Create
Notifications

5 बातें जो मेसी को रोनाल्डो से बेहतर साबित करती हैं

अनुराधा तंवर

लियोनेल मेसी और रोनाल्डो इस युग के सबसे बड़े खिलाड़ी बन चुके हैं। लेकिन इन दोनों में से किसका पलड़ा भारी है इसका जवाब अभी तक नहीं मिल पाया है। इससे पहले मेरे साथी ने एक आर्टिकल पेश किया था जिसमें उन्होंने 5 वजह बताई कि रोनाल्डो मेसी से कैसे बेहतर हैं। अब मेरी बारी है मेसी का पक्ष पेश करने की। तथ्यों के आधार पर ये आर्टिकल पेश किया है जिससे आप इस डिबेट को सही दिशा में समाप्त कर सकें। ये 5 वजह मेसी को रोनाल्डो से बेहतर बनाती हैं: 1. व्यक्तिगत खिताब हालांकि पिछले कुछ वर्षों में रोनाल्डो ने मेसी की बराबरी करने की पूरी कोशिश की है। लेकिन व्यक्तिगत खिताब अपने नाम करने के मामले में बार्सिलोना के दिग्गज मेसी रोनाल्डो से काफी आगे हैं। लियो मेसी 3 बार यूरोपियन प्लेयर ऑफ द ईयर का गौरव हासिल कर चुके हैं जबकि रोनाल्डो महज एक बार। इसके अलावा मेसी 2014 वर्ल्ड कप में गोल्डन बॉल और 6 बार एलईपी लीग प्लेयर ऑफ द ईयर के खिताब पर कब्जा जमा चुके हैं। कुल मिलाकर, मेसी ने व्यक्तिगत तौर पर 44 अवॉर्ड्स अपने खाते में जोड़े हैं जबकि व्यक्तिगत तौर पर रोनाल्डो के कुल 42 खिताब हैं। 2. ड्रिब्लिंग, तकनीक और निर्णय लेने की क्षमता जहां रोनाल्डो अपनी शारीरिक क्षमताओं और हेडर की बदौलत शानदार खेल दिखाते हैं, वहीं मेसी मैदान पर अपने पैरों से फुटबॉल पर पकड़ बनाते हैं। मेसी जिस वक्त ड्रिब्लिंग करते हुए स्कोर करते हैं उस वक्त उन्हें रोक पाना किसी के लिए बड़ी चुनौती से कम नहीं होता। जहां पुर्तगाल के सुपरस्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो अक्सर नियमों का उलंघन करने और विवाद से जुड़ जाते हैं, वहीं अर्जेंटीना के दिग्गज मेसी को मैदान पर घेर पाना असंभव हो जाता है। एक ओर रोनाल्डो अपनी फुर्ती और चतुराई से खेल की दिशा तक बदल देते है, जो काबिले तारीफ है। वहीं मेसी ड्रिबल करते हुए बिना मोमेंटम तोड़े 90 डिग्री तक दिशा बदल देते हैं, जो कोई और नहीं कर सकता है। मेसी की सोच और निर्णय लेने की क्षमता भी उन्हें पूर्तगाल के सुरपस्टार से बेहतर साबित करती है। 29 वर्षीय मेसी शायद ही जब कभी घिरे होते है और उनका साथी बेहतर स्थिति में होता है, तब दूर से शॉट खेलते हैं। सही पास को कैसे निष्पादित करने की सोच मेसी को सर्वश्रेष्ठ बनाती है। लुइस फिगो ने एक बार मेसी की तारीफ करते हुए यहां तक कहा था, “ मेरे लिए, मेसी को खेलते देखने किसी अतुल्य पल से कम नहीं है।” 3. मेसी ज्यादा अनुशासित और ईमानदार हैं मैदान पर रोनाल्डो की कई हरकतें उनकी छवि खराब करती है। खासतौर पर जब वो विरोधियों को चिढ़ाने या नकल करके परेशान करने की कोशिश करते हैं। 2006 वर्ल्ड कप में रोनाल्डो की वो हरकत ज्यादातर इंग्लैंड फैंस को अभी तक याद होगी जिसकी वजह से वेन रूनी को भेज दिया गया था। रोनाल्डो को उनकी इन हरकतों के लिए भी जाना जाता है। दूसरी ओर मेसी, बिल्कुल शांत और अनुशासन में रहकर अपना खेल खेलते हैं जिस वजह से विरोधी उन्हें हराने में नाकाम साबित होते हैं। जब बात अनुशासन की होती है, तो इस मामले में मेसी रोनाल्डो से बहुत आगे हैं। मेसी को अपने अब तक के करियर में महज एक बार रेड कार्ड मिला है जबकि रोनाल्डो 9 बार रेड कार्ड के शिकार हो चुके हैं। कार्ड्स के मामले में मेसी का सबसे खराब सीजन 2013-14 रहा जिसमें उन्हें कुल 3 पीले कार्ड मिले। जबकि इसी सीजन में रोनाल्डो को 16 पीले कार्ड्स मिले, जितने शायद अभी तक किसी डिफेंडर को एक सीजन में नहीं मिले। 4. मेसी कुल मिलाकर ज्यादा सफल खिलाड़ी हैं लियोनेल मेसी साल दर साल बार्सिलोना और अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए ज्यादा से ज्यादा गोल करते हैं और उनका प्रति मैच गोल अनुपात रोनाल्डो से अच्छा है। अर्जेंटीना के सुपरस्टार ने क्लब और राष्ट्रीय टीम के लिए खेल गए 649 मैचों में कुल 512 गोल दागे हैं जिसमें उनका प्रति मैच अनुपात 0.79 गोल है। हालांकि रोनाल्डो ने मेसी से ज्यादा गोल जरूर दागे हैं लेकिन उनका प्रति मैच गोल अनुपात मेसी से कम है। 31 वर्षीय रोनाल्डो ने 804 मुकाबलों में कुल 548 गोल दागे हैं जिसमें उनका प्रति मैच गोल अनुपात 0.68 है। इसमें कोई शक नहीं कि जबसे रोनाल्डो रियल मैड्रिड से जुड़े हैं उनके खेल में काफी सुधार हुआ है। लेकिन मेसी के मुकाबले इस तथ्य से भी इंकार नहीं किया जा सकता की रोनाल्डो मैनचेस्टर यूनाइटेड के लिए पूरी तर सक्षम नहीं है। 5. मेसी टीम खिलाड़ी हैं मेसी रोनाल्डो से सिर्फ गोल दागने के मामले में ही आगे नहीं हैं, बल्कि वो एक सम्पूर्ण खिलाड़ी भी हैं और अपने साथियों के लिए भी गोल करने के अवसर बनाते हैं। उनका टीम के साथ जुड़कर खेलना और विरोधी पर आक्रमण करने के लिए बनाई रणनीति के बारे में कहा जाता है, मेसी आसानी से किसी भी तरह से खेलने में फिट हो जाते हैं, जबकि रोनाल्डो काफी स्वार्थी हो जाते हैं। रोनाल्डो को लाइमलाइट में आने के लिए उतारू होने की वजह से अपने मैनेजर और साथी खिलाड़ियों से काफी आलोचना भी सुननी पड़ी है जबकि मेसी अपनी टीम को मदद करने की कोशिश में लगे रहते हैं। अब आपको तय करना है कि आपका वोट किसके साथ है मैसी या रोनाल्डो।

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...