Create

त्रिफला के फायदे और नुकसान : Triphala Ke Fayde Aur Nuksan

त्रिफला के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
त्रिफला के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

त्रिफला एक आयुर्वेदिक हर्बल रसायन है जिसमें तीन हरड़ के बराबर भाग होते हैं, जिन्हें बिना बीज के लिया जाता है: आमलकी (Amalaki), बिभीतकी (Bibhitaki) और हरीतकी (Haritaki)। इसमें विटामिन C भरपूर मात्रा में होता है। त्रिफला का मुख्य काम होता है आपके पेट और पाचनतंत्र को साफ रखना पर त्रिफला को खाने से और भी कई फायदे होते हैं जो ज़्यादातर लोग नहीं जानते। इस लेख में हम आपको त्रिफला से होने वाले फायदे कर नुकसान के बारे में बताएँगे तो आप इस लेख को अंत तक पढ़ें ताकि आप त्रिफला का इस्तेमाल सही रूप से कर पाएं।

त्रिफला के फायदे और नुकसान : Triphala Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

त्रिफला के फायदे:-

मधुमेह (Treats Diabetes)

त्रिफला में एंटी-डायबिटिक गुण भी पाए जाते हैं, यानी कि अगर आपको टाइप-2 डायबिटीज की बीमारी है तो आपको त्रिफला जरूर लेना चाहिए। यह आपके खून में शुगर लेवल को कण्ट्रोल में रखने में मदद करता है। साथ ही यह आपके कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रण में रखता है।

वजन घटने में (Helps Weight Loss)

अगर आप एक ऐसे व्यक्ति है जिसका वजन बहुत ज्यादा है या आप एक ऐसे व्यक्ति है जिसका वजन बहुत कम है तो आप बस त्रिफला खाना शुरू कर दें और अपने डाइट पर ध्यान दें । वजन अधिक है तो वह कम हो जाएगा और यदि कम है तो बढ़ जाएगा। त्रिफला में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो आपके मेटाबोलिज्म को सही कर देता है जिसके कारण आपका वजन जितना होना चाहिए उतना हो जाता है।

कॉन्स्टिपेशन (Cures Constipation)

अगर सही से आपका पेट साफ ना हो तो दिन भी बुरा जाता है और किसी भी काम में मन नहीं लगता पर अगर आपको कॉन्स्टिपेशन की शिकायत है तो त्रिफला से बेहतर आयुर्वेदिक दवा पूरी दुनिया में नहीं है। जो व्यक्ति रोज त्रिफला का सेवन करता है उस व्यक्ति कॉन्स्टिपेशन की शिकायत नहीं होती। त्रिफला का नियमित सेवन आपके पेट को साफ करने में बेहद उपयोगी है।

ब्लड प्रेशर (Blood Pressure)

रक्तचाप को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी होता है क्योंकि ब्लड प्रेशर अगर नियंत्रण में ना हो तो दिल का दौरा, हार्ट फ़ैल, पैरालिसिस जैसी बीमारियां हो सकती हैं। त्रिफला एक ऐसी औषधि है जो ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल में रखती है यानी कि अगर आपका ब्लड प्रेशर ज्यादा होगा तो यह आपके ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में ले आएगा और यदि आपका BP-Low होगा तो इसे बढ़ाकर सही लेवल पर ले आएगा।

लिवर को डेटॉक्स करें (detoxifies Liver)

बुरी खानपान की आदतों या शराब ज़्यादा पीने की वजह से Liver खराब भी हो सकता है पर जब आप रोज त्रिफला का सेवन करना शुरू करते हैं तो यह आपके लिवर को डेटोक्सीफी करने लगता है यानी कि लिवर के सारे विषैले तत्वों को बाहर निकाल देता है और आपका लीवर स्वस्थ बना रहता है।

त्रिफला के नुकसान:-

- आपको रोज रात में एक चम्मच त्रिफला का सेवन करना है आप चाहे तो दो चम्मच त्रिफला का सेवन भी कर सकते हैं पर इससे ज्यादा त्रिफला आपको नहीं खाना है वरना आपको लूज मोशन भी हो सकता है।

- 5 साल से छोटे उम्र के बच्चों को त्रिफला बिल्कुल नहीं दें अन्यथा ये उन्हें नुक्सान पहुंचा सकता है।

- इसके अलावा गर्भवती महिलाओं या दुग्धपान करा रही महिलाओं को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

- बाजार में मिलने वाले पेट साफ करने वाली दवाइयों का सेवन बिल्कुल ना करें क्योंकि इसमें त्रिफला के साथ-साथ सनायपत्ती भी डाली जाती है। सनायपत्ती यदि महीने में एक आद बार ले ली जाए तो बहुत अच्छा होता है पर रोज लेने से यह आपके पेट को तो साफ करता ही है साथ ही आपके खाने में मौजूद विटामिंस और मिनरल्स को भी खींच कर बाहर निकाल देता है इसलिए त्रिफला या अन्य किसी आयुर्वेदिक दवा का सेवन करने से पहले वैद्य की सलाह अवश्य ले लें।

- त्रिफला पाउडर में मिलावट की कई शिकायतें मिलती हैं इसलिए किसी अच्छे ब्रांड का ही त्रिफला चूर्ण खरीदें या स्वयं घर पर इसे बनाएं।

- Cytochrome P450 (CYP) substrate drugs लेने वाले मरीजों को भी इसे नहीं लेना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment