। यही वजह है कि उनके लिए सभी टीम मालिकों के बीच इस क़दर होड़ देखने को मिली। वरुण इस नीलामी में सबसे ज़्यादा महंगे बिकने वाले खिलाड़ियों की फ़ेहरिस्त में जयदेव उनदकट के साथ संयुक्त तौर पर नंबर-1 पर रहे। बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ जयदेव उनदकट को उनकी पुरानी टीम राजस्थान रॉयल्स ने ही ख़रीदा।

वरुण के साथ साथ हाल ही में बड़ौदा के ख़िलाफ़ एक ओवर में पांच छक्के लगाने वाले मुंबई के बाएं हाथ के ऑलराउंडर शिवम दुबे पर भी ख़ूब बोली लगी और उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 5 करोड़ में ख़रीदा। बैंगलोर को मध्यक्रम में शिवम दुबे जैसे ही बल्लेबाज़ की ज़रूरत थी जो टीम के लिए तेज़ी रन बना सकें और ज़रूरत पड़ने पर गेंदबाज़ी भी कर सकें। वरुण और शिवम के लिए जहां टीम मालिकों के बीच होड़ दिखी तो कई ऐसे भी दिग्गज खिलाड़ी रहे जिन्हें कोई ख़रीदार नहीं मिल पाया। इसमें ब्रेंडन मैकुलम, डेल स्टेन, जेसन होल्डर, मार्टिन गप्टिल, हाशिम अमला, कोरी एंडरसन, क्रिस जॉर्डन और एडम ज़ैम्पा जैसे नाम शामिल हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह है इन खिलाड़ियों का पूरे सीज़न के लिए उपलब्ध होने पर सवालिया निशान। साथ ही साथ मैकुलम और स्टेन पर उम्र का हावी होना भी टीम मालिकों को पैसा न लगाने के लिए बाध्य कर गया।

हालांकि इसी फ़ेहरिस्त में पहले टीम इंडिया के सिक्सर किंग युवराज सिंह भी शामिल हो गए थे, जब पहली बार युवराज का नाम आया तो उन्हें कोई ख़रीदार नहीं मिला। युवराज का पहली बार अनसोल्ड होना क्रिकेट जगत में भूकंप आने जैसा था, सोशल मीडिया से लेकर न्यूज़ चैनल्स और तमाम पोर्टल पर ये ख़बर फैल गई कि युवराज नहीं बिके। वह खिलाड़ी जिसपर आईपीएल 2019 की नीलामी से पहले 51 करोड़ से भी ज़्यादा की बोली लग चुकी थी और वह आईपीएल इतिहास का सबसे महंगा बिकने वाला खिलाड़ी भी रह चुका था। लेकिन अब वक़्त बदल चुका है, युवराज का बल्ला और उनकी फ़िट्नेस दोनों पर ही सवाल उठने लगे हैं लिहाज़ा टीम मालिकों का भरोसा भी सिक्सर किंग पर से कम होता जा रहा है। पर शाम के बाद जब आख़िरी घंटे में अनसोल्ड खिलाड़ियों का नाम दोबारा आया तो इस बार युवराज की क़िस्मत बदली और मुंबई इंडियंस ने उनपर बोली लगाई। चूंकि मुंबई के अलावा किसी और टीम की ओर से कोई बोली नहीं लगी इसलिए युवराज को अपनी बेस प्राइस एक करोड़ पर ही बिकना पड़ा। जो युवराज के लिए इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास की सबसे कम क़ीमत है। उम्मीद है कि युवराज इस सीज़न में अपने आलोचकों को करारा जवाब देंगे और ये साबित करेंगे कि उनमें अभी क्रिकेट बाक़ी है, इस बार उनके पास मौक़ा भी होगा क्योंकि मुंबई इंडियंस उन्हें काइरोन पोलार्ड की जगह खिला सकती है।

युवराज के फ़ैन को जहां निराशा के बाद मुंबई इंडियंस में शामिल होने पर ख़ुशी मिली तो पंजाब के एक और युवा खिलाड़ी ने भी सभी को हैरान कर दिया। पंजाब के विकेटकीपर बल्लेबाज़ प्रभसिमरन सिंह के लिए भी टीम मालिकों ने जमकर बोली लगाई और उन्हें आख़िरकार किंग्स-XI ने 4.80 करोड़ में अपने साथ शामिल किया। किंग्स ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि प्रभसिमरन एक विशेषज्ञ विकेटकीपर भी हैं और इस टीम को कीपर की कमी पिछले साल भी खली थी, जब केएल राहुल ने ये ज़िम्मेदारी निभाई थी। प्रभसिमरन सिंह विकेटकीपर होने के साथ साथ एक विस्फोटक बल्लेबाज़ भी हैं और हाल ही में उन्होंने अंडर-23 में 298 रनों की ताबड़तोड़ पारी भी खेली थी।

कुल मिलाकर देखें तो इस साल भी किंग्स-XI पंजाब ने दूसरी टीमों की अपेक्षा कुछ अच्छे खिलाड़ियों पर पैसा लगाया है जिनमें सैम करन (7.20 करोड़), निकोलस पूरण (4.20 करोड़), मोहम्मद शमी (4.80 करोड़) और मोएसिस हेनरिक्स (1 करोड़) शामिल हैं।

इसके अलावा पिछले आईपीएल सीज़न में ख़रीदारों की नज़र से दूर रहने वाले भारतीय तेज़ गेंदबाज़ इशांत शर्मा (1.10 करोड़ में दिल्ली कैपिटल्स के पास) और वरुण एरोन (राजस्थान रॉयल्स ने 2.40 करोड़ में ख़रीदा) की भी क़िस्मत इस बार उनके साथ थी और इन दोनों की आईपीएल में वापसी भी हुई। एक और इतिहास जो इस आईपीएल में बना वह है लसिथ मलिंगा के नाम, मलिंगा जो पिछली बार अनसोल्ड रहे थे और फिर उन्हें मुंबई इंडियंस ने अपनी टीम का मेंटर बनाया था इस साल मुंबई इंडियंस ने ही मलिंगा को ख़रीदा। यानी ये पहला मौक़ा है जब कोई खिलाड़ी पिछले सीज़न में मेंटर और अगले सीज़न में वापस खिलाड़ी के तौर पर आईपीएल में खेलेगा। इसके पीछे की वजह क्रिकेट जानकार ये भी मान रहे हैं कि विश्वकप 2019 को देखते हुए मुंबई इंडियंस में जसप्रीत बुमराह शायद कम मैच खेलें और उनकी जगह मलिंगा उनके यॉर्कर स्पेशलिस्ट होंगे।

Published 19 Dec 2018, 12:01 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit