Create
Notifications

वर्ल्ड कप 2019: टूर्नामेंट में लगाए गए 4 सबसे बेहतरीन शतक 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बल्लेबाजी करते केन विलियमसन
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बल्लेबाजी करते केन विलियमसन
Neeraj
visit

वर्ल्ड कप 2019 अपने अंतिम चरण में पहुंच गया है और अगले हफ्ते से क्रिकेट के महाकुंभ का सेमीफाइनल खेला जाना है। भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल में जगह बनाई है। टूर्नामेंट से बाहर होने वाली टीमों ने भी अच्छा क्रिकेट खेला।

वेस्टइंडीज से इस बार काफी उम्मीदें थीं, लेकिन उनके सीनियर खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी औसत रहा जिसका खामियाजा उन्हें टूर्नामेंट से बाहर होकर भुगतना पड़ा। हालांकि, वेस्टइंडीज के लिए एक शानदार बात यह रही कि इस टूर्नामेंट में उनके युवा खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से भविष्य के लिए उम्मीदें जगाई हैं।

इस विश्व कप में शतक तो कई लगे हैं, लेकिन कई खिलाड़ियों ने मुश्किल परिस्थिति में बल्लेबाजी करते हुए अपनी टीम के लिए शानदार शतक लगाया है। एक नजर डालते हैं इस वर्ल्ड कप में अब तक लगे 4 सबसे बेहतरीन शतकों पर।

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: 4 खिलाड़ी जिन्हें वर्ल्ड कप के बाद टीम से बाहर किया जा सकता है

#4 कार्लोस ब्रेथवेट बनाम न्यूजीलैंड

कार्लोस ब्रेथवेट
कार्लोस ब्रेथवेट

वर्ल्ड कप 2019 के 29वें मुकाबले में वेस्टइंडीज का सामना न्यूजीलैंड से हुआ। पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने केन विलियमसन (148) की बदौलत 291 रनों का स्कोर खड़ा किया। जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज 20 रनों पर ही 2 विकेट गंवा चुकी थी।

142 के स्कोर पर तीसरा विकेट गिरने के बाद वेस्टइंडीज का स्कोर तेजी के साथ सात विकेट के नुकसान पर 164 हो गया। क्रीज पर मौजूद ब्रेथवेट ने रन बनाने की जिम्मेदारी अपने ऊपर ली और एक छोर पर तेजी के साथ रन बनाना शुरु किया।

ब्रेथवेट ने 82 गेंदों में 8 चौके और 5 छक्कों की बदौलत 101 रनों की पारी खेली। हालांकि, ब्रेथवेट का दुर्भाग्य रहा कि 286 के स्कोर तक पहुंचाने के बाद वह छक्का मारने के प्रयास में आउट हो गए और वेस्टइंडीज 5 रनों से मुकाबला हार गया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#3 रोहित शर्मा बनाम दक्षिण अफ्रीका

अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाने के बाद रोहित
अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाने के बाद रोहित

वर्ल्ड कप 2019 के अपने पहले मैच में भारत ने अपनी गेंदबाजी के दम पर दक्षिण अफ्रीका को 227 रनों के स्कोर पर रोक दिया था। हालांकि, जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही और 13 रनों के स्कोर पर ही उन्होंने शिखर धवन का विकेट गंवा दिया।

अफ्रीका के तेज गेंदबाजों को पिच से मदद मिल रही थी और वे काफी कसी हुई गेंदबाजी कर रहे थे ऐसे में रोहित शर्मा ने क्रीज पर समय बिताने का फैसला किया। रोहित ने धैर्य के साथ बल्लेबाजी की और अफ्रीका के गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया।

यह भी पढ़ें: वर्ल्ड कप 2019: 3 खिलाड़ी जिन्हें मयंक अग्रवाल की जगह टीम में शामिल किया जाना चाहिए था

इस मुकाबले में रोहित ने 144 गेंदों में 122 रनों की नाबाद पारी खेली जो शायद उनके करियर की सबसे धीमी पारियों में से एक होगी, लेकिन रोहित द्वारा धैर्य दिखाना उस दिन भारत की जीत का सबसे बड़ा कारण था।

#2 जॉनी बेयरस्टो बनाम न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड के खिलाफ शतक लगाने के बाद जॉनी बेयरेस्टो
न्यूजीलैंड के खिलाफ शतक लगाने के बाद जॉनी बेयरेस्टो

इंग्लैंड को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए किसी भी सूरत में न्यूजीलैंड को हराना था और इसके लिए उन्हें दमदार शुरुआत की जरूरत थी। न्यूजीलैंड के खिलाफ जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय ने मिलकर इंग्लैंड को धुंआधार शुरुआत दिलाई औऱ पहले विकेट के लिए 123 रन जोड़े।

भले ही रॉय 60 रन बनाकर आउट हो गए, लेकिन बेयरस्टो ने अपना कहर जारी रखा। बेयरस्टो ने 99 गेंदों में 106 रनों की पारी खेली जिसकी बदौलत इंग्लैंड ने स्कोरबोर्ड पर 305 रनों का स्कोर खड़ा किया। बेयरस्टो की पारी इसलिए बेहद खास है क्योंकि इंग्लैंड के लिए यह मुकाबला क्वार्टर फाइनल सरीखा था और सेमीफाइनल में जाने के लिए उन्हें इस मुकाबले को हर हाल में जीतना था।

प्रेशर वाले मुकाबले में बेयरस्टो ने समझदारी भरी पारी खेली और भारत के खिलाफ शतक के बाद लगातार दूसरा शतक जड़ा।

#1 केन विलियमसन बनाम दक्षिण अफ्रीका

केन विलियमसन
केन विलियमसन

दक्षिण अफ्रीका ने वर्ल्ड कप के 25वें मुकाबले में न्यूजीलैंड के सामने 242 का लक्ष्य रखा था। न्यूजीलैंड ने स्कोर का पीछा करते हुए 12 रनों पर एक विकेट गंवा दिया था। केन विलियमसन और मार्टिन गप्टिल ने पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन गप्टिल के आउट होते ही न्यूजीलैंड ने लगातार विकेट गंवाए।

32.2 ओवर में न्यूजीलैंड 5 विकेट के नुकसान पर 132 रन बनाकर संघर्ष कर रही थी, लेकिन विलियमसन के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था। विलियमसन ने कॉलिन डी ग्रैंडहोम (60) के साथ मिलकर स्कोर 228 रनों तक पहुंचाया।

अंतिम 7 गेंदों में न्यूजीलैंड को जीत के लिए 12 रनों की जरूरत थी और विलियमसन स्ट्राइक पर थे। लुंगी एनगीडी की गेंद को थर्डमैन की तरफ स्टियर करके विलियमसन ने बाउंड्री हासिल की। जब न्यूजीलैंड को 5 गेंदों में 7 रन की जरूरत थी तो विलियमसन ने 1 छक्का और 1 चौका लगाकर अपना शतक पूरा करने के साथ ही न्यूजीलैंड को 4 विकेट से मैच भी जिता दिया।

Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now