Create
Notifications

"जब शोएब मलिक को 2009 में कप्तान बना दिया गया था तो मैंने संन्यास लेने के बारे में सोचा था"

शाहिद अफरीदी और शोएब मलिक
शाहिद अफरीदी और शोएब मलिक
सावन गुप्ता
visit

पाकिस्तान (Pakistan Cricket Team) के पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि टीम पॉलिटिक्स से तंग आकर उन्होंने 2009 में संन्यास लेने का फैसला कर लिया था। अफरीदी के मुताबिक जब 2009 में शोएब मलिक (Shoaib Malik) को कप्तान बना दिया गया था तो उन्होंने रिटायरमेंट लेने के बारे में सोचा था।

शाहिद अफरीदी के मुताबिक पाकिस्तान ने भले ही 2009 में टी20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था लेकिन टीम स्प्रिट बिल्कुल भी नहीं था। काफी सारी चीजें टीम में चल रही थीं। समा टीम के साथ इंटरव्यू में उन्होंने बताया,

मैंने फैसला किया था कि अब और आगे क्रिकेट नहीं खेलुंगा। शोएब मलिक को कप्तान बना दिया गया था और टीम के अंदर काफी पॉलिटिक्स चल रही थी।

ये भी पढ़ें: 3 दिग्गज खिलाड़ी जिन्हें अगर ज्यादा मौका मिलता तो वे एक बेहतरीन कप्तान साबित हो सकते थे

शाहिद अफरीदी ने शोएब अख्तर से भी जुड़ा एक बड़ा खुलासा किया

इससे पहले शाहिद अफरीदी ने एक और बड़ा खुलासा किया था। दरअसल 2007 में पूर्व दिग्गज गेंदबाज शोएब अख्तर ने मोहम्मद आसिफ को बल्ले से मार दिया था और उस घटना की काफी चर्चा हुई थी। बाद में दक्षिण अफ्रीका से टी20 विश्व कप खेले बगैर अख्तर को वापस भेज दिया गया था। शोएब अख्तर ने अपनी किताब "कन्ट्रोवर्सिली योर्स" में जिक्र करते हुए कहा था कि शाहिद अफरीदी ने इस घटना को बढ़ा दिया था।

अफरीदी ने कहा कि चीजें हो जाती है लेकिन मैंने इसे बढ़ाया नहीं था। एक जोक के दौरान मोहम्मद आसिफ मेरी तरफ हो गए थे। इसकी वजह से शोएब अख्तर नाराज हो गए थे और यह घटना घटी। शोएब काफी अच्छे दिल के हैं।

आपको बता दें कि शाहिद अफरीदी ने लंबे समय तक पाकिस्तान के लिए खेला और जबरदस्त प्रदर्शन किया। वो अपने बयानों की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहते हैं।

ये भी पढ़ें: 5 ऐसे बल्लेबाज जिन्होंने अपना पहला वनडे शतक सबसे ज्यादा उम्र में लगाया


Edited by सावन गुप्ता

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now