Create

जोकोविच के फ्रेंच ओपन में खेलने की उम्मीदें बढ़ीं, फ्रांस सरकार ने आसान किए कोविड नियम

नोवाक जोकोविच साल के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन में खेलते दिख सकते हैें।
नोवाक जोकोविच साल के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन में खेलते दिख सकते हैें।

दुनिया के नंबर 2 टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच मई में फ्रांस में होने वाले साल के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन में खेलते नजर आ सकते हैं। खबरों के मुताबिक फ्रांस की सरकार ने 14 मार्च से कोविड वैक्सीनेशन के नियमों में ढीलाई दी है, और इसके चलते न सिर्फ वैक्सीन के बिना एयरपोर्ट से एंट्री मिल सकती है बल्कि इनडोर जगहों पर एंट्री के लिए कोविड वैक्सीनेशन का सबूत दिखाना जरूरी नहीं होगा। ऐसे में अपने कोविड वैक्सीनेशन नहीं कराने वाले जोकोविच को अपना टाइटल डिफेंड करने का मौका मिल सकता है और फैंस इसके लिए काफी उत्साहित हैं। जोकोविच विश्व के टॉप 100 टेनिस खिलाड़ियों में बिना कोविड वैक्सीनेशन वाले इकलौते प्लेयर हैं।

साल के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन में भाग लेने से पूर्व ही जोकोविच ने साफ कर दिया था कि वो कोविड वैक्सीनेशन करवाने और उसके बारे में बताने के लिए बाध्य नहीं हैं। ऑस्ट्रेलिया में एंट्री के लिए जनवरी में कोविड वैक्सीनेशन जरूरी था। तब आयोजकों ने जोकोविच को खेलने के लिए खास अनुमति दी थी। जोकोविच मेलबर्न पहुंच भी गए थे, लेकिन कई दांव-पेंचों के बाद ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने उन्हें डिटेंशन में डाल दिया और जोकोविच बिना खेले वापस चले गए। इस पूरे मामले के बाद जोकोविच ने बीबीसी को दिए इंटरव्यू में साफ किया था कि वो वैक्सीन नहीं लगवाएंगे और अगर साल के अन्य ग्रैंड स्लैम जैसे फ्रेंच ओपन, विम्बल्डन या अन्य प्रतियोगिताओं में जाने के लिए कोविड वैक्सीनेशन आवश्यक होता है तो वो टूर्नामेंट में भाग ही नहीं लेंगे।

जोकोविच साल 2016 और 2021 में कुल दो बार फ्रेंच ओपन का सिंगल्स खिताब जीत चुके हैं।
जोकोविच साल 2016 और 2021 में कुल दो बार फ्रेंच ओपन का सिंगल्स खिताब जीत चुके हैं।

अब फ्रांसीसी सरकार की ओर से जारी नई गाइडलाइन के चलते जोकोविच के फैंस और शायद खुद उन्होंने राहत की सांस ली होगी। जोकोविच कुल 20 ग्रैंड स्लैम जीत चुके हैं और ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने के प्रबल दावेदार थे। उनकी गैर मौजूदगी में राफेल नडाल ने खिताब जीता और सबसे ज्यादा 21 एकल ग्रैंड स्लैम जीतने वाले पुरुष खिलाड़ी बनने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। जोकोविच ने हाल ही में अपनी नंबर 1 की रैंकिंग भी रूस के डेनिल मेदवेदेव को गंवा दी। ऐसे में फैंस का मानना है कि फ्रेंच ओपन में जोकोविच अगर खेलते हैं तो उन्हें काफी अच्छी टेनिस देखने को मिल सकती है। हालांकि कई टेनिस फैंस जोकोविच के वैक्सीन नहीं लगाने के फैसले का समर्थन बिल्कुल नहीं कर रहे।

क्योंकि जोकोविच गत विजेता हैं और ठीक फॉर्म में हैं तो वहीं किंग ऑफ क्ले के नाम से मशहूर स्पेन के राफेल नडाल रिकॉर्ड 13 बार ये खिताब जीत चुके हैं और गजब फॉर्म में चल रहे हैं। वहीं डेनिल मेदवेदेव भी खिताब को लेकर अपनी भूख दिखा रहे हैं। ऐसे में जोकोविच की फ्रेंचओपन में एंट्री न सिर्फ उनके बल्कि दुनियाभर के सभी टेनिस फैंस को बेहतरीन टेनिस देखने का मौका दे सकती है। हालांकि अभी जोकोविच की ओर से फ्रेंच ओपन में भाग लेने के विषय में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। फ्रेंच ओपन 22 मई से 5 जून के बीच पेरिस में खेला जाएगा।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment