Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

क्रिकेट के ऐसे 5 रिकॉर्ड को जो अबतक टूट नहीं पाए हैं

ANALYST
आँकड़े
Timeless

Enter caption

टेस्ट क्रिकेट, क्रिकेट का सबसे महत्वपूर्ण फॉर्मेट है। टेस्ट क्रिकेट 140 सालों से खेला जा रहा है। टेस्ट मैच प्रत्येक खिलाड़ी को एक अलग पहचान देता है। साथ ही टेस्ट मैच प्लेयर की पिच पर खड़े रहने के मनोबल को भी मजबूत करता है। टेस्ट मैच किसी भी खिलाड़ी की बुनियाद परखने के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। 19वीं शताब्दी से क्रिकेट में टेस्ट मैच खेला जा रहा है। इनमें कई व्यक्तिगत रिकॉर्ड और कई दूसरे रिकॉर्ड भी जमकर बने हैं।

एक कहावत है कि रिकॉर्ड टूटने के लिए बने होते हैं लेकिन हमारे पास 5 ऐसे रिकॉर्ड हैं जो 19वीं शताब्दी के आखिर से अभी तक नहीं टूटे है।

आइये ऐसे ही पांच क्रिकेट रिकॉर्ड पर एक नजर डालते हैं जो 100 सालों से नहीं टूटे हैं:

#1 एक पूर्ण टेस्ट पारी में रनों का सर्वोच्च प्रतिशत (1877)

यह रिकॉर्ड दुनिया में खेले गए सबसे पहले टेस्ट मैच में बना था। यह सुनने में काफी अजीब है लेकिन यह सच है। यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के चार्ल्स बैनरमैन (जोकि पहले टेस्ट में सबसे पहली गेंद का सामना करने वाला बल्लेबाज थे और इन्हें टेस्ट मैच के पहले क्रिकेटर के तौर पर भी जाना जाता है) ने बनाया था।

उन्होंने टीम के टोटल 245 रनों में 165 रन बनाये थे, जिसमें उनका योगदान 67.34% का था। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 45 रनों से जीत दर्ज की थी। अगर इस रिकॉर्ड को तोड़ने की बात की जाए तो इसके आसपास माइकल स्लेटर पहुंचे, जिन्होंने 1999 में टीम के 186 रन के टोटल में 123 रन बनाये थे और उनका योगदान 66.87% था।


यह भी पढ़ें: 5 भारतीय बल्लेबाज जिन्होंने गेंद के साथ यागदान देते हुए मैच का रुख बदला

क्रिकेट की ब्रेकिंग न्यूज़ और ताज़ा ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

1 / 5 NEXT
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...