Create

बार्सिलोना ओपन : टॉमी रोब्रेडो ने खेला करियर का आखिरी मुकाबला, मुसेटी, मैक्डोनाल्ड अगले दौर में

अपने आखिरी मैच में मिली हार के बाद दर्शकों का अभिवादन करते टॉमी रोब्रेडो।
अपने आखिरी मैच में मिली हार के बाद दर्शकों का अभिवादन करते टॉमी रोब्रेडो।

बार्सिलोना ओपन के पहले दौर में हार के साथ पूर्व विश्व नंबर 5 स्पेन के टॉमी रोब्रेडो ने अपने प्रोफेशनल टेनिस करियर को अलविदा कह दिया है। 39 साल के रोब्रेडो को स्पेन के ही बर्नाबे मिराले ने सीधे सेटों में 6-1,6-1 से मात दी। पिछले 24 सालों से प्रोफेशनल टेनिस खेल रहे रोब्राडो बार्सिलोना के ही रहने वाले हैं और ऐसे में अपने लोगों के सामने अपने करियर को समाप्त करते हुए काफी भावुक हो गए। रोब्राडो का आखिरी मैच देखने के लिए उनका परिवार मौजूद था।

🏆 Masters 1000 Champion (Hamburg 06)🥇 12 ATP singles titles📈 Former World No. 5🇪🇸 3 Davis Cup titles💪 7-time Grand Slam quarter-finalist💯 Over 100 weeks in the ATP top 10Nothing but respect for @TRobredo’s incredible career! https://t.co/Q1YNfCPh9H

रोब्राडो को हराने वाले मिराले दूसरे दौर में आठवीं वरीयता प्राप्त स्पेन के ही पाब्लो बुस्ता का सामना करेंगे। बुस्ता को पहले दौर में बाई मिली है। मिराले के अलावा स्पेन के एक और खिलाड़ी जॉमे मुनार ने इटली के जियान मोरोनी को 6-2, 6-4 से मात देते हुए राउंड ऑफ 32 में प्रवेश किया। मुनार अगले दौर में 9वीं वरीयता प्राप्त जियॉर्जिया के निकोलोज बसिलाशविली से भिड़ेंगे। अर्जेंटीना के फेडेरिको कोरिया, इटली के लोरेंजो मुसेटी, अमेरिका के मेकेंजी मैक्डोनाल्ड ने भी अपने मुकाबले जीतते हुए दूसरे दौर में जगह बनाई।

सितसिपास इस बार टॉप सीड हैं और दो बार इस टूर्नामेंट के उपविजेता रह चुके हैं।
सितसिपास इस बार टॉप सीड हैं और दो बार इस टूर्नामेंट के उपविजेता रह चुके हैं।

एटीपी 500 का स्तर प्राप्त बार्सिलोना ओपन में ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास को पहली वरीयता दी गई है। विश्व नंबर 5 सितसिपास ने हाल ही में मोंटे-कार्लो मास्टर्स जीतकर क्ले कोर्ट सीजन में जबर्दस्त शुरुआत की है और ऐसे में वो इस प्रतियोगिता में विजयी होने के प्रबल दावेदार हैं। सितसिपास साल 2018 और 2021 में यहां उपविजेता रहे थे और दोनों ही बार फाइनल में राफेल नडाल से हारे थे। सितसिपास को पहले दौर में बाई मिली है। सितसिपास के अलावा मियामी ओपन जीतने वाले स्पेन के 18 वर्षीय कार्लोस अलकराज, नॉर्वे के कैस्पर रूड भी प्रतियोगिता का हिस्सा हैं।

मेड्रिड ओपन के बाद ये स्पेन में आयोजित होने वाली दूसरी सबसे बड़ी टेनिस प्रतियोगिता है। स्पेन के पूर्व विश्व नंबर 1 राफेल नडाल ने रिकॉर्ड 12 बार इस खिताब को अपने नाम किया है। 2005 से 2009 तक लगातार चार साल नडाल ने इस चैंपियनशिप को जीता। इसके बाद 2011, 2012, 2013, 2016, 2017, 2018 और पिछले साल 2021 में भी नडाल यहां विजेता बने। इस सीजन पीठ की चोट के कारण नडाल टूर्नामेंट में नहीं खेल रहे हैं। प्रतियोगिता के आयोजन स्थल का सेंटर कोर्ट राफेल नडाल के नाम पर है।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment