दांत दर्द के लिए, लहसुन और लौंग के तेल के फायदे - Lahsun Aur Laung Ke Tel Ke Fayde

दांत दर्द के लिए, लहसुन और लौंग के तेल के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
दांत दर्द के लिए, लहसुन और लौंग के तेल के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

दांतो की समस्या के लिए इस्तेमाल करिये लहसुन (Garlic) और लौंग के तेल (Clove Oil) का मिश्रण। खान-पान और जीवनशैली में बदलाव के कारण अनेक समस्याएं हो सकती है जैसे दांतो की। इससे कई बार मसूड़ों में सूजन और खून भी निकलने लगता है और दर्द इतना बढ़ जाता है कि खाने-पीने में भी परेशानी होने लगती है। कई लोग इससे छुटकारा पाने के लिए पेन किलर का सेवन करते हैं जिसका लंबे समय तक सेवन करना आपके लिए और मुश्किलें खड़ी हो सकती है। दांत दर्द से निजात पाने के कई आसान घरेलू उपाए भी हैं। आइये इस बारे में और जानकारी प्राप्त करें।

लहसुन और लौंग के तेल के फायदे - Lahsun Aur Laung Ke Tel Ke Fayde In Hindi

- लौंग में यूजीनॉल एसिड पाया जाता है, जो एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक (Anti-septic) का काम करता है। जिस दांत में दर्द हो वहां लौंग को रखकर उसका अर्क चूस लें। चाहें तो लौंग के तेल की 2 बूंदे दांत पर डाल सकते हैं। इससे कुछ ही देर में दर्द कम हो जाएगा।

- लहसुन में ऐलीसिन एसिड पाया जाता है जो हानिकारक बैक्टीरिया मारने और दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। इसमें एंटी-बैक्‍टीरियल (Anti-bacterial), एंटी-फंगल (Anti- fungal) और एंटी-ऑक्‍सीडेंट (Anti-oxidants) की खूबियां हैं इसका पेस्ट बनाकर दर्द वाली जगह पर लगाएं। या लहसुन की कली को चबाने से भी आराम मिलता है।

दांत दर्द के कारण

दांतों की रोजाना ठीक से सफाई ना करने के कारण मुंह के अंदर सड़न और गंदगी होने लगती है जो अम्ल पैदा करने वाले बैक्टीरिया में बदल जाती है।

ये अम्ल तोड़कर दांतों की परत को नुकसान पहुंचाने लगता है और धीरे-धीरे जड़ तक पहुंच जाते हैं।

इसके अलावा साइनोसाइटिस (चेहरे में साइनस पर सूजन आना) के कारण भी दांतों में दर्द हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment