Create

यूरिक एसिड के साथ जोड़ों के दर्द में भी फायदेमंद साबित होती है मेथी, इस तरह करें सेवन-Uric Acid Ke Sath Joint Pain Me Bhi Faydemand Hoti Hai Methi

यूरिक एसिड के साथ जोड़ों के दर्द में फायदेमंद साबित होती है मेथी, ऐसे करें सेवन(फोटो-Sportskeeda hindi)
यूरिक एसिड के साथ जोड़ों के दर्द में फायदेमंद साबित होती है मेथी, ऐसे करें सेवन(फोटो-Sportskeeda hindi)

मेथी (Methi) लगभग सभी घरों के रसोई में मौजूद होती है। मेथी के तड़के से सब्जी स्वादिष्ट बन जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं, मेथी के इस्तेमाल से न सिर्फ सब्जी स्वादिष्ट बनती है, बल्कि यह स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद मानी जाती है। मेथी का सेवन करने से यूरिक एसिड (Uric Acid) तो कम होता ही है, साथ ही जोड़ों के दर्द से भी छुटकारा मिल जाता है। क्योंकि मेथी में कई ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत लाभदायक साबित होते हैं। मेथी में आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट जैसे गुण पाए जाते हैं। जानिए यूरिक एसिड और जोड़ों के दर्द की शिकायत होने पर मेथी का किस तरह सेवन करना चाहिए।

यूरिक एसिड के साथ जोड़ों के दर्द में भी फायदेमंद साबित होती है मेथी, इस तरह करें सेवन (Uric Acid Ke Sath Joint Pain Me Bhi Faydemand Hoti Hai Methi In Hindi)

यूरिक एसिड होता है कंट्रोल

कई बार बॉडी में एसिड कि मात्रा अधिक हो जाती है, जिसे किडनी (Kidney) अच्छी तरह से फ़िल्टर नहीं कर पाती है, इसी वजह से एसिड खून में जमने लगता है। जिससे यूरिक एसिड की शिकायत हो जाती है। लेकिन अगर आप रोजाना मेथी का सेवन करते हैं, तो इस बीमारी से काफी हद तक छुटकारा पा सकते हैं। क्योंकि मेथी एंटी-इंफ्लेमेट्री और कई तरह के एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है। जो यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मददगार साबित होते हैं।

जोड़ों के दर्द में फायदेमंद

मेथी के सेवन से जोड़ों के दर्द (Joint Pain) से छुटकारा मिल जाता है। क्योंकि मेथी में कैल्शियम और आयरन की काफी अधिक मात्रा पाई जाती है। इसलिए अगर आप मेथी का सेवन करते हैं, तो इससे हड्डियां मजबूत होती है और जोड़ों के दर्द से भी छुटकारा मिलता है। साथ ही मेथी का सेवन करने से अर्थराइटिस की शिकायत होने का खतरा भी कम हो जाता है।

ऐसे करें मेथी का सेवन

रात में सोने से पहले एक गिलास पानी से एक चम्मच मेथी दाने का भिगोकर रख देना चाहिए, फिर अगले सुबह मेथी दाने को छान कर अलग कर लेना चाहिए, इसके बाद मेथी के पानी को गुनगुना कर के सुबह खाली पेट पी लेना चाहिए। आप चाहे तो मेथी दाने को चबा चबाकर खा भी सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment