Create

क्रुणाल पांड्या एक ओवर में छह छक्‍के जमाने का रिकॉर्ड अपने नाम करना चाहते हैं

क्रुणाल पांड्या एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम करना चाहते हैं
क्रुणाल पांड्या एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम करना चाहते हैं

मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya) ने एक इंटरव्‍यू में खुलासा किया कि वह अपने करियर के अंत में अपने नाम 1 ओवर में 6 छक्‍के लगाने का रिकॉर्ड दर्ज होते हुए देखना चाहेंगे। ईएसपीएनक्रिकइंफो ने क्रुणाल पांड्या से पूछा कि अपने करियर के अंत में कौन सा रिकॉर्ड अपने नाम करना चाहेंगे। इसके जवाब में पांड्या ने कहा, 'एक ओवर में छह छक्‍के जमाना।'

पता हो कि अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर एक ओवर में छह छक्‍के लगाने को दुर्लभ उपलब्धि माना जाता है। हाल ही में यूएसए के जसकरण मल्‍होत्रा इस स्‍पेशल क्‍लब में शामिल हुए। ओमान में पापुआ न्‍यू गिनी के खिलाफ दूसरे वनडे में जसकरण ने पारी के आखिरी ओवर में लगातार छह छक्‍के जड़कर यह उपलब्धि हासिल की। मल्‍होत्रा को इस प्रदर्शन के बाद काफी बधाइयां मिली।

याद दिला दें कि दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्‍लेबाज हर्शेल गिब्‍स अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में एक ओवर में लगातार छह छक्‍के जमाने वाले पहले खिलाड़ी हैं। गिब्‍स ने 2007 विश्‍व कप में नीदरलैंड्स के खिलाफ यह कमाल किया था।

वहीं भारत के युवराज सिंह ने टी20 विश्‍व कप के उद्घाटन संस्‍करण में इंग्‍लैंड के तेज गेंदबाज स्‍टुअर्ट ब्रॉड की गेंदों पर लगातार छह छक्‍के जड़े थे।

हाल ही में वेस्‍टइंडीज के स्‍टार बल्‍लेबाज किरोन पोलार्ड भी टी20 क्रिकेट में एक ओवर में लगातार छह छक्‍के जमाए थे। पोलार्ड ने इस साल मार्च में अकिला धनंजय के ओवर में यह कमाल किया था। अब क्रुणाल ने मंशा जाहिर की है कि इस खास उपलब्धि में उनका नाम भी शामिल हो।

बायोपिक में ये दो हो एक्‍टर: क्रुणाल पांड्या

पिछले कुछ समय से देखने को मिला है कि क्रिकेटर्स पर बायोपिक बन रही है। क्रुणाल पांड्या से पूछा गया कि हार्दिक और आप पर अगर कोई फिल्‍म बनती है तो दोनों भाइयों की भूमिका कौन निभाएगा?

क्रुणाल पांड्या ने गहरी सोच के बाद विकी कौशल और रणवीर सिंह का नाम लिया। क्रुणाल ने कहा, 'विकी कौशल मेरा रोल करेंगे और हार्दिक की भूमिका में रणवीर सिंह होंगे।'

क्रुणाल पांड्या से पूछा गया कि क्‍या आपने कभी हार्दिक को स्‍लेजिंग की है। इस पर क्रुणाल ने जवाब दिया, 'बात ऐसी है कि जब हम अभ्‍यास कर रहे होते हैं तो हमें एक ऐसे व्‍यक्ति की जरूरत होती है, जो जज कर सके। मान लीजिए कि अगर नेट्स पर मैं बल्‍लेबाजी कर रहा हूं और हार्दिक गेंदबाजी कर रहा है तो हमें तीसरे व्‍यक्ति की जरूरत होती है, जो फैसला करे कि आउट है या 1 रन या दो रन है। अगर हम दोनों अकेले तो किसी नतीजे पर पहुंचेंगे ही नहीं।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment