वर्ल्ड कप 2019 : अंपायरों को ओवर थ्रो में 6 नहीं बल्कि 5 रन देने चाहिए थे- साइमन टॉफेल

विश्वकप के फाइनल मैच में बल्ले से ओवर थ्रो में चार रन जाने के बाद माफी मांगते इंग्लैंड के बल्लेबाज बेन स्टोक्स।
विश्वकप के फाइनल मैच में बल्ले से ओवर थ्रो में चार रन जाने के बाद माफी मांगते इंग्लैंड के बल्लेबाज बेन स्टोक्स।

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्डकप में कई मौके ऐसे आए, जब खराब अंपायरिंग की वजह से टीम को निराशा झेलनी पड़ी। विश्वकप का फाइनल मुकाबला इंग्लैंड ने जीता। 50-50 ओवर में बराबर रन बनाने के बाद मैच सुपर ओवर में गया और वहां भी टाई हो गया। हालांकि, ज्यादा बाउंड्री के नियम के अनुसार इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया गया। फिर भी एक जगह अंपायरों से इतनी बड़ी गलती हो गई, जिसने परिणाम ही बदलकर रख दिए, वो था ओवर थ्रो में दिए गए छह रन। आईसीसी के प्रमुख कोच में से एक साइमन टॉफेल ने कहा कि यह अंपायरों की गलती थी, जिसमें ओवर थ्रो में छह की जगह पांच रह दिए जाने चाहिए थे।

आईसीसी के नियमों को देखा जाए तो खिताबी मुकाबला सुपर ओवर तक जाना ही नहीं चाहिए था। दरअसल, बेन स्टोक्स को रन आउट करने के चक्कर में मार्टिन गप्टिल ने ओवर थ्रो से जो चौका दिया था, उसमें अंपायरों को छह रन की बजाए पांच रन देने चाहिए थे।

आईसीसी के नियम 19.8 के मुताबिक, ओवर थ्रो पर गेंद बाउंड्री पार जाती है तो उसमें बल्लेबाजों द्वारा पूरे किए गए रन भी जुड़ते हैं। अगर बल्लेबाजों ने थ्रो करने से पहले एक-दूसरे को क्रॉस कर लिया है तो ओवर थ्रो में वह रन भी जोड़ा जाता है। अगर फील्डर के थ्रो फेंकने से पहले बल्लेबाजों ने एक-दूसरे को क्रॉस नहीं किया हो तो वो रन नहीं जोड़ा जाएगा।

50वें ओवर की चौथी बॉल पर जब गप्टिल ने थ्रो फेंका था, तब स्टोक्स और रशीद एक रन पूरा कर चुके थे। हालांकि, जब थ्रो फेंका गया, तब वे दूसरे रन के लिए एक-दूसरे को क्रॉस नहीं कर पाए थे। थ्रो के दौरान गेंद स्टोक्स के बल्ले से लगकर बाउंड्री तक चली गई थी। टॉफेल के मुताबिक, ऐसी स्थिति में इंग्लैंड को छह की बजाए पांच रन मिलने चाहिए थे।

फॉक्स स्पोर्ट्स आस्ट्रेलिया ने साइमन टॉफेल के हवाले से बताया कि यह एक गलती है, जो निर्णय लेने में की गई है। इंग्लैंड को छह की जगह केवल पांच रन दिए जाने चाहिए थे। उस माहौल में अम्पायरों कुमार धर्मसेना और मरैस इरास्मस ने सोचा कि बल्लेबाज थ्रो के समय क्रॉस कर गए हैं। जाहिर तौर पर टीवी रिप्ले में कुछ और दिखा। यहां दिक्कत यह है कि अम्पायरों को सबसे पहले बल्लेबाजों को रन पूरा करते हुए देखना होता है और फिर उन्हें अपना ध्यान फील्डर पर केंद्रित करना होता है, जो गेंद को उठाकर फेंकने वाला होता है। आपको देखना होता है कि उस क्षण बल्लेबाज कहां है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
App download animated image Get the free App now