Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

स्टीव स्मिथ (Steve Smith)


ABOUT
ABOUT

स्टीव स्मिथ एक ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर हैं, जो खेल के तीनों प्रारूपों में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान रह चुके हैं। वह दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और दाएं हाथ के लेग स्पिनर भी हैं, जो कभी-कभी गेंदबाजी भी कर लेते हैं। स्मिथ ने पिछले 3-4 वर्षों में अपने बल्लेबाजी से पूरे क्रिकेट जगत को प्रभावित किया है।




शुरुआत में गेंदबाज के रूप में प्रभाव छोड़ा


स्मिथ का जन्म 2 जून 1989 को सिडनी में हुआ था। उन्होंने 2008 में न्यू साउथ वेल्स के लिए अपने घरेलू करियर की शुरुआत की थी। उनके गेंदबाजी कौशल को शेन वॉर्न की मेंटरशिप में सम्मानित किया गया था। वह मुख्य रूप से एक शीर्ष क्रम के बल्लेबाज हैं।


वनडे डेब्यू में विकेट चटकाए


स्मिथ ने फरवरी 2010 में पाकिस्तान के खिलाफ एक टी-20 मैच से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया। मैच में उन्होंने दो विकेट झटके। उन्होंने उसी महीने मेलबर्न में वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे डेब्यू किया। उस मैच में उन्होंने 2 विकेट लिए।


उनका टेस्ट डेब्यू जुलाई 2010 में पाकिस्तान के खिलाफ हुआ था, जहां स्मिथ ने दूसरी पारी में बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए तीन विकेट लिए थे। इस मैच में स्मिथ और मार्कस नॉर्थ की स्पिन जोड़ी ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को आसानी से जीत हासिल करवाई थी।


बल्लेबाज के रूप में 2013 में वापसी की


स्मिथ अंतरराष्ट्रीय करियर के शुरुआती दौर में एक ऑलराउंडर के रूप में खेले। उन्होंने अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूरी बना ली थी। उन्होंने 2013 में भारत के खिलाफ टेस्ट मैच में अपनी वापसी की। उनका पहला टेस्ट शतक इंग्लैंड के खिलाफ ओवल के मैदान में आया था।


एक पूर्णकालिक बल्लेबाज के रूप में खेलते हुए उन्होंने शुरुआत में अपनी नई भूमिका को समायोजित करने के लिए कुछ समय लिया। हालांकि, एक बार जब वह फिट हुए तो वह ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए रन मशीन बन गए। उन्होंने 2014 के भारत दौरे पर सभी चार मैचों में शतक बनाए थे।


2015 के आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया को खिताब दिलाने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। वह टीम के प्रमुख और सफल बल्लेबाज साबित हुए थे। भारत के खिलाफ सेमीफाइनल में शतक और फाइनल में नाबाद 56 रन की पारी उनके सबसे उल्लेखनीय योगदान थे। 2015 में उन्हें आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर भी चुना गया था।


बॉल टैंपरिंग ने करियर किया प्रभावित


स्टीव स्मिथ का अब तक का शानदार करियर रहा है। हालांकि, बॉल टेंपरिंग प्रकरण के बाद स्मिथ को काफी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा। उन्हें एक साल के लिए क्रिकेट से बैन कर दिया गया था। फिर भी उन्होंने अपनी मजबूत वापसी से सबको आश्चर्य में डाल दिया।


क्लब करियर


स्मिथ अपना घरेलू क्रिकेट न्यू साउथ वेल्स और सिडनी सिक्सर्स के लिए खेलते हैं। उन्होंने आईपीएल में कोच्चि टस्कर्स केरल, पुणे वॉरियर्स इंडिया, राजस्थान रॉयल्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स का प्रतिनिधित्व किया है।


चौंका देने वाला है औसत


स्मिथ के नाम कई बल्लेबाजी रिकॉर्ड दर्ज हैं। स्मिथ की सबसे उल्लेखनीय उपलब्धि 64.56 का चौंका देने वाला टेस्ट औसत बनाए रखना है। इस वजह से वह सर डॉन ब्रेडमैन के बाद दूसरे स्थान पर आते थे। वनडे में भी उनका औसत 41.41 का है।


वह लगातार चार साल तक टेस्ट क्रिकेट में 1000 रन या उससे अधिक रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज हैं। उन्होंने विश्व कप इतिहास में सबसे अधिक लगातार 50 रनों से ज्यादा के स्कोर का रिकॉर्ड 2015 विश्वकप में बनाया है। उन्होंने लगातार पांच बार टूर्नामेंट में यह कारनामा किया था।

Fetching more content...