Create
Notifications

AFC कप के सेमीफाइनल में पहुंची बेंगलुरु एफसी

निशांत द्रविड़

सिंगापुर में जालन बेसर स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में भारत की बेंगलुरु एफसी ने टैम्पाइन्स रोवर्स एफसी के साथ आज का मैच 0-0 से ड्रॉ खेला और दो मैचों में 1-0 के अंतर से जीत हासिल कर एएफसी कप के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। बेंगलुरु एफसी एएफसी कप के सेमीफाइनल में पहुँचने वाली तीसरी भारतीय क्लब बन गई है। 14 सितम्बर को बेंगलुरु में हुए होम लेग में बेंगलुरु ने 1-0 से जीत हासिल की थी। आज के मैच में दोनों टीमों ने संभली हुई शुरुआत की और इसी वजह से शायद मैच में कोई गोल नहीं हो सका। 12वें मिनट में अमरिंदर सिंह ने काफी शानदार बचाव भी किया था। टैम्पाइन्स रोवर्स के खिलाड़ियों ने बेंगलुरु एफसी पर दबाव बनाया लेकिन गोल करने में कामयाब नहीं हो सके। रोवर्स की तरफ से हाफ़िज़ सुजाद बढ़िया फॉर्म में थे लेकिन उन्हें बढ़िया साथ नहीं मिल सका। 32वें मिनट में बेंगलुरु एफसी के पास गोल का मौका था लेकिन यूगेनेसन लिंगदोह ने मौका गँवा दिया। इसके 6 मिनट बाद विनीत के फ्री किक को लिंगदोह फिर से गोल में परिवर्तित नहीं कर सके। 43वें मिनट में रीनो एंटो के पास पर सुनील छेत्री गोल नहीं कर पाए। दूसरे हाफ की शुरुआत में भी सुनील छेत्री गोल करने से चूक गए। 53वें और 74वें मिनट में टैम्पाइन्स रोवर्स के पास गोल करने का काफी बढ़िया मौका हाथ लगा लेकिन अमरिंदर ने फिर से बचाव कर लिया। 77वें मिनट में सुनील छेत्री और लिंगदोह ने गोल करने का प्रयास किया लेकिन फिर से असफल रहे। 90 मिनट के बाद पांच मिनट के अतिरिक्त समय में एक बार फिर अमरिंदर ने बढ़िया बचाव करते हुए टीम की जीत की उम्मीदों को और बढ़ा दिया। अंत में मुकाबला 0-0 से बराबर रहा। बेंगलुरु एफसी से पहले 2008 में डेम्पो और 2013 में ईस्ट बंगाल ने एएफसी कप के सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। सेमीफाइनल में बेंगलुरु एफसी का सामना 28 सितम्बर और 19 अक्टूबर को मलेशिया की जोहोर दारुल ताजिम से होगा।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...