Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वर्ल्ड कप 2019, 45वां मैच: दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को 10 रनों से हराया, भारत को हुआ जबरदस्त फायदा- हाइलाइट्स और रिपोर्ट 

FEATURED WRITER
न्यूज़
27.34K   //    Timeless

डेविड वॉर्नर का बेहतीन शतक
डेविड वॉर्नर का बेहतीन शतक

ओल्ड ट्रैफर्ड में खेले गए आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के आखिरी लीग मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को हराया। दक्षिण अफ्रीका पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान फाफ डू प्लेसी की बेहतरीन शतकीय पारी की बदौलत 50 ओवरों में 325-6 का स्कोर खड़ा किया, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम सिर्फ 315 रन ही बना पाई। ऑस्ट्रेलिया की हार के साथ भारत को फायदा हुआ है और वो अंक तालिका में पहले स्थान पर ही रहेंगे। फाफ डू प्लेसी को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया और टीम में तबरेज शम्सी को हाशिम अमला की जगह मौका मिला। इसके साथ ही जेपी डुमिनी और इमरान ताहिर का यह आखिरी वनडे मैच भी है। दक्षिण अफ्रीका को उनके सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक और एडेन मार्करम ने बेहतरीन शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 79 रन जोड़े। मार्करम 34 रन बनाकर आउट हुए, लेकिन डी कॉक ने जरूर अर्धशतक लगाया, लेकिन 52 रन बनाने के बाद वो भी आउट हो गए। इस समय ऐसा लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया मैच में वापसी करेगी और दक्षिण अफ्रीका के ऊपर दबाव बनाने में कामयाब होंगे।

हालांकि कप्तान फाफ डू प्लेसी ने रसी वैन डर डुसेन के साथ मिलकर बेहतरीन शतकीय (151 रन) साझेदारी की और टीम को मजबूत स्थिति में लेकर गए। डू प्लेसी ने 43वें ओवर में 93 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। इस विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका की तरफ लगाया गया पहला शतक भी है, लेकिन शतक (100) बनाने के बाद वो उसी ओवर में 265 के स्कोर पर आउट हो गए। इस बीच रसी वैन डर डुसेन ने भी शानदार अर्धशतक लगाया और डू प्लेसी के ऊपर दबाव नहीं आने दिया था। अपने वनडे करियर की आखिरी पारी खेलने आए जेपी डुमिनी ने निराश किया और वो 14 रन बनाकर 47वें ओवर में स्टार्क का शिकार बना। डुसेन ने 48वें ओवर में छक्का लगाकर टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचाया और इसके बाद भी एक छोल संभालते हुए बड़े शॉट लगाने जारी रखे और अंत में उन्होंने 97 गेंदों में 95 रनों की पारी खेली और आखिरी गेंद पर आउट हुए। उनकी पारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने 325 का स्कोर खड़ा किया।

दक्षिण अफ्रीका ने आखिरी 10 ओवर में 80 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए नाथन लायन और मिचेल ने दो-दो और जेसन बेहरनडॉर्फ ने एक विकेट लिया।

326 रनों का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत बेहद खराब रही टीम ने कप्तान आरोन फिंच (3) और स्टीव स्मिथ (7) के विकेट काफी जल्द गंवा दिए। इस बीच उस्मान ख्वाजा भी चोटिल होने के कारण रिटायर्ड हर्ट हो गए, जिसके कारण पूरा दबाव डेविड वॉर्नर पर आ गया। वॉर्नर ने जिम्मेदारी वाली पारी खेली, उन्होंने पहले मार्कस स्टोइनिस (22) के साथ 62 रनों की साझेदारी की। हालांकि 119 के स्कोर तक ऑस्ट्रेलिया ने अपने 4 विकेट गंवा दिए थे और मैक्सवेल (12) ने फिर से निराश किया। वॉर्नर ने लड़ाई जारी रखी और इस वर्ल्ड कप में अपना तीसरा शतक लगाया और एलेक्स कैरी के साथ 108 रनों की महत्वूपर्ण साझेदारी कर टीम को मैच में बनाए रखा। वॉर्नर (117 गेंद में 122 रन, 15 चौके और दो छक्के) को ड्वेन प्रिटोरियस ने 227 के स्कोर पर आउट कर ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका दिया।

वॉर्नर के आउट होने के बाद कैरी ने एक छोर संभाले रखा और 69 गेंदों में 85 रनों की बेहतरीन पारी खेली, लेकिन 46वें ओवर में वो 275 के स्कोर पर सातवें विकेट के रूप में आउट हुए। चोटिल होने के बावजूद ख्वाजा दोबारा बल्लेबाजी करने आए और स्टार्क (16) के साथ मिलकर टीम का स्कोर 300 के पार लेकर गए, लेकिन वो भी 18 रन बनाकर आउट हो गए, रबाडा ने इसी ओवर में स्टार्क को भी आउट किया। कंगारू टीम का आखिरी ओवर में 18 रनों की दरकार थी और वो सिर्फ 7 रन बना पाए और 49.5 ओवर में ऑलआउट हो गए।

संक्षिप्त स्कोर:

दक्षिण अफ्रीका: 325- 6 (फाफ डू प्लेसी-100, नाथन लायन- 2/53))

ऑस्ट्रेलिया: 315 (डेविड वॉर्नर- 122, कगिसो रबाडा- 3/56)

मैच हाईलाइट

Advertisement

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...