Create

डायबिटीज में त्रिफला के फायदे: Diabetes Mein Triphala Ke Fayde

डायबिटीज में त्रिफला के फायदे (फोटो - onlymyhealth)
डायबिटीज में त्रिफला के फायदे (फोटो - onlymyhealth)
reaction-emoji
Naina Chauhan

त्रिफला में कई ऐसे औषधीय गुण है, जो स्वास्थ्य को कई तरह से फायदे पहुंचाते हैं। लेकिन क्या आपने डायबिटीज में त्रिफला के फायदों के बारे में जाना है। अगर नहीं तो, तो बता हैं कि त्रिफला काली हरड़, बहेड़ा और आंवले से बना होता है। ये तीनों ही चीजें डायबिटीज के मरीजों के लिए अलग-अलग तरह से फायदेमंद है। हरड़ और बहेड़ा पाचन को सही रखने में मदद करते हैं, वहीं आंवला एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर है जो कि ब्लड शुगर को संतुलित रखने में मदद करता है। इसलिए जब त्रिफला का सेवन किया जाता है तो, इसके अलग-अलग गुण डायबिटीज कंट्रोल करने के साथ दिल की बीमारियों से बचे रहने में मदद करते हैं। जानते हैं डायबिटीज में त्रिफला के फायदे।

डायबिटीज में त्रिफला के फायदे- Triphala for diabetes in hindi

इंसुलिन की मात्रा बढ़ाता है - त्रिफाल के सेवन से पेनक्रियाज हेल्दी रहता है। यह शरीर में इंसुलिन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए इंसुलिन बहुत जरूरी है क्योंकि ये शुगर को पचाने में मदद करता है और ब्लड शुगर कंट्रोल करता है। इसलिए डायबिटीज को कंट्रोल में रखने के लिए त्रिफला खाना फायदेमंद है।

कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखता है - त्रिफला के सेवन से कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। दरअसल, कोलेस्ट्रॉल की वजह से दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। त्रिफला शरीर में फैट की मात्रा को कम करने में मदद करता है। त्रिफला बैड कोलेस्ट्ऱॉल को कंट्रोल करता है और गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में मदद करता है। इसलिए अगर आप कभी फैटी फूड्स खा लें तो उसके बाद त्रिफला छाछ का सेवन जरूर करें।

डायबिटीज में कब्ज दूर करता है - जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या है उन्हें इसकी वजह से कब्ज की परेशानी रहती है। जिस कारण उनका ब्लड शुगर बढ़ा रहता है और मरीज को खान-पान से जुड़ी दिक्कते भी होती हैं। ऐसे में त्रिफला पेट को साफ करने में मदद कर सकता है। ये स्टूल को रेगुलेट करने में मदद करता है। इसलिए कब्ज की समस्या होने पर आपको त्रिफला सेवन जरूर करना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...