Create
Notifications

हार्दिक पांड्या के पिता का हुआ निधन, सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी से वापस लौटे क्रुणाल पांड्या

क्रुणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या अपने पिता के साथ
क्रुणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या अपने पिता के साथ
Nitesh
ANALYST
Modified 16 Jan 2021
न्यूज़

भारत के दो दिग्गज ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya) और हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) के पिता का निधन हो गया है। शनिवार सुबह कार्डियक अरेस्ट की वजह से हार्दिक पांड्या के पिता हिमांशु पांड्या की मौत हो गई। ये खबर सामने आने के बाद क्रुणाल पांड्या सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी से वापस लौट आए हैं।

बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन के सीईओ शिशिर हट्टांगडी ने एएनआई से बातचीत में बताया "क्रुणाल पांड्या बायो बबल से बाहर निकल गए हैं। ये एक व्यक्तिगत क्षति है और बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन दुख की इस घड़ी में उनके और हार्दिक पांड्या के साथ है।"

सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी में बड़ौदा की टीम ग्रुप सी में है और लगातार तीन मुकाबले जीत चुके हैं। बड़ौदा ने अभी तक उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और छत्तीसगढ़ को हराया है। क्रुणाल पांड्या टीम के कप्तान थे और तीन मैचों में 77 रन बनाए थे। इसमें से 76 रन तो सिर्फ उत्तराखंड के खिलाफ मुकाबले में ही उन्होंने बनाए थे। इसके अलावा वो अभी तक चार विकेट भी चटका चुके थे।

ये भी पढ़ें: मोहम्मद अजहरुद्दीन को प्रमुख लीग में मिली बड़ी जिम्मेदारी, अहम टीम के साथ जुड़े

इससे पहले क्रुणाल पांड्या के ऊपर दीपक हूडा ने एक बड़ा आरोप लगाया था। दीपक हूडा ने कहा था कि क्रुणाल पांड्या ने उनके साथ सबके सामने बदतमीजी की है और इसी वजह से उन्होंने बड़ौदा टीम की तरफ से खेलने से भी मना कर दिया था और सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी से अपना नाम वापस ले लिया था। पिता का निधन क्रुणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या के लिए एक बड़ी क्षति है।

इरफान पठान और यूसुफ पठान ने जताया शोक

यूसुफ पठान और इरफान पठान ने क्रुणाल पांड्या के पिता के निधन पर अपना शोक प्रकट किया है।

ये भी पढ़ें: 3 दिग्गज भारतीय खिलाड़ी जो शायद अब टेस्ट टीम में कभी वापसी ना कर पाए

Published 16 Jan 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now