Create
Notifications

मिश्री का पानी पीने से दूर होती है ये 5 बीमारियां-Mishri Ka Pani Pine Se Dur Hoti Hai Yee 5 Bimariya

मिश्री का पानी पीने से दूर होती है ये बीमारियां(फोटो-Sportskeeda hindi)
मिश्री का पानी पीने से दूर होती है ये बीमारियां(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

मिश्री (Sugar candy) को कई रेसिपीज में शुगर की जगह इस्तेमाल किया जाता है। मिश्री को रॉक शुगर भी कहा जाता है। मिश्री का सेवन स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं सिर्फ मिश्री ही नहीं बल्कि मिश्री के पानी (sugar candy water) का सेवन भी स्वास्थ्य को कई लाभ पहुंचाता है। मिश्री के पानी का सेवन करने से कई बीमारियां दूर होती है। क्योंकि मिश्री का पानी पोषक तत्वों से भरपूर होता है, मिश्री में कई विटामिन, खनिज और अमीनो एसिड्स पाए जाते हैं। जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होता है। आइए जानते हैं मिश्री का पानी पीने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

मिश्री का पानी पीने से दूर होती है ये बीमारियां

1- गर्मी के मौसम में मिश्री के पानी का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि मिश्री की तासीर ठंडी होती है, इसलिए मिश्री के पानी का सेवन करने से शरीर की गर्मी दूर होती है।

2- जिन लोगों को अक्सर मुंह में छाले (Mouth Ulcer) की शिकायत हो जाती है। उनके लिए मिश्री के पानी का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि मिश्री का पानी पेट को ठंडक पहुंचाता है। साथ ही मुंह के छाले की शिकायत को भी दूर करता है।

3- आजकल ज्यादातर लोगों में एनीमिया (Anemia) की शिकायत देखने को मिलती है। लेकिन अगर आप मिश्री के पानी का सेवन करते हैं, तो इससे खून की कमी दूर होती है। क्योंकि मिश्री में आयरन पाया जाता है, और आयरन रेड ब्लड सेल्स के प्रोडक्शन को बढ़ावा देता है

4- गर्मी के मौसम में अक्सर कर लोगों को डिहाइड्रेशन (dehydration) की शिकायत हो जाती है। लेकिन अगर आप रोजाना मिश्री के पानी का सेवन करते हैं, तो इससे शरीर हाइड्रेट रहता है। साथ ही शरीर में एनर्जी भी बनी रहती है।

5- गर्मी के मौसम में ज्यादातर लोगों के नाक से खून आने की समस्या देखने को मिलती है। लेकिन अगर मिश्री के पानी का सेवन करते हैं, तो इससे खून आने की शिकायत दूर होती है।

इस तरह से बनाएं मिश्री का पानी

मिश्री का पानी बनाने के लिए एक रात पहले ही मिश्री को एक गिलास पानी में भिगोकर रख देना चाहिए, फिर अगले सुबह मिश्री को छान कर उसके पानी में काला नमक मिलाकर सेवन करना चाहिए। काला नमक सिर्फ स्वाद बढ़ाने के लिए मिलाया जाता है। अगर आप चाहे तो पुदीने को पीसकर भी मिला सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...