Create

दालचीनी के औषधीय उपयोग- Dalchini ke Aushdhiya Upyog

जानिए क्या है दालचीनी के औषधीय उपयोग
जानिए क्या है दालचीनी के औषधीय उपयोग

Medicinal uses of Cinnamon in hindi: दालचीनी को एक उच्च जड़ी-बूटी की श्रेणी में रखा गया है। इसकी मदद से कई सारी समस्याओं से राहत पाया जा सकता है। आयुर्वेद को प्राचीन समय से कई सारी शरीर से जुड़ी समस्याओं के इलाज में दालचीनी का इस्तेमाल करता आया है। इसमें ऐसे कई खास तरह के तत्व पाए जाते हैं जो हमारी स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होते हैं।

दालचीनी के औषधीय उपयोग

डायबिटीज में दालचीनी कैसे करती है फायदा (Benefits of cinnamon in diabetes)

डायबिटीज की समस्या हो जाने पर सबसे ज्यादा ध्यान अपने खानपान पर देना जरूरी हो जाता है। इस समस्या में हम हर कोई भोजन नहीं कर सकते हैं। ऐसे में दालचीनी डायबिटीज में बेहद ही फायदेमंद माना गया है। कई शोध में बताया गया है कि, दालचीनी बढ़े हुए ब्लड शुगर को कंट्रोल में कर सकती है। दालचीनी डाइजेस्टिव एंजाइम में कई जरूरी बदलाव करती है जिसके चलते कार्बोहाइड्रेट्स की अवशोषण प्रक्रिया कम हो जाती है और ब्लड शुगर का स्तर कम होने में मदद मिलती है।

मस्तिष्क व तंत्रिका तंत्र के लिए दालचीनी के फायदे (Benefits of cinnamon for the brain and nervous system)

दालचीनी इतनी ज्यादा असरकारी है कि ये हमारे मस्तिष्क व तंत्रिका तंत्र के लिए लाभदायक होती है। इसमें दो ऐसे यौगिक मौजूद होते हैं जो मस्तिष्क में हानिकारक प्रोटीन बनने से रोकने में मदद करते है। ये हानिकारक प्रोटीन मस्तिष्क के साथ ही तंत्रिका तंत्र की कोशिकाओं को नष्ट कर सकता है जिससे अल्जाइमर और पार्किंसन रोग हो सकता है।

कैंसर की रोकथाम में मदद करे दालचीनी (Cinnamon may help in the prevention of cancer)

कुछ शोधों की माने तो दालचीनी कैंसर की रोकथाम में मदद करती है। इसमें पाया गया है कि, दालचीनी ट्यूमर में रक्त वाहिकाएं बढ़ने से रोकता है जिससे कैंसर नहीं बढ़ता। साथ ही इसमें कई और तत्व भी पाए जाते हैं जो कैंसर कोशिकाओं के लिए एक विषाक्त पदार्थ के रूप में भी काम करता है।

संक्रमण को रोकता है दालचीनी (Cinnamon prevents infection)

श्वसन तंत्र में होने वाले फंगल संक्रमण को रोकने में दालचीनी बेहद ही लाभकारी मानी गई है। इसमें सिनेमालडेहाइड नाम का एक सक्रिय घटक पाया जाता है जो, श्वसन तंत्र में होने वाले फंगल संक्रमण को रोकने में मदद करता है। साथ ही लिस्टेरिया और साल्मोनेला जैसे हानिकारक बैक्टीरिया को भी पनपने से रोकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment