Create

खाना खाने के बाद उल्टी होने का कारण: khana khane ke baad ulti hone ka karan 

फोटो- tipsfunda
फोटो- tipsfunda
reaction-emoji
Naina Chauhan

कई लोगों को खाने के बाद अक्सर ऐसा लगता है कि उन्हें उल्टी आने वाली है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं या तो व्यक्ति का पेट खराब रहता है, या फिर पाचन तंत्र खराब हो सकता है। वैसे को ऐसी समस्या प्रेगनेंसी में देखने को मिलती है। प्रेगनेंसी में खाना खाने के बाद उल्टी की समस्या बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम है इसलिए आप बिल्कुल भी चिंता ना करें। लेकिन अगर हर किसी में ऐसे समस्या देखने को मिले तो उसका उपचार करें। उल्टी होना वास्तव में एक ऐसा रिफ्लक्स है जो दिमाग के संकेत पर काम करता है। यह बच्चों, वयस्क और बूढ़े सभी उम्र के लोगों में हो सकता है।

ये भी पढ़ें: अजवाइन का पानी पीने के नुकसान: ajwain ka pani peene ke nuksan

खाने के बाद क्यों होती है उल्टी-

जरूरत से ज्यादा खाना- अगर कोइ अपनी जरूरत से ज्यादा खाना खाता है, तो इसकी वजह से पाचन प्रणाली भोजन को ठीक से पचा नहीं पाती है। ऐसी समस्या उन लोगों में देखी जाती है जिनका पाचन तंत्र कमजोर होता है या फिर पेट की कोई सर्जरी हुई है। इस समस्या से बचने के लिए पुदीना का किसी भी रूप में सेवन करें। अजवाइन, इलाइची या सौंफ भी खा सकते हैं।

फूड पॉइजनिंग होना- व्यक्ति या किसी को भी फूड पॉइजनिंग तब होता है जब खराब खाना यानि बैक्टीरिया से संक्रमित भोजन खा लिया जाता है। इसके कुछ आम लक्षण हैं जैसे बुखार, पेट दर्द, दस्त लगना, असहजता, जी मिचलना और उल्टी आना। वहीं फूड पॉइजनिंग की वजह से शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या भी हो सकती है।

ये भी पढ़ें: अजवाइन के पानी के फायदे: awain ke pani ke fayde

गैस्ट्रोपैरेसिस की समस्या- अगर पेट की मांसपेशियां किसी कारण से ठीक से कार्य नहीं करती हैं तो ऐसे में पेट सही से साफ नहीं होता। जिसकी वजह से पेट में पेप्टिक अल्सर रोग या इरिटेबल बाउल सिंड्रोम जैसी परेशानी होने लगती है और इसकी वजह से उल्टी की समस्या देखने को मिलती है। गैस्ट्रोपैरेसिस के लिए कोई इलाज नहीं है लेकिन कुछ एंटी-इमेटिक दवाएं उल्टी के लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकती हैं।

कीमोथैरेपी लेने की वजह से- अगर कोई व्यक्ति किसी गंभीर बीमारी का शिकार है औऱ वह उसके लिए कीमोथैरेपी लेता है, तो इसका शरीर पर दुष्प्रभाव देखने को मिलता है। जैसे कि उल्टी होना। वैसे तो यह आपकी दवा पर निर्भर करता है। साथ ही इस पर भी कि कौन-सा रेडिएशन उपचार के लिए उपयोग किया गया है।

मन में डर होना- व्यक्ति के मन में अगर किसी कारण डर है तो ऐसे में उल्टी की स्थिति अस्थायी होती है। ऐसे में सहज और आराम से रहने की कोशिश करें।

ये भी पढ़ें: रात को सोते समय अजवाइन खाने के फायदे: raat ko sote samay ajwain khane ke fayde


Edited by Naina Chauhan
reaction-emoji

Comments

comments icon
Fetching more content...