Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

स्टीव स्मिथ को दोबारा ऑस्ट्रेलियाई टीम का कप्तान बनाने की उठी मांग

स्टीव स्मिथ
स्टीव स्मिथ
Nitesh
ANALYST
Modified 19 Jan 2021
न्यूज़
Advertisement

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई टीम (Australia Cricket Team) ज्यादा अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई। वहीं कप्तान टिम पेन का प्रदर्शन भी उतना अच्छा नहीं रहा, खासकर उनकी विकेटकीपिंग और रणनीति सवालों के घेरे में रही। यही वजह है कि एक बार फिर स्टीव स्मिथ (Steve Smith) को ऑस्ट्रेलिया का कप्तान बनाए जाने की मांग उठने लगी है। पूर्व दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज इयान हीली ने स्मिथ को दोबारा कप्तान बनाए जाने का समर्थन किया है।

इयान हीली के मुताबिक अगले 12 से 18 महीने में वो स्टीव स्मिथ को दोबारा ऑस्ट्रेलिया के कप्तान के रूप में देखना चाहते हैं। एसईएन रेडियो से बातचीत में इयान हीली ने कहा "अब से लेकर अगले 12 से 18 महीने में मैं स्टीव स्मिथ को कप्तान के रूप में देखना चाहता हूं। अगर वो चाहते हैं तभी उन्हें कप्तान बनाया जाए क्योंकि ये टीम को फिर से जीवित करने का समय है। मैं चाहता हूं कि वो टीम को मजबूती से लीड करें और एक लीडर बने। जो भी लोग उनके ऊपर शक कर रहे हैं और उनसे नफरत कर रहे हैं उन्हें जवाब दें। उन्हें काफी बड़ी सजा मिल चुकी है।"

ये भी पढ़ें: पूर्व दिग्गज खिलाड़ी ने भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच वर्तमान टेस्ट सीरीज की तुलना 2005 एशेज से की

इयान हीली ने आगे कहा " दुनिया में सबको यही लगता है कि स्टीव स्मिथ ने ही बॉल टैंपरिंग की थी। लेकिन मैं उनको ये कहना चाहता हूं कि उन्हें इन चीजों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी और टीम में जैसा चल रहा था उसे उन्होंने वैसा ही चलने दिया।"

बॉल टैंपरिंग की घटना के बाद स्टीव स्मिथ पर लगा था एक साल का बैन

आपको बता दें कि 2018 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ हुए बॉल टैंपरिंग की घटना के बाद डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ और कैमरन बैनक्रोफ्ट के ऊपर बैन लगा दिया गया था। एक साल के बैन के बाद स्मिथ और वॉर्नर ने क्रिकेट में वापसी की। स्मिथ की कप्तानी के ऊपर भी बैन लग गया था।

ये भी पढ़ें: 2 मौके जब भारतीय टीम ने टेस्ट मैच की चौथी पारी में 300 से ज्यादा रनों के लक्ष्य का पीछा किया

Published 19 Jan 2021, 12:19 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now