Create
Notifications

छह साल बाद वापसी करने वाले दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज ने इंग्लैंड के खिलाफ अपनी तूफानी पारी को लेकर दी प्रतिक्रिया

England v South Africa - 2nd Vitality IT20
England v South Africa - 2nd Vitality IT20
Neeraj

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के बाएं हाथ के बल्लेबाज राइली रूसो (Rilee Rossouw) ने छह साल बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी करते हुए बेहतरीन बल्लेबाजी की और अपनी टीम को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी20 में जीत दिलाई। सीरीज के पहले मैच में रूसो कुछ खास नहीं कर पाए थे, लेकिन दूसरे मैच में उन्होंने धुआंधार बल्लेबाजी की और प्लेयर ऑफ द मैच बने। मैच के दौरान रूसो को चोट भी लगी थी

उन्होंने अवार्ड पाने के बाद प्रतिक्रिया देते हुए कहा,

गला एकदम ठीक है, थोड़ी सुस्ती सी लग रही है। आपको हमेशा एक्टिव रहने की कोशिश करनी होती है। इस समर की शुरुआत में मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ा हुआ था और मुझे इस बात पर काफी गर्व है कि मुझे दोबारा देश के लिए चुना गया है। मैंने अपना बेस्ट करने की कोशिश की, लेकिन जॉर्डन ने अच्छा काम करके मुझे शतक नहीं बनाने दिया।

दो साल के इंटरनेशनल करियर के बाद ही रूसो ने साइन कर ली थी कोलपैक डील

2014 में इंटरनेशनल डेब्यू करने वाले रूसो ने जनवरी 2017 में ही कोलपैक डील साइन कर ली थी और इसके साथ ही उनका इंटरनेशनल करियर समाप्त हो गया था। कोलपैक डील के समय में रूसो ने दुनियाभर की टी20 लीग्स में हिस्सा लिया और टी20 क्रिकेट में खुद को एक दमदार बल्लेबाज के रूप में स्थापित किया। कोलपैक डील समाप्त होने के बाद उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी टीम में छह साल के बाद वापसी की है।

32 साल के रूसो ने टी20 इंटरनेशनल में अपना सर्वोच्च स्कोर बनाया है। उन्होंने नाबाद 96 रनों की पारी में 55 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके और पांच छक्के लगाए। 2014 में टी20 डेब्यू करने वाले रूसो ने अब तक केवल 17 टी20 मुकाबले ही खेल खेले हैं। इस दौरान उन्होंने लगभग 36 की औसत के साथ 427 रन बनाए हैं जिसमें तीन अर्धशतक शामिल हैं। टी20 इंटरनेशनल में उनका स्ट्राइक-रेट 145 के करीब का है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...