Create

ब्रिटेन की एम्मा ने जीता US Open, ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली क्वालिफायर बनीं

विजेता ट्रॉफी के साथ एम्मा रदुकानु।
विजेता ट्रॉफी के साथ एम्मा रदुकानु।

2021 का यूएस ओपन इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है। महिला सिंगल्स के ऐतिहासिक फाइनल में ब्रिटेन की 18 वर्षीय एम्मा रदुकानु ने सीधे सेटों में कनाडा की 19 वर्षीय लेयला फर्नान्डिज को हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। एम्मा क्वालिफायिंग टूर्नामेंट जीतकर यूएस ओपन के मेन ड्रॉ में खेल रहीं थीं, और किसी भी ग्रैंड स्लैम को जीतने वाली पहली क्वालिफायर बन गई हैं। एम्मा ने मुकाबला 6-4, 6-3 से अपने नाम किया। खास बात ये है कि ये एम्मा का पहला यूएस ओपन है।

नहीं गंवाया एक भी सेट

विजयी शॉट लगाने के बाद एम्मा भी हैरान हो गईं।
विजयी शॉट लगाने के बाद एम्मा भी हैरान हो गईं।

फाइनल से पहले 150वीं विश्व रैंकिंग वाली एम्मा ने पूरे यूएस ओपन में एक भी सेट नहीं गंवाया था, और फाइनल में भी यही हुआ। पहले सेट में एम्मा और लेयला के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली, और दोनों खिलाड़ियों ने बराबर की मेहनत की। लेकिन लेयला के 38 के मुकाबले एम्मा ने 43 प्वाइंट जीते और सेट 6-4 से अपने नाम कर लिया। वहीं दूसरे सेट में एम्मा ने लेयला से ज्यादा नेट प्वाइंट और ब्रेक प्वाइंट जीतकर सेट 6-3 से अपने नाम कर खिताब जीत लिया। एम्मा ने शानदार Ace लगाकर अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता।

नाम किए कई रिकॉर्ड

एम्मा की जीत के साथ ही उन्होंने कई रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए। एम्मा पहली क्वालिफायर खिलाड़ी हैं जिन्होंने किसी ग्रैंड स्लैम को जीता है। ब्रिटेन के लिए 1968 में वर्जीनिया वेड के बाद किसी महिला खिलाड़ी ने यूएस ओपन ग्रैंड स्लैम सिंगल्स खिताब जीता है।

ब्रिटेन के लिए 1968 में यूएस ओपन जीतने वाली वर्जीनिया वेड ने एम्मा को बधाई दी।
ब्रिटेन के लिए 1968 में यूएस ओपन जीतने वाली वर्जीनिया वेड ने एम्मा को बधाई दी।

Open Era में पहली बार ऐसा हुआ है कि किसी खिलाड़ी ने अपने करियर के दूसरे ही ग्रैंड स्लैम में खेलते हुए खिताब जीता हो। एम्मा ने इसी साल विम्बल्डन के जरिए ग्रैंड स्लैम करियर की शुरुआत की थी और पहले यूएस ओपन में खेलते हुए खिताब अपने नाम कर लिया।

उपविजेता लेयला ने बांधी उम्मीद

उपविजेता ट्रॉफी के साथ कनाडा की लेयला फर्नान्डिज।
उपविजेता ट्रॉफी के साथ कनाडा की लेयला फर्नान्डिज।

एम्मा की प्रतिद्वंदी लेयला फर्नान्डिज भी करियर का पहला ग्रैंड स्लैम फाइनल खेल रही थीं। 73वीं विश्व रैंकिंग वाली लेयला भले ही खिताब नहीं जीत पाईं हो लेकिन जिस तरह पूरे टूर्नामेंट में बड़े-बड़े दिग्गजों को लेयला ने मात दी, वो फैंस को हमेशा याद रहेगा। लेयला ने 2020 की चैंपियन नेओमी ओसाका, पूर्व विश्व नंबर 1 एंजेलिक कर्बर जैसे खिलाड़ियों को हराकर फाइनल तक का सफर तय किया था। ऐसे में टेनिस जगत के दिग्गजों का और फैंस का मानना है कि ये दोनों खिलाड़ी निश्चित रूप से महिला टेनिस का भविष्य हैं।

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment