Create
Notifications

टॉन्सिल का घरेलू इलाज : Tonsil Ka Gharelu Ilaj

टॉन्सिल का घरेलू इलाज  (फोटो - nari)
टॉन्सिल का घरेलू इलाज (फोटो - nari)
Naina Chauhan
ANALYST

मौसम के बदलने की वजह से लोगों को अक्सर खांसी, गले में खराश और टॉन्सिल में दर्द की समस्या से परेशानी रहती हैं। टॉन्सिल गले के दोनों तरफ स्थित लिम्फ नोड्स होता है। टॉन्सिल में सूजन और दर्द किसी को भी हो सकता है। यह वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होती है, जिसकी वजह से टॉन्सिल का आकार बढ़ जाता है। टॉन्सिल का घरेलू इलाज।

टॉन्सिल का घरेलू इलाज : Tonsil Ka Gharelu Ilaj In Hindi

नमक वाला पानी - अगर किसी को टॉन्सिल की समस्या हो रही है तो इसके लिए सबसे बेहतर और आसान उपचार है नमक वाले पानी से गरारे करना। ऐसा इसलिए क्योंकि नमक बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। साथ ही इससे सूजन भी कम होती है। इससे दर्द से तुरंत राहत मिलती है। एक चम्मच नमक को हल्के गुनगुने पानी में मिलाकर गरारे करें।

नींबू - नींबू में एंटी-फंगल, एंटीबैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं। इन सभी गुणों के कारण ये सभी इंफेक्शन के साथ-साथ सूजन भी कम करते हैं। इसमें विटामिन-सी उच्च मात्रा में होती है जो टॉन्सिल के कारण होने वाले इंफेक्शन से बचाता है।

दालचीनी - दालचीनी का उपयोग टॉन्सिल के उपचार के लिए किया जाता है। एंटीमाइक्रोबियल गुण होने के कारण दालचीनी टॉन्सिल में बैक्टीरिया और माइक्रोऑर्गेनिज्म के विकास को रोकता है और दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है। ऐसे में दालचीनी का पाउडर और शहद को गर्म पानी में मिलाएं और दिन में 2 से 3 बार पिएं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now