ओलंपिक मेडलिस्‍ट साक्षी मलिक का आगामी नेशनल कैंप से जुड़ने को लेकर बड़ा सवाल 

साक्षी मलिक
साक्षी मलिक

ओलंपिक में ब्रॉन्‍ज मेडल जीतने वाली साक्षी मलिक ने शुक्रवार को स्‍पष्‍ट कर दिया है कि आगामी नेशनल कैंप में हिस्‍सा लेने में उनकी दिलचस्‍पी नहीं है, जब तक अन्‍य महिला पहलवान अपने हिस्‍सा लेने की पुष्टि नहीं कर देती। साक्षी मलिक ने एक न्‍यूज एजेंसी से बातचीत में कहा, 'अगर वहां कोई प्रतिस्‍पर्धा ही नहीं होगी, तो फिर कैंप से जुड़ने का मतलब ही क्‍या? मुझे पता चला है कि कई लड़कियों ने कैंप से जुड़ने से मना कर दिया है, तो मैं वहां क्‍या करूंगी और किसके साथ ट्रेनिंग करूंगी? नेशनल कैंप शुरू होने में अभी 10 दिन का समय बचा है, इसलिए मैं इंतजार कर रही हूं कि कौन आ रहा है और कौन नहीं।'

जब भारतीय कुश्‍ती महासंघ (डब्‍ल्‍यूएफआई) के अधिकारी से संपर्क किया गया तो उन्‍होंने कहा कि किसी को भी बिना उचित कारण के कैंप से हटने नहीं दिया जाएगा। अधिकारी ने कहा, 'संघ प्रमुख ब्रिज भूषण शरण सिंह ने पहलवानों के लिए काफी कुछ किया है। वह पहलवानों की परेशानियां सुनते हैं। सभी से विचार करने के बाद कैंप आयोजित कराने का फैसला किया गया, लेकिन अगर पहलवान अब बॉस जैसा बर्ताव करके हमें धोखा देंगे, तो कैसे चलेगा। हम उन्‍हीं पहलवानों को रूकने की अनुमति देंगे, जिनके पास वाजिब कारण होगा।'

साक्षी मलिक से पहले विनेश फोगाट जता चुकी हैं आपत्ति

साक्षी मलिक से पहले विनेश फोगाट ने नेशनल कैंप से हटने की जानकारी दी थी। विनेश फोगाट ने कोरोना वायरस के डर का हवाला देते हुए 1 सितंबर से लखनऊ में शुरू होने जा रहे कैंप से हटने की बात कही। विनेश फोगाट ने कहा था कि उन्‍होंने फेडरेशन से अकेले ट्रेनिंग करने की अनुमति मांगी है और कैंप से दूरी बनाने की मांग की है। सुशील कुमार भी अपने केंद्र छत्रसाल स्‍टेडियम में ट्रेनिंग कर रहे हैं। 8 वजन वर्ग में कुल 26 पहलवान एक लंबे तक चलने वाले कैंप में हिस्‍सा लेंगे। महिला कैंप लखनऊ में 15 पहलवानों की ट्रेनिंग के लिए लगेगा। पुरुषों का ट्रेनिंग कैंप सोनीपत में होगा। साई प्रोटोकॉल के मुताबिक, एथलीट्स, कोच और सपोर्ट स्‍टाफ को कैंप से जुड़ने के समय अनिवार्य कोविड-19 टेस्‍ट से गुजरना होगा और फिर 14 दिन पृथकवास में रहने के बाद ही वह अपनी ट्रेनिंग शुरू कर सकेंगे।

बता दें कि ओलंपिक के लिए क्‍वालीफाई कर चुके और क्‍वालीफाई करने के उम्‍मीदवारों के लिए 1 सितंबर से सोनीपत और लखनऊ में नेशनल कैंप आयोजित किया जा रहा है। साक्षी मलिक और विनेश फोगाट सहित महिलाओं को लखनऊ में ट्रेनिंग करनी होगी। पता हो कि महिलाओं का कैंप 50 किग्रा, 53 किग्रा, 57 किग्रा, 62 किग्रा और 68 किग्रा वर्ग में शुरू होगा, लेकिन डब्‍ल्‍यूएफआई इसमें 76 किग्रा को भी शामिल कर सकता है। ओलंपिक वजन वर्ग में 76 किग्रा भी शामिल है। गौरतलब है कि साक्षी मलिक ने 2016 में खेले गए रियो ओलंपिक्स में 58 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक जीता था।

App download animated image Get the free App now