आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप: भारत की आगामी तीन सीरीज जो उन्हें टेस्ट चैंपियन बनने से रोक सकती है

विराट कोहली
विराट कोहली

हाल ही में खत्म हुई इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच की एशेज़ सीरीज से आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज हो चुका है। भारत ने अभी तक अपनी एक टेस्ट सीरीज खेली है, वह भी वेस्टइंडीज के खिलाफ जिसमें उन्हें जीत मिली है। भारत की इस टेस्ट चैंपियनशिप में अभी 5 टेस्ट सीरीज बाकी है। वैसे तो भारत एक मजबूत और खतरनाक टीम है और बड़ी-बड़ी टीमें उससे खौफ खाती है तथा इस टीम के पास ऐसे-ऐसे महारथी खिलाड़ी हैं, जो अकेले दम पर किसी भी टीम का खेल बिगाड़ सकते हैं। इस सूची में विराट कोहली हैं जो कि प्रत्येक फॉर्मेट के बेताज बादशाह हैं। इस सूची में जसप्रीत बुमराह हैं जिनकी यॉर्कर का जवाब आज तक कोई भी बल्लेबाज नहीं दे पाया है। सिर्फ यही खिलाड़ी नहीं इस टीम में चेतेश्वर पुजारा, मोहम्मद शमी हैं और इशांत शर्मा भी हैं। इन महारथी खिलाड़ियों की फेहरिस्त बहुत ही लंबी है।

लेकिन आज हम इस लेख में तीन ऐसी टेस्ट सीरीज के बारे में बात करेंगे जो भारत के पहले आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन बनने के रास्ते में सबसे बडा़ रोड़ा है।

#1 भारत बनाम न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड टीम
न्यूजीलैंड टीम

भारत और न्यूजीलैंड के बीच यह सीरीज न्यूजीलैंड में खेली जाएगी। दो टेस्ट मैचों की यह सीरीज़ 2020 में फरवरी-मार्च में खेली जाएगी। वैसे तो भारत के सामने न्यूजीलैंड का पलड़ा हल्का ही नजर आता है, लेकिन न्यूजीलैंड की टीम अपने घर पर कुछ कमाल दिखा सकती है। इस बात पर भी किसी को भी शक नहीं होना चाहिए कि न्यूजीलैंड की टीम एक परिपक्व टीम है, जो किसी भी टीम को धूल चटाने में माहिर है। यह जरूर है कि भारतीय टीम का प्रदर्शन न्यूजीलैंड के खिलाफ अच्छा रहा है, लेकिन न्यूजीलैंड को उसके घर पर हराना भारतीय टीम के लिए इतना भी आसान नहीं होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2 भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलियाई टीम
ऑस्ट्रेलियाई टीम

चार टेस्ट मैचों की यह सीरीज आस्ट्रेलियाई धरती पर खेली जाएगी। यह टेस्ट सीरीज नवंबर 2020 से जनवरी 2021 के बीच खेली जाएगी। इस पूरे आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दौरान भारतीय टीम की यह सबसे कठिन सीरीज होगी, क्योंकि हाल ही में ऑस्ट्रेलिया ने जिस तरह का प्रदर्शन इंग्लैंड के खिलाफ इंग्लैंड की धरती पर दिखाया है, उससे यह तो साफ हो गया कि ऑस्ट्रेलियाई टीम इस पहले आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के खिताब की प्रबल दावेदार है। स्मिथ और वॉर्नर की वापसी से इस टीम को और भी मजबूती मिली है। साथ ही साथ इस टीम के तेज गेंदबाजों ने टीम का रुतबा ही बदल दिया है। यह जरूर है कि वॉर्नर शानदार फॉर्म में नहीं चल रहे हैं, लेकिन उनके जैसा अनुभवी खिलाड़ी किसी भी बड़े मैच में पलटवार कर सकता है। इन खासियतों के अलावा जब ऑस्ट्रेलियाई टीम अपनी धरती पर मैच खेलेगी तो वह और भी आक्रामक खेल दिखाएगी। भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ एक अलग ही योजना बनाकर मैदान में उतरना होगा तभी वह इस सीरीज में शानदार प्रदर्शन दिखा पाएगी।

#3 भारत बनाम इंग्लैंड

इंग्लैंड टीम
इंग्लैंड टीम

भारत और इंग्लैंड के बीच यह टेस्ट सीरीज साल 2021 में जनवरी से मार्च के बीच खेली जाएगी। यह टेस्ट सीरीज भारतीय धरती पर होगी और इस सीरीज के दौरान पांच टेस्ट मैच खेले जाएंगे। घरेलू मैदान होने की वजह से भारतीय टीम का पलड़ा इस सीरीज में भारी रहेगा। परंतु जिस तरह से इंग्लैंड के खिलाड़ी आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करते हैं और उनका यहां की परिस्थितियों से जिस तरह का तालमेल देखने को मिलता है, उससे यह कहना गलत नहीं होगा कि यह टीम भारत को उसके घर में हराने का माद्दा रखती है। इंग्लैंड का फॉर्म पहले से ही शानदार चल रहा है, जो उसने हाल ही में हुई एशेज़ सीरीज में दिखाया। इस टीम की तेज गेंदबाजी तिकड़ी: स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन और जोफ्रा आर्चर जिस तरह से कहर भर पा रहे हैं, उससे किसी भी बल्लेबाज का टिकना उनके सामने मुश्किल दिखाई देता है। इंग्लैंड की टीम के पास आदिल रशीद और मोईन अली जैसे फिरकी गेंदबाज भी हैं, जो कि भारतीय परिस्थितियों में अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं। साथ-साथ उनके पास बल्लेबाजों की ऐसी फौज है जो किसी भी गेंदबाजी लाइन-अप को तहस-नहस कर सकती है।

Quick Links

App download animated image Get the free App now