COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IND vs AUS: तीन बदलाव जो भारत को चौथे वनडे मुकाबले के लिए करने चाहिए 

ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
11.41K   //    09 Mar 2019, 11:30 IST

शिखर धवन
शिखर धवन

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो वनडे मुकाबले जीतने के बाद भारतीय टीम को रांची में खेले गए तीसरे वनडे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने करारी शिकस्त दी। टॉस हारने के बाद बल्लेबाज़ी करने उतरी ऑस्ट्रेलिआई टीम ने सलामी बल्लेबाज़ उस्मान ख्वाजा और एरोन फिंच की तूफानी पारी के चलते भारत के सामने 314 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया। 

भारत के मज़बूत बैटिंग लाइन - उप को देखते हुए यह स्कोर भारतीय बल्लेबाज़ों की पहुँच में लग रहा था, लेकिन ऑस्ट्रेलिया की टाइट गेंदबाज़ी के चलते विराट कोहली को छोड़ कर सभी भारतीय बल्लेबाज़ ऑस्ट्रेलिया के सामने रन बनाने में असमर्थ दिखे, जिसके चलते भारत यह मुकाबला 32 रन से हारा।

विश्व कप में अब काफी कम समय बचा है, और काफी ऐसे भारतीय खिलाड़ी है, जो विश्व कप की टीम में अपनी जगह पक्का करने की पूरी कोशिश करेंगे। इसके चलते टीम मैनेजमेंट सीरीज में असफल रहे खिलाड़ियों की जगह कुछ नए खिलाड़ियों को मौका दे सकती है। विश्वकप के साथ साथ भारतीय टीम एक परफेक्ट टीम के साथ मोहाली के मैदान पर सीरीज़ पर अपना कब्ज़ा बनाने की भी पूरी कोशिश करेगी। आज इस लेख में हम उन तीन बदलावों की बात करेंगे, जो मोहाली में खेले जाने वाले चौथे मुकाबले में देखने को मिल सकते हैं।


#3 रविन्द्र जडेजा की जगह युजवेंद्र चहल

युजवेंद्र चहल
युजवेंद्र चहल

बाएं हाथ के भारतीय आल-राउंडर रविंद्र जडेजा ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाफ वनडे सीरीज में खेलने वाली मूल टीम का हिस्सा नहीं थे। हार्दिक पंड्या के चोटिल होने के चलते इस आल-राउंडर को भारतीय टीम में शामिल किया गया था। 

विश्वकप की टीम में अपनी जगह पक्का करने के लिए यह सीरीज जडेजा के लिए आखरी मौका समझा जा रहा है, लेकिन यह आल-राउंडर अभी तक कुछ ख़ासा कमाल करने में असफल रहा है। जडेजा ने गेंदबाज़ी में औसतम प्रदर्शन किया है, लेकिन बल्लेबाज़ी में वह अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में दिखने में असफल रहे हैं। नंबर 8 पर आने वाले जडेजा को लम्बे शॉट मारने में दिक्कत हुई है, वहीं दूसरी तरफ दाएं हाथ के आल-राउंडर विजय शंकर बेहतरीन तरीके से पारी में पूर्ण तरीके से स्ट्राइक रोटेट और लम्बे शॉट्स लगाते है। 

युजवेंद्र चहल के टीम में आने से कुलदीप यादव को भी मदद मिलेगी, और यह दोनों खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिआई टीम को अपने स्पिन गेंदबाज़ी के जाल में फसाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

1 / 3 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...