Create
Notifications

सचिन तेंदुलकर की चेन्नई में खेली गई शतकीय पारी, वीरेंदर सहवाग के तिहरे शतक से बेहतरीन पारी थी-सकलैन मुश्ताक

सचिन तेंदुलकर और वीरेंदर सहवाग
सचिन तेंदुलकर और वीरेंदर सहवाग
SENIOR ANALYST
Modified 11 Jul 2020
न्यूज़

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज स्पिनर सकलैन मुश्ताक ने 1999 के चेन्नई टेस्ट मैच में सचिन तेंदुलकर की शतकीय पारी को वीरेंदर सहवाग के मुल्तान में लगाए गए तिहरे शतक से बेहतरीन पारी बताया है। सकलैन मुश्ताक ने कहा कि वीरेंदर सहवाग ने जब वो पारी खेली थी तब कंडीशंस काफी अच्छे थे और पाकिस्तानी टीम पूरी तैयारी के साथ भी नहीं उतरी थी। सकलैन मुश्ताक ने वीरेंदर सहवाग और सचिन तेंदुलकर की पारियों की तुलना की। हालांकि उन्होंने वीरेंदर सहवाग को महान प्लेयर भी कहा।

यू-ट्यूब शो क्रिकेट बाज में सकैलन मुश्ताक ने भारत के दोनों पूर्व दिग्गज ओपनरों की पारियों के बारे में अपनी राय दी। वीरेंदर सहवाग के तिहरे शतक के बारे में सकलैन मुश्ताक ने कहा कि वो लकी थे क्योंकि कंडीशंस उस वक्त बल्लेबाजी के लिए काफी बेहतरीन थी।

ये भी पढ़ें: आईपीएल के बिना क्रिकेट कैलेंडर की कल्पना नहीं की जा सकती है-जोंटी रोड्स

ऐसा लगता है कि हालात सहवाग की बल्लेबाजी के लिए बिल्कुल अनुकूल थे। हालांकि ऐसा नहीं है कि ये कहकर मैं उन्हें खराब ओपनर कह रहा हूं। वो एक बहुत ही अच्छे बल्लेबाज हैं और महान खिलाड़ी हैं।

सकलैन मुश्ताक ने कहा कि काफी सारी चीजें उस मुकाबले में वीरेंदर सहवाग के पक्ष में गई थीं। शोएब अख्तर चोटिल हो गए थे और वो खुद इंजरी का शिकार हो गए थे।

ना केवल मैं और शोएब अख्तर चोटिल थे, बल्कि विकेट भी काफी फ्लैट थी। उस विकेट पर गेंदबाजी करना काफी मुश्किल था और पूरी पाकिस्तान टीम की गेंदबाजी दबाव में आकर बिखर गई थी। बोर्ड में काफी इश्यू चल रहे थे। इंजमाम उल हक को अचानक कप्तान बना दिया गया था, क्योंकि उससे पहले कोई और कप्तान था। काफी सारी चीजें बदल रही थीं और खिलाड़ियों का फोकस पूरी तरह से नहीं था, उन्होंने तैयारी भी सही से नहीं कर रखी थी। जब एशेज सीरीज होती है तो उसकी तैयारी वो लोग एक साल तक करते हैं लेकिन हमारा मैच भारत के खिलाफ था और कोई तैयारी नहीं की गई थी।

सचिन तेंदुलकर की शतकीय पारी वीरेंदर सहवाग के तिहरे शतक से बेहतरीन पारी थी-सकलैन मुश्ताक

सकलैन मुश्ताक ने कहा कि सहवाग के लिए उस मुकाबले में चीजें आसान थीं, लेकिन सचिन तेंदुलकर ने विपरीत परिस्थितियों में वो शतक लगाया था।

वीरेंदर सहवाग काफी विस्फोटक बल्लेबाज हैं लेकिन मैं उनकी उस पारी को ज्यादा महत्व नहीं दूंगा। मैं यही कहुंगा कि प्रकृति ने उनको थाली में सजाकर वो चीज दे दी थी। सचिन तेंदुलकर ने चेन्नई टेस्ट मैच की दूसरी पारी में जो 130 रनों की पारी खेली थी, उसे मैं सहवाग के तिहरे शतक से बेहतर पारी मानता हूं। क्योंकि उस मुकाबले में हम अपनी पूरी तैयारी के साथ गए थे और जमकर मुकाबला हुआ था।

ये भी पढ़ें: 18 अगस्त से त्रिनिदाद एंड टोबैगो में होगा कैरेबियन प्रीमियर लीग का आयोजन

Published 11 Jul 2020
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now