Create

विटामिन 'ए' की कमी से होने वाले रोग: Vitamin A ki Kami Se Hone Wale Rog

फोटो- ONLYHEALTHFITNESS
फोटो- ONLYHEALTHFITNESS
reaction-emoji
Naina Chauhan

विटामिन-ए शरीर के लिए बहुत ही जरूरी है। अगर शरीर में विटामिन-ए की कमी हो जाए तो इसकी वजह से कई समस्या हो सकती है। इसलिए ध्यान रखना चाहिए कि शरीर में किसी भी विटामिन की कमी न होने पाए। अगर किसी को लगता है कि उसके शरीर में विटामिन-ए की कमी है तो इसकी पूर्ति के लिए हरी सब्जियां व फल खाना चाहिए, क्योंकि फलों, सब्जी तथा अन्य खाद्य पदार्थो में विटामिन-ए पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: दूध और चना खाने के फायदे: Doodh Aur Chana Khane Ke Fayde

विटामिन-ए के लिए स्त्रोत-

अंडा, दूध, गाजर, पालक, पपीता , दही, सोयाबीन, शकरकंद, चुकंदर, शलजम,आम, तरबूज, चीकू, राजमा के साथ-साथ और अन्य पत्तेदार हरी सब्जियां शामिल हैं।

विटामिन ‘ए’ की कमी से होने वाले रोग ? (Vitamin A Deficiency Diseases)

विटामिन ‘ए’ की कमी से लोगों को कई समस्या हो सकती है जैसे कि- अंधापन, एनीमिया, इम्युनिटी सिस्टम(immunity system) कमजोर होना, पेशाब की नली में संक्रमण और श्वसन प्रणाली में संक्रमण हो सकता है।

विटामिन ‘ए’ की कमी दूर करने के लिए इलाज-

अगर किसी को कोई गंभीर बीमारी नहीं है तो विटामिन ‘ए’ की कमी को आसानी से पूरा किया जा सकता है। इसके लिए विटामिन ‘ए’ युक्त आहार लेने चाहिए। व्यक्ति को उन सब्जियों का सेवन करना चाहिए, जिसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन ‘ए’ पाया जाता है। लोग अपने डॉक्टर की सलाह से विटामिन ए की इंजेक्शन लगाते है। साथ ही विटामिन ‘ए’ की टेबलेट खाना खाने के बाद ले सकते है।

इसे भी पढ़ें: गुड़हल के फूल के फायदे: Gudhal ke Phool ke Fayde

विटामिन ‘ए’ की कमी के क्या कारण है-

व्यक्ति के शरीर में विटामिन ‘ए’ की कमी कई कारण हो सकते है जैसे- अगर किसी को लीवर की बीमारी है तो उसमें विटामिन ‘ए’ की कमी हो सकती है। टीबी, यूरिन इन्फेक्शन, कैंसर, निमोनिया, किडनी के संक्रमण के बार-बार पेशाब आने लगता है। बार बार पेशाब आने के कारण विटामिन ‘ए’ की कमी होने लगती है। वहीं गर्भवती महिला और नवजात बच्चा व स्तनपान करने वाली महिला में विटामिन ‘ए’ की आंशका बनी रहती है।

इसे भी पढ़ें: पैर की सूजन का इलाज: Pairo ke Sujan Ka Ilaj

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...