प्रोटीन पाउडर को पानी में मिलाकर पीना चाहिए या फिर दूध में?

Enter caption

जिम में वर्कआउट करने वालों को प्रोटीन की जरूरत सामान्य से ज्यादा होती हैं। लेकिन मांसाहारी लोगों को तो भोजन में प्रोटीन की आवश्यक मात्रा मिल जाती हैं, मगर शाकाहारी लोगों को हमेशा इसकी कमी होती है। इसलिए आजकल बाज़ार में कई तरह के प्रोटीन शेक मिल जाते हैं, जिनमें काफी प्रोटीन की मात्रा होती है।

प्रोटीन पाउडर की 30-40 ग्राम की मात्रा (एक बड़ा स्कूप) लेनी चाहिए। अब सवाल ये उठता है कि प्रोटीन पाउडर को कैसे लेना चाहिए। प्रोटीन को पानी या दूध में से किसमें मिलाकर पीना चाहिए?

दूध में प्रोटीन पाउडर मिलाकर पीने के फायदे

अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं या मसल्स बनाने हैं तो प्रोटीन पाउडर को दूध में मिलाकर पीना चाहिए। क्योंकि दूध में प्राकृतिक रूप से प्रोटीन ओर कैल्शियम की मात्रा होती हैं। जब आप प्रोटीन पाउडर को दूध में मिलाकर पीते हैं, तो दूध की क्षमता बढ़ जाती हैं। दूध के साथ प्रोटीन लेने की वजह से ये प्रोटीन शरीर में एब्ज़ोर्ब (सोखने में) होने में समय लेता है।

ये भी पढ़ें: 6 सामान जिन्हें खरीदकर आप घर पर ही एक्सरसाइज़ कर फिट रह सकते हैं

पानी में प्रोटीन पाउडर मिलाकर पीने के फायदे

पानी में मिलाकर पीने से प्रोटीन पाउडर जल्दी पचता हैं, इसके अलावा पानी एक्सरसाइज़ के समय आपके शरीर को हाइड्रेट भी रखता है। मैटाबोलिजम बढ़ाने के प्रोटीन पाउडर को पानी में मिलाकर पिएं। एक्सरसाइज़ करने के आधे घंटे के भीतर ऐसा कर सकते हैं।

एक्सपर्ट्स का मानना है कि एक सामान्य व्यक्ति को रोजाना अपने वजन के अनुसार प्रति किलोग्राम के हिसाब से 0.8 ग्राम प्रोटीन लेना चाहिए और एक्सरसाइज़ करते हैं तो आप प्रति किलो 1.5 ग्राम तक प्रोटीन ले सकते हैं। यानि 50 किलोग्राम के व्यक्ति को बिना एक्सरसाइज़ किए रोजाना 0.8x50= 40 ग्राम प्रोटीन लेना चाहिए। एक्सरसाइज़ करने के दौरान 1.5x50= 75 ग्राम प्रोटीन लेना चाहिए, मगर ज्यादा प्रोटीन लेने से किडनियों के लिए खतरनाक हो सकता है।

हेल्थ-फिटनेस, डाइट और एक्सरसाइज़ करने के तरीकों से जुड़ी सभी जानकारियां स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

App download animated image Get the free App now