Create
Notifications

एसिडिटी का घरेलू इलाज - acidity ka Gharelu upchar

एसिडिटी का घरेलू इलाज(फोटो:freepik)
एसिडिटी का घरेलू इलाज(फोटो:freepik)
Ritu Raj

एसिडिटी की समस्या लगभग सभी को कभी न कभी हो जाती है। यह पाचन तंत्र से संबंधित आम समस्या है, अत्यधिक तैलीय और मसालेदार भोजन करने से पेट में पित्त के बढ़ने से एसिडिटी की शिकायत हो जाती है और पेट में जलन-खट्टी डकारों की समस्या हो जाती है। एसिडिटी यदि बार-बार होती है तो यह गैस्ट्रे इसोफेगल डिजीज (Gastro Oesophaegal Disease) में भी बदल सकती है।

कभी-कभी अनुचित भोजन के कारण यह समस्या सभी को हो सकती है लेकिन कुछ लोगों में यह समस्या अधिक होने लगती है जिसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए अधिक होने पर यह समस्या गंभीर रूप भी ले सकती है। एसिडिटी को भी हम घरेलू उपचार के जरिए ठीक कर सकते हैं।

एसिडिटी का घरेलू इलाज (Home Remedies for Acidity in Hindi)

ठंडा दूध (Cold milk)

एसिडिटी होने पर सबसे आसान और कारगर उपाय ठंडा दूध है। आप एक गिलास ठंडा और फीका दूध पी सकते हैं। दूध में शुगर ना मिलाएं और इसे पी लें, इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा।

गुड़ (Jaggery)

एसिडिटी होने पर गुड़ का सेवन भी लाभकारी होता है। गुड़ खाते-खाते ही राहत का एहसास होगा। गुड़ खाने के बाद एक गिलास ताजा पानी पी लें। इससे पेट को तुरंत ठंडक मिलेगी और एसिडिटी दूर हो जाएगी।

जीरा और अजवाइन (Cumin and Celery)

एसिडिटी या पेट में जलन होने पर एक चम्मच जीरा और एक चम्मच अजवाइन को तवे पर भून लें, जब ये दोनों ठंडे हो जाएं तो इनकी आधी मात्रा लेकर चीनी के साथ फांक लें। आधे बचे हुए को भोजन के बाद लें। इसके एक डोज से ही एसिडिटी से आराम मिल जाएगा। लेकिन अगले समय के भोजन को सही तरीके से पचाने के लिए बाकी बचे हुए मिश्रण काफी मददगार साबित होंगे।

आंवला (Gooseberry)

एसिडिटी में आंवला भी काफी लाभकारी है, काला नमक लगाकर आंवले का सेवन कर सकते हैं इससे तुरंत राहत मिलेगी। यदि आंवला ना हो तो आप आंवला कैंडी का भी सेवन कर सकते हैं। इस तरीके से आपको 2 से 3 मिनट के अंदर आराम मिल जाएगा।


Edited by Ritu Raj

Comments

Fetching more content...