लगातार दूसरे सीजन चैंपियंस लीग क्वार्टर-फाइनल में नहीं दिखेंगे रोनाल्डो और मेसी, फैंस हुए निराश

रोनाल्डो-मेसी की पुरानी टीमें (युवांटिस-बार्सिलोना) पिछले सीजन QF में नहीं पहुंच पाईँ थीं।
रोनाल्डो-मेसी की पुरानी टीमें (युवांटिस-बार्सिलोना) पिछले सीजन QF में नहीं पहुंच पाईँ थीं।

UEFA चैंपियंस लीग के मौजूदा सीजन में पेरिस सेंट-जर्मेन और मैनचेस्टर यूनाईटेड बाहर हो गई हैं। पिछले हफ्ते रियाल मेड्रिड के हाथों करीम बेंजेंमा की हैट्रिक की बदौलत पीएसजी को हार मिली तो अब एटलेटिको मेड्रिड ने 1 गोल से मैनचेस्टर यूनाईटेड को हराकर बाहर कर दिया। फैंस को इन दोनों टीमों के बाहर होने के साथ ही इस बात का भी बड़ा गम है कि लायोनल मेसी (पेरिस सेंट-जर्मेन) और क्रिस्टियानो रोनाल्डो (मैनचेस्टर यूनाईटेड) लीग के क्वार्टर-फाइनल में खेलते नहीं दिखाई देंगे। ऐसे में कई फुटबॉल प्रेमी इन दोनों क्लबों की हार का कारण इन दोनों खिलाड़ियों को ही बता रहे हैं और सोशल मीडिया पर तरह-तरह के memes साझा कर रहे हैं।

ऐसे में कल तक जहां ये बहस होती थी कि इन दोनों में GOAT यानीGreatest of All Time कौन सा फुटबॉलर है, तो वहीं अब विरोधी फैंस सोशल मीडिया पर ये जाहिर करने में लग गए हैं कि दोनों में से अपने क्लब के लिए ज्यादा नुकसानदेह कौन है।

मेसी और रोनाल्डो दोनों ने ही पिछले साल अगस्त 2021 में अपने-अपने पुराने क्लबों से अलग होकर नए क्लब में गए थे। मेसी ने जहां अपने करियर के शुरुआती क्लब बार्सिलोना को क्लब की वित्तीय मजबूरी के चलते अलविदा कहा था तो रोनाल्डो ने युवान्टिस को छोड़कर यूनाईटेड में वापसी की।

मेसी के लिए जहां पीएसजी एकदम नया क्लब है तो वहीं रोनाल्डो का करियर यूनाईटेड में बना था। खास बात ये है कि पिछले साल बार्सिलोना में जब मेसी थे तब भी उनकी टीम चैंपियंस लीग के क्वार्टर-फाइनल में नहीं पहुंची थी। बार्सिलोना तब मेसी की मौजूदा टीम पीएसजी से राउंड ऑफ 16 में हारकर बाहर हो गई थी। वहीं रोनाल्डो उस समय युवांटिस का हिस्सा थे और उनकी टीम पोर्टो के हाथों राउंड ऑफ 16 में हारकर बाहर हुई थी। ऐसे में ये लगातार दूसरा सीजन है जहां न तो रोनाल्डो और न ही लायोनल मेसी चैंपियंस लीग के क्वार्टर-फाइनल में खेलते दिखाई देंगे।

दोनों खिलाड़ियों की टीमों के बाहर होने के बाद इनके फैंस आपस में सोशल मीडिया पर भिड़ गए हैं। मेसी के फैंस का कहना है कि पीएसजी की हार का सारा ठीकरा मेसी पर फूटता है जबकि मैनचेस्टर की हार पर रोनाल्डो को अकेले कुछ नहीं कहा जाता। वहीं रोनाल्डो के फैंस मान रहे हैं कि रोनाल्डो मेसी से बेहतर हैं और मेसी 34 साल की उम्र में ही ढीले पड़ गए हैं। ऐसे में दोनो खिलाड़ियों के फैंस की मजेदार बहस सोशल मीडिया पर छाई हुई है।

पीएसजी के चैंपियंस लीग से रियाल मेड्रिड के हाथों बाहर होने पर पीएसजी के फैंस ने मेसी और नेमार पर गुस्सा निकाला था। पीएसजी फ्रेंच लीग 1 के एक मैच में जब मैदान पर उतरी तो पूरे 90 मिनट तक होम ग्राउंड पर मौजूद पीएसजी के दर्शक मेसी को बू करते रहे।

अब रोनाल्डो के खिलाफ यूनाईटेड के फैंस के गुस्सा सोशल मीडिया पर भी दिख रहा है। लेकिन सिर्फ 1 खिलाड़ी पर पूरी टीम का जिम्मा डालना भी बहुत सही बात नहीं है। दोनों खिलाड़ियों ने कुछ महीने पहले ही नए क्लबों को ज्वाइन किया है। रोनाल्डो ने तो हाल ही में टौटनहैम के खिलाफ शानदार हैट्रिक लगाकार प्रीमियर लीग मैच में टीम को जीत दिलाई थी। वहीं मेसी अपनी ओर से टीम के रंग में रंगने की कोशिश लगातार कर रहे हैं। ऐसे में पिछले करीब डेढ़ दशक से फुटबॉल की दुनिया को बेहतरीन खेल देने वाले इन खिलाड़ियों पर कुछ मैचों के बाद इस तरह सवाल उठाना खेल के लिए सही नहीं है।

Quick Links

App download animated image Get the free App now