Create
Notifications

वजन घटाने के लिए करें ये काम, जल्द होंगे फिट: wajan ghatane ke liye karein ye kaam, jald honge fit

फोटो: टाइम्स ऑफ इंडिया
फोटो: टाइम्स ऑफ इंडिया
Amit Shukla

सही वजन होना जरूरी है लेकिन जरूरत से ज्यादा वजन होना सेहत के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। बढ़ा हुआ वजन बीमारियों का घर होता है और इंसान को परेशानी में ड़ाल देता है। इस स्थिति में इंसान को अच्छा नहीं लगता है लेकिन अमूमन कई लोग ऐसा कोई कदम नहीं उठाते हैं जिससे परेशानी बढ़ती जाती है।

ये भी पढ़ें: कोरोनावायरस से परेशान हैं तो इस डाइट का पालन करें: Coronavirus se pareshaan hain to is diet ka paalan karein

ऐसे में फिर इंसान या तो जिम को अपना घर बना लेता है या फिर एकदम ही खाने को कम करने की कोशिश करता है। ये दोनों ही कदम गलत हैं क्योंकि एकदम से किया गया कोई भी बदलाव सेहत के लिए अच्छा नहीं हो सकता है। आप किसी भी कदम को आराम से लें और आगे बढ़ते रहें।

ये भी पढ़ें: इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए खाएं हलवा: Immunity ko badhaane ke liye khaayein halwa

यदि आप दौड़ते हैं तो आप ये जानते होंगे कि लगातार और तेज भागने से आप अपनी साँस को लेने में परेशानी महसूस कर सकते हैं। वहीं अगर आप आराम से दौड़ते हैं तो आप लगातार और बिना किसी परेशानी के दौड़ सकते हैं। वजन घटाने में भी आपको यही कदम उठाना चाहिए जिसके बारे में हम आपको बताने वाले हैं।

वजन घटाने के लिए करें ये काम

32 बार खाना चबाएं

एक कहावत है कि 'ड्रिंक योर फूड' और इसका अर्थ है कि आपको अपने खाने को इस स्तर तक पतला कर लेना चाहिए कि वो पानी की तरह आपके खाने की नली से होकर गुजरे। हम में से बहुत सारे लोग या तो एकदम खाना कम कर देंगे या डाइट बदल लेते हैं लेकिन अगर आप 32 बार खाना चबाएंगे तो आपको असर दिखने लगेगा।

आराम से खाना खाएं

आपने ये सारी मेहनत और ये खाना शरीर के लिए ही बनाया है लेकिन अगर आप इसका स्वाद लेकर नहीं खा रहे हैं तो फिर आप क्या कर रहे हैं? जबान पर स्वाद तंत्रिकाएं इसलिए ही दी गई हैं ताकि वो आपके खाने के स्वाद को महसूस कर सकें और आपको भी उसका एहसास करा सकें। जल्दी खाने से आप ना तो खाने को पचा पाते हैं और ना ही स्वाद तंत्रिकाओं को उनका काम करने देते हैं।

फाइबर और लिक्विड को खाने का हिस्सा बनाएं

ऐसा कई बार होता है कि लोग एक साथ बहुत ज्यादा खाना खा लेते हैं और उन्हें ये लगता है कि उन्होंने अपने शरीर को वो सारी ऊर्जा और भोजन दे दिया जिसकी उसे जरूरत थी। ऐसा ना करें और भले ही आप दिन भर में छह बार खाना और कम मात्रा में खाएं लेकिन एक साथ अपने पेट पर इतना भार ना ड़ालें। फाइबर और लिक्विड का इस्तेमाल ज्यादा करें।

ये भी पढ़ें: डायबिटीज मेलिटस से बचने के लिए ये करें: Diabetes Mellitus se bachne ke liye ye karein


Edited by Amit Shukla

Comments

Fetching more content...